Homeहरियाणापानीपतपानीपत पुलिस का साइबर जागरूकता अभियान लगातार जारी

पानीपत पुलिस का साइबर जागरूकता अभियान लगातार जारी

आज समाज डिजिटल, पानीपत:
पानीपत (Students in school made aware about cyber crime) जागरूकता से ही साइबर अपराध से बचा जा सकता है, साइबर ठगी का शिकार होने पर राष्ट्रीय साइबर क्राइम हेल्प लाइन नंबर 1930 पर अपनी शिकायत रजिस्टर्ड करा कर ठगी किए पैसे वापिस पा सकते है। इसके साथ ही यातायात नियमों की जानकारी देकर भी विद्यार्थियों को जागरूक किया। साइबर अपराध के बढ़ते मामलों को लेकर आमजन को इससे बचाने के लिए जिला पुलिस द्वारा विशेष जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। अभियान के दौरान बुधवार को पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन के कुशल मार्ग दर्शन में जिला पुलिस की साइबर सेल व यातायात पुलिस टीम द्वारा पिछले दिनों जिला के दर्जन भर स्कूलों में विद्यार्थियों व स्कूल स्टाफ को जानकारी देकर जागरूक किया जा चुका है।

आए दिन नए-नए तरीकों से लोगों को ठगा जा रहा है

बाबरपुर ट्रैफिक थाना प्रभारी इंस्पेक्टर मंजीत ने बताया कि आज साइबर अपराध चरम पर है आए दिन नए-नए तरीकों से लोगों को ठगा जा रहा है। साइबर अपराध करने वाले लोग बड़े ही चालाक किस्म के हैं। इससे बचने के लिए जागरूक होने की जरूरत है। वैसे साइबर सेल और साइबर हेल्प डेस्क गठित है, जो काम रही है। सोशल प्लेटफॉर्म को सावधानी और सतर्कता के साथ प्रयोग करें। आज जिस तरह से अपराधियों के द्वारा साइबर अपराध को अपराध का एक सशक्त माध्यम बनाकर प्रयोग किया जा रहा है, उससे बचने के लिए छात्रों को स्वयं जागरूक होकर दूसरों को भी जागरूक करना होगा।

सावधानी अपना कर बचा जा सकता है

साइबर सेल में तैनात सिपाही हनी सिंह व आवेश ने इस दौरान विद्यार्थियों को इंटरनेट बैंकिंग, ऑनलाइन फ्राड, वालेट/और यूपीआई संबंधित धोखाधड़ी से किस प्रकार की सावधानी अपना कर बचा जा सकता है इसके बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने फेसबुक हैकिंग, बारकोड के माध्यम से होने वाले फ्रॉड, व्हाट्सएप हैकिंग से बचाव, फर्जी वेबसाइट से होने वाले फ्रॉड के संबंध में सावधानियां बरतने की सलाह दी। सिम कार्ड के माध्यम से, एटीएम कार्ड बदलकर, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड के माध्यम से, बायोमैट्रिक,यूपीआई संबंधी फ्राड के संबंध में जानकारी देकर जागरूक किया गया।

यातायात नियमों का पालना करें और दूसरो को भी प्रेरित करें

बाबरपुर ट्रैफिक थाना प्रभारी इंस्पेक्टर मंजीत ने इस दौरान स्कूल स्टाफ एवं छात्रों को यातायात नियमों की जानकारी देते हुए बताया कि यातायात नियमों की पालन कर हम आर्थिक एवं शारीरिक रूप से सुरक्षित रह सकेंगे। वाहन चलाते समय थोड़ी सी लापरवाही ही हमारी जान को संकट में डाल देती है। इसलिए खुद भी यातायात नियमों का पालना करें और दूसरो को भी प्रेरित करें। दो पहियां वाहन पर हेलमेट जरूर पहने व चार पहियां वाहन चलाते समय सीट बेल्ट अवश्य लगाए, नशा करके वाहन न चलाए, वाहन चलाते समय मोबाईल फोन का प्रयोग ना करें, रेड लाइट जंप ना करें, निर्धारित गति सीमा में वाहन चलाएं अंडर ऐज किसी भी प्रकार का वाहन न चलाए इसके अतिरिक्त यातायात के सभी नियमों की पालना करे। स्कूल की प्रिंसिपल सुनीता बठला व मौजूद पूरे स्टाफ ने इस जागरूकता अभियान की सराहना करते हुए पुलिस अधीक्षक शशांक कुमार सावन व बाबरपुर ट्रैफिक थाना प्रभारी इंस्पेक्टर मंजीत व उनकी टीम का आभार व्यक्त किया।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular