Homeराज्यहरियाणातोशाम: रक्तदान शिविर व पौधारोपण कार्यक्रम आयोजित

तोशाम: रक्तदान शिविर व पौधारोपण कार्यक्रम आयोजित

सुमन, तोशाम:
मंगलवार को ईशरवाल के उदमीराम परिवार ने मृत्युभोज जैसी कुप्रथा को लेकर बड़ा सन्देश देने का काम किया। पूर्व सरपंच स्व. ईश्वर सिंह की तेहरवीं पर मृत्युभोज न करके इस परिवार ने विशाल रक्तदान शिविर व पौधारोपण किया। उदमीराम परिवार के इस फैसले से सामाजिक कुप्रथा निषेध अभियान कमेटी के अभियान को बल मिला है। रक्तदान शिविर में सामाजिक कुप्रथा निषेध अभियान कमेटी ने पूर्व सरपंच स्व. ईश्वर सिंह के पुत्र सुरेंद्र चौधरी व मास्टर रामफल को सम्मानित किया और कुप्रथा पर किए इस प्रहार की प्रशंसा की। कमेटी ने कहा कि इस कार्य से समाज में जाएगा अच्छा सन्देश। इस मौके पर उदमीराम परिवार द्वारा सामाजिक कार्यों में योगदान के लिए विभिन्न गणमान्य लोगों को सम्मानित किया गया। इस मौके पर पहुंचे जिला मुख्यालय डीएसपी वीरेंद्र सिंह ने कहा कि मृत्युभोज एक सामाजिक कुप्रथा है। इस परिवार द्वारा तेहरवीं के दिन रक्तदान शिविर व पौधरोपण कर समाज को एक दिशा देने का काम किया है। उन्होंने कहा कि सामाजिक कुप्रथाओं के उन्मूलन के लिए युवा पीढी को आगे आना होगा। समृद्ध लोग मृत्युभोज न करके ऐसे आयोजन करेंगे तो निश्चय ही समाज में बदलाव आएगा।

पौधारोपण करते हुए डीएसपी ने कहा कि जीवन बचाने के लिए पौधारोपण जरूरी है। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि अधिक से अधिक पौधारोपण कर उनकी देखभाल भी करें। डीएसपी ने कहा कि पर्यावरण का संतुलन बनाए रखने के लिए पौधारोपण बहुत जरूरी है। डीएसपी वीरेंद्र सिंह ने कहा कि हम सभी का फर्ज बनता है कि पृथ्वी की खूबसूरती को बनाए रखने में अपना योगदान दें। उन्होंने युवाओं से अधिक से अधिक पौधे लगाने की अपील की। इस मौके पर प्रदीप बंसल ईशरवालिया, ईशरवाल के निवर्तमान सरपंच प्रतिनिधि सतबीर सिंह, कमेटी के सयोंजक सज्जन संडवा, महासचिव जेपी हसानिया, सुखबीर संडवा, शत्रुघ्न पायल, श्याम संकीर्तन मंडल प्रधान अनिल बागनवालिया, सतबीर बुशान, राजकुमार, मास्तर रामफल, सत्यवान, रोशनलाल,महाबीर, लाइफ सेवर्स ट्रस्ट के रवि मितल, सतबीर ईशरवाल, राजबीर, सुरेंद्र, धर्मपाल, जयपाल, विनोद, राजबीर नागल, सुमेर, बलवान, मनजीत, रामकुमार, विजयपाल, रणबीर, मेवासिंह, विपिन अग्रवाल, अमित अत्री, संजय चावला, मास्टर जगरोशन, कृष्ण बांगड़वा, सोमबीर चन्नी आदि उपस्थित थे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular