Homeराज्यहरियाणातोशाम : देश के विभिन्न कौनों से लेकर विदेश तक राखी पहुंचाने...

तोशाम : देश के विभिन्न कौनों से लेकर विदेश तक राखी पहुंचाने की योजना तैयार

सुमन, तोशाम :
डाक विभाग ने रक्षाबंधन से पहले देश के विभिन्न कौनों से लेकर विदेश तक राखी पहुंचाने की योजना तैयार की है। राखी वाले लिफाफे को अलग बैग में बंद करके भेजा जाएगा। रक्षाबंधन 22 अगस्त को है। विभाग ने 18 दिन पहले ही डाकघरों में राखी भेजने के लिए स्पेशल लिफाफे की बिक्री शुरू कर दी है। डाक विभाग ने एक लिफाफे की कीमत 10 रुपए रखी है। राखी भेजने पर डाक टिकट अलग से लगाना पड़ेगा। पिछले साल कोरोना संक्रमण के कारण विदेश जाने वाली राखी समय से नहीं पहुंच पाईं थी, क्योंकि भारत से विदेश पहुंचने वाली डाक सामग्री को 18 दिन तक अलग रखा जाता था, उसके बाद डाक सामग्री का वितरण किया जाता था। ऐसा करने का मुख्य कारण ये रहा कि पार्सल सामग्री के साथ अगर कोरोना का कोई वायरस आ गया होगा, तो वह पर्याप्त समय मिलने से नष्ट हो जाए। मगर इस बार डाक विभाग ने विदेश में राखी समय पर भिजवाने की व्यवस्था की है।
एक-दो दिन में डाकघर पहुंच जाएंगे लिफाफे
पोस्टमास्टर फकीरचन्द ने बताया कि सावन के महीने में बारिश होती ही रहती है। डाक विभाग जमीन से लेकर जंगल तक बहनों की राखियां उनके भाइयों तक पहुंचाने का सबसे सशक्त माध्यम है। इसलिए इस बार तय किया गया कि 10 रुपए में 11  22 सेंटीमीटर का वाटरप्रूफ रंगीन डिजाइनदार लिफाफा बहनों के लिए न्यूनतम दर में उपलब्ध कराया जाए। राखी भेजने का शुल्क अलग से देना होगा। इस बार 22 अगस्त को रक्षाबंधन है।
लिफाफे पर नीचे दायीं ओर लिखा है : हैप्पी राखी
वाटरप्रूफ लिफाफे के बाएं हिस्से के ऊपरी हिस्से में भारतीय डाक विभाग का लोगो और रक्षाबंधन की डिजाइन के साथ अंग्रेजी में राखी लिफाफा और नीचे दाएं ओर हैप्पी राखी लिखवाया गया है। रंगीन डिजाइनदार इन लिफाफों को शेष डाक से अलग करने में समय की बचत होगी। इसके साथ ही समय से इनको निर्धारित पते पर पहुंचाने में भी डाकियों को सहूलियत होगी। राखी भेजने के लिए यह लिफाफे बारिश में सुरक्षा लिहाज से बहुत ही अच्छे हैं।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular