Homeराज्यहरियाणाअस्थी विसर्जन करने आया युवक नहर में डूबा, Rescue करने आई Team...

अस्थी विसर्जन करने आया युवक नहर में डूबा, Rescue करने आई Team की नाव पलटने से दो और डूबे

प्रभजीत सिंह (लक्की), यमुनानगर :
हमीदा हेड पर पश्चिमी यमुना नहर में अस्थी विसर्जन करने आए युवक का पांव नहर में फिसल गया। वह डूबने लगा तो उसे बचाने के लिए मौके पर भेजी गई किश्ती पलट गई। किश्ती में चालक समेत छह लोग सवार थे। जिनमें से चार लोगों को तो बचा लिया गया परंतु किश्ती का चालक सुरेंद्र व अन्य युवक कैंप निवासी विक्की का कुछ पता नहीं चल पाया। गोताखोरों द्वारा दोनों की तलाश की जा रही है। इस घटना के बाद हमीदा हेड पर काफी संख्या में लोगों का जमावड़ा लग गया। घटना की सूचना पाते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस मामले की जांच जुटी है।

अस्थियां विसर्जन करते हुए डूबा था युवक

कैंप का सतेंद्र अपने मामा की अस्थियां विसर्जन करने के लिए हमीदा हेड पर पश्चिमी यमुना नहर किनारे आया था। जब वह अस्थी विसर्जन कर रहा था तो उसका पांव फिसल गया। वह गहराई में जाने लगा। क्योंकि आज नहर किनारे गणपति की प्रतिमाओं का विसर्जन भी होना है। इसलिए सुरक्षा के लिहाज से प्रशासन ने नहर में किश्ती के साथ बचाव दल को तैनात कर रखा था। इसलिए सूचना पाते ही किश्ती चालक सुरेंद्र भी मौके पर पहुंच गया। उस वक्त किश्ती में धर्मेंद्र पटवारी, कैंप का विक्की, टोनी, अनिल व एक होम गार्ड भी था। हेड के नजदीक जैसे ही पानी का बहाव तेज होता है वहां पर किश्ती का बैलेंस बिगड़ गया और वह पलट गई।

चालक व विक्की का नहीं लगा सुराग

जैसे ही किश्ती पलटी तो वहां मौजूद लोगों ने शोर मचा दिया। आसपास के लोग भी वहां पहुंच गए। जो लोग तैरना जानते थे वह नहर में कूद पड़े। लोगों की मदद से धर्मेंद्र, टोनी, अनिल व होम गार्ड को बचा लिया गया। परंतु चालक सुरेंद्र व विक्की का कुछ पता नहीं चल पाया। गोताखोरों द्वारा उसकी नहर में तलाश की जा रही है। घटना की सूचना पाते ही नहर में डूबने वालों के परिजन भी पहुंच गए। परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है।

प्रशासन ने की है भीड़ न जुटाने की अपील

नहर किनारे ही आज गणपति प्रतिमाओं का विसर्जन होना है। प्रशासन ने लोगों से अपील कर रखी है कि वह नहर किनारे भीड़ न जुटाए। अपने वाहन में आए और आराम से विसर्जन करके लौट जाएं। इसलिए प्रशासन ने नहर में किश्ती के साथ बचाव दल को तैनात कर रखा है। हर साल नहर में विसर्जन के दौरान लोगों के डूबने की घटनाएं हो जाती हैं जिन्हें गोताखोरों की मदद से बचा लिया जाता है।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments