Thursday, December 2, 2021
Homeराज्यहरियाणाभिवानी: फिर विवादों में बाल कल्याण परिषद की जमीन  

भिवानी: फिर विवादों में बाल कल्याण परिषद की जमीन  

करोड़ाें रुपए की जमीन को लेकर पहले भी हो चुका विवाद
किरण चौधरी बोली: भिवानी में नहीं होने दिया जाएगा गलत काम, सीएम से करूंगी इस मामले में बात
पवन शर्मा, भिवानी:
शहर में बाल कल्याण परिषद की जमीन को लेकर एक बार से फिर से चर्चा जोरों पर है। इससे पहले भी दस शो रूम बनाने के लिए सारी प्रक्रिया पूरी कर ली गई थी मगर तत्कालीन राज्यपाल ने इनको 2018 में रद्द कर दिया था। अब एक बार फिर से  इसी जमीन को 99 साल के पट्‌टे पर देने की तैयारी की जा रही है। इतना ही नहीं इसी भूमि के साथ लगती जन स्वास्थ्य विभाग के वाटर वर्कस के आसपास  शामलाती भूमि को भी देने की तैयारी लगभग पूरी हो चुकी है। इन दिनों में बाल कल्याण परिषद की जमीन काे 99 साल के पट्‌टे पर बेहद कम रुपयों में देने  चर्चा जोरों पर है। इतना ही नहीं इसी भूमि के साथ लगती शामलात की भूमि भी औने पौने दामों में देने के आरोप लग रहे हैं। गौरतलब है कि शहर में महम रोड पर बने बाल भवन स्कूल व रैड क्रॉस भवन भी बाल कल्याण परिषद की भूमि पर ही बने हैं। बाल भवन स्कूल के लिए जमीन को बाल भवन सोसायटी को एक रुपया लीज पर दिया गया था। जिसमें सभी सरकारी अधिकारियों के बच्चे स्कूल में पढ़ सकें। इस सोसायटी का चेयरमैन भी डीसी होता है। इसके अलावा इसी जमीन पर रैड क्राॅस का भवन भी बना हुआ है।
पहले भी हुआ है विवाद
2017 में प्रशासन की ओर से रैड क्रॉस के साथ लगती बाल कल्याण परिषद की भूमि पर दस शो रूम बनाने की प्रक्रिया शुरू हुई थी। मगर बाद में यह मामला सीएम दरबार तक पहुंचा था और 2018 इस पूरे प्रोजेक्ट को निरस्त कर दिया गया था। मगर अब फिर से यह मामला पूरे  शहर में चर्चा का विषय बना हुआ है। सूत्रों के अनुसार रजिस्ट्री करवाने प्रक्रिया तक जब चल रही थी तो तहसीलदार ने इससे मना कर दिया।
पूरा मामला रहता है  विवादों में
बाल कल्याण परिषद की जमीन का विवादों से चोली दामन का साथ है। इससे पहले भी रैडक्रॉस के साथ लगती जमीन पर ड्राइविंग टेस्ट के लिए मैदान बनाया गया था। इस पर लाखाें रुपए भी खर्च भी किए गए थे। मगर बाद में इसी जगह पर स्विमिंग पूल बना दिया गया और एक प्राइवेट संस्था को दे दिया गया। इतना ही नहीं एक होटल भी बनाया गया है। बाल भवन की जमीन को ही रैडक्रॉस को भी दे रखा है। उसमें एक मार्कट बनी हुई है। पहले भी विवाद हुआ है क्योकि रैडक्रॉस किराया जाता है जबकि बाल कल्याण परिषद की है। सात आठ साल पहले ड्राइविंग टैस्ट का ग्राउंड बनाया गया था। उसमें बीस लाख रुपए के आस पास इ दिशा से पैसे लगे थे। अब स्वीमिंग पूल बनाया गया है। जो की प्राइवेट संस्था को दिया गया है।  इस बारे में तोशाम से विधायक किरण चौधरी ने कहा कि पहले भी इस जमीन पर शो रूम बनाने का षडयंत्र रचा गया था। अब भी सीएम से बात करूंगी। भिवानी शहर में किसी भी कीमत पर गलत काम नहीं होने दिया जाएगा।
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments