Homeराज्यहरियाणातोशाम : 72वां उपमंडल स्तरीय वन महोत्सव मनाया

तोशाम : 72वां उपमंडल स्तरीय वन महोत्सव मनाया

सुमन, तोशाम :

स्थानीय राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में वन विभाग द्वारा 72वां उपमंडल स्तरीय वन महोत्सव मनाया गया। कार्यक्रम में बतौर मुख्यातिथि पहुंचे एसडीएम मनीष कुमार फौगाट ने पौधारोपण कर महोत्सव का शुभारंभ किया। इसके बाद उपमंडल परिसर में स्थित मीटिंग हाल में प्रदेश स्तरीय वन महोत्सव कार्यक्रम यमुनानगर से मुख्यमंत्री मनोहरलाल और शिक्षा एवं वन मंत्री कंवरपाल गुर्जर के लाइव प्रसारण में भाग लिया। उपमंडल कार्यालय परिसर प्रांगण में भी पौधारोपण किया गया।

इस मौके पर एसडीएम मनीष कुमार फौगाट ने कहा कि मानव जीवन के लिए पेड़-पौधों का संरक्षण करना जरूरी है। पर्यावरण में आए संकट को देखते हुए प्रदेश सरकार पौधारोपण अभियान चला रही है। पर्यावरण की रक्षा पौधारोपण से ही की जा सकती है। उन्होंने कहा कि वनों की धुआंधार कटाई से वर्षा कम हो रही है जिससे जल संकट की स्थिति उत्पन्न हो गई है। अगर समय रहते लोग सजग नहीं हुए, तो इससे भी भयावह स्थिति सामने आ सकती है। प्रकृति के संतुलन के लिए हर एक व्यक्ति को पौधे अवश्य लगाने चाहिएं।

एसडीएम ने कहा कि जल, जंगल और जमीन की रक्षा करना हम सभी का दायित्व है, तभी विकास संभव है। एसडीएम ने कहा कि अन्य सरकारी विभागों द्वारा भी पौधारोपण किया जा रहा है। सभी लोगों को भी अपने घर एवं आसपास पौधे लगाने चाहिएं। पौधा हमारी जिदगी का हिस्सा है। पेड़ नहीं रहेंगे तो जिदगी नहीं रहेगी। पेड़ है तो जीवन है।

क्रेशर संचालकों से भी अपील
एसडीएम मनीष कुमार फौगाट ने खानक पंहुचकर क्रेशर जोन में भी पौधारोपण किया। उन्होंने क्रेशर संचालकों से अधिक से अधिक पौधरोपण करने की अपील की। इससे पहले एसडीएम ने उपमंडल कार्यालय परिसर में भी पौधरोपण किया। वन राजिक अधिकारी जयपाल राठी ने बताया कि वन महोत्सव के अवसर पर आज तोशाम रेंज के अंतर्गत वन विभाग के अलावा पंचायत सहित विभिन्न विभागों के सहयोग से एक एक लाख 40 हजार पौधे लगाए गए हैं। उन्होंने बताया कि गांवों में पंचवटी लगाए जाने का भी अभियान जारी है।

इस अवसर पर सरपंच देवराज गोयल, एसडीएम के रीडर धर्मबीर सिंह, डिप्टी वन राजिक अधिकारी दीपक कुमार, वन दरोगा प्रमोद कुमार, प्रवीण, निशांत, प्रदीप यादव, महेंद्र व संदीप कुमार के अलावा शिवकुमार, संजीव, मुकेश कुमार, शुभम, कुलदीप व सुखबीर कानूनगो, सुनील, राकेश, पिंकी, प्रदीप, राजेन्द्र जाखड़, माडूराम, राजबीर व सुबेसिंह पटवारी आदि अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular