Homeराज्यहरियाणाStatement of Chief Minister Manohar Lal योग को सार्वजनिक जीवन का अंग...

Statement of Chief Minister Manohar Lal योग को सार्वजनिक जीवन का अंग बनाना चाहिए : मनोहर लाल

Statement of Chief Minister Manohar Lal

आज समाज डिजिटल, चंडीगढ़
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हमें योग को सार्वजनिक जीवन का अंग बनाना चाहिए। उन्होंने इस दिशा में व्यापक स्तर पर कार्य करने के लिए समाज के हर वर्ग का आह्वान किया। इस मौके पर केंद्रीय आयुष मंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने भी योग को विस्तार दिए जाने की दिशा में हरियाणा सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की। मनोहर लाल आयुष मंत्रालय के तत्वावधान में मोरारजी देसाई राष्ट्रीय योग संस्थान द्वारा विज्ञान भवन, दिल्ली में आयोजित ‘योग महोत्सव-2022’ कार्यक्रम में बोल रहे थे।

Statement of Chief Minister Manohar Lal

उन्होंने कहा कि “योग” निरोगी काया और अविचल मन तथा आत्मा को सात्विक करने का एक अद्भुत जरिया है। उन्होंने योग के माध्यम से अपने कार्यों में कुशलता लाने व सामाजिक जीवन में संतुलन लाने का आह्वान किया। मुख्यमंत्री ने योग को विश्वपटल पर पहचान दिलाने का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिया। हरियाणा सरकार द्वारा योग के साथ-साथ प्राचीन चिकित्सा पद्धतियों को भी विस्तार दिए जाने की दिशा में कार्य किया जा रहा है। हरियाणा में चेयरमैन डॉ जयदीप आर्य के नेतृत्व में योग आयोग का गठन किया गया है। प्रदेशभर में 1 हजार योग व्यायामशालाएं स्थापित की गई हैं। योग शिक्षकों की नियुक्ति की गई हैं।

Statement of Chief Minister Manohar Lal

योग शिक्षकों को संख्या 2 हजार तक बढ़ाई जा रही हैं। कुरूक्षेत्र में 94.5 एकड भू-क्षेत्र पर 1 हजार करोड रूपये की लागत से श्रीकृष्णा आयुष विश्वविद्यालय स्थापित किया जा रहा है। मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में आयुष इकाइयां प्रारंभ करने की प्रक्रिया जारी है। आयुष हैल्थ वेलनैस सेंटर योजना के अंतर्गत आयुर्वेदिक औषद्यालयों को आयुष हैल्थ वेवनैस सेंटर के रूप में अपग्रेड किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हरियाणा में योग को पाठ्यक्रम में शामिल किया गया।

Statement of Chief Minister Manohar Lal

मुख्यमंत्री ने आर्गेनिक कृषि क्षेत्र में किए जा रहे कार्यों के लिए सिक्किम राज्य की प्रशंसा की। केंद्रीय वन,पर्यावरण और जलवायु परिवर्तन व श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्राकृतिक जीवन पद्धति के आह्वान का विशेष रूप से जिक्र किया। इस मौके पर सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग, केंद्रीय आयुष व महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्री डॉ. मुंजपारा महेंद्रभाई कालूभाई, केंद्रीय विदेश एवं सांस्कृतिक कार्य राज्यमंत्री मीनाक्षी लेखी व परमार्थ निकेतन के अध्यक्ष स्वामी चिदानंद सरस्वती भी मौजूद रहे।

Statement of Chief Minister Manohar Lal

Read Also : Mukhyamantri Parivar Samridhi Yojana MMPSY के माध्यम से परिवारों को समृद्ध बना रही हरियाणा सरकार

Read Also : High Level Meeting Of PM Modi यूक्रेन संकट के बीच सुरक्षा तैयारियों की समीक्षा के लिए पीएम मोदी ने की बैठक

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular