Homeराज्यहरियाणाबिलासपुर : मिलावटी गुड़ के कारोबार पर रोक लगाने की मांग का...

बिलासपुर : मिलावटी गुड़ के कारोबार पर रोक लगाने की मांग का तेज संघर्ष

मिहा चैहल, बिलासपुर :

आनाज मंडी बिलासपुर में शनिवार को एक बार फिर क्षेत्र के सकैडों लोग जमा हुए बिलासपुर क्षेत्र में बिना गन्नें के केमिकल घटियां दर्जे की चीनी व सीरा डालकर बनाएं जा रहें मिलावटी जानलेवा गुड़ के कारोबार पर रोक लगाने की मांग को लेकर संघर्ष तेज करने का निर्णय लिया। गुरभजन सिंह, हरभजन सिंह संधु, धर्मपाल सिंह, अवतार सिंह, रामकरण, दिलबाग सिंह, जसमिन्द्र सिंह,जरनैल सिंह, गुरविन्द्र सिंह,अमरजीत सिंह, हरदीप सिंह, गुरमेल सिंह मियापुर व करेशन सिंह ने कहा कि बीते कल बिलासपुर शिव चौंक पर कुछ लोगों ने क्रेशर युनीयन के नाम पर मीटिंग कर कहा कि इस बार वह क्रेशर नही चलाएगें। के्रशर चलाना या नही चलाना उनका काम हैं। वह किसी क्रेशर संचालक या किसान के विरोधी नही हैं। सीजन में गन्नां क्रेश कर शुद्ध गुड़ बनाएं उन्हें कोई एतराज नही हैं। वह केवल उन लोगों का विरोध करते है जिन लोगों के पास के्रशर तक नही है उन्होंने केवल भठ्ठीयां लगाई हुई हैं।

जो गंन्ना सीजन बंद होने के बाद चलती हैं और घटियां दर्जे की चीनी, केमीकल व सीरा डालकर मिलावटी गुड़ बनाती हैं। और कहते है की यह गुड़ पशुओं के लिए बनाया जाता हैं। धर्मपाल चौहान ने कहा कि क्या पश्ओं के लिए मिलावटी गुड़ बनाया जाना सही हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के नाम एस.डी.एम कार्यलय में ज्ञापन देने व प्रशासन की जांच टीम द्वारा छापेमारी करने के बाद भी सुस्त कार्यवाही होने पर एक बार फिर लोगों ने मीटिंग कर फैसला लिया हैं की यदि अब भी मिलावटी गुड़ के कारोबार पर रोक नही लगाई गई तो वह आंदोलन तेज करेंगे सी.एम से मिलेंगे और जरूरत पड़ी तो कोर्ट का दरवाजा तक खटखटाएंगे। गुरभजन सिंह व हरभजन सिंह संधु ने कहा कि कुछ लेग किसानों व किसान युनीयन के नाम पर गल्त ब्यान बाजी कर रहें है। जबकि किसानों या किसान युनीयन का इससे कोई लेना देना नही हैं। यह क्षेत्र के सभी लोगों की मांग है कि मिलावटी गुड़ के कारोबार पर रोक लगाई जाएं । इस पर रोक लगने से गुड़ की मांग बढ़ेगी और किसानों का गन्ना सीजन में अच्छे दामों पर बिकेगा।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments