Homeहरियाणासिरसापश्चिम बंगाल से तस्करी करके नाथूसरी चौपटा लाई गई 13 वर्षीय नाबालिग,...

पश्चिम बंगाल से तस्करी करके नाथूसरी चौपटा लाई गई 13 वर्षीय नाबालिग, पुलिस ने चंगुल से करवाया आजाद

तड़के 4 बजे मकान को घेरकर की छापेमारी, मोबाइल से पता चली नाबालिग की लोकेशन

आरोपी युवक ने नाबालिग को मानसिक और शारीरिक रूप से किया प्रताड़ित

एंटी ट्रैफिकिंग एनजीओ ने डीजीपी हरियाणा से मांगा था सहयोग, ऑनलाइन लूड्डो खेलते हुए ही थी मुलाकात

एक माह पहले पश्चिम बंगाल जाकर नाबालिग को चौपटा लेकर आया था युवक

हितेश चतुर्वेदी,सिरसा:

पश्चिम बंगाल से जबरन शादी के लिए तस्करी करके सिरसा के चौपटा में लाई गई 13 वर्षीय नाबालिग को बंगाल पुलिस ने चौपटा पुलिस के सहयोग से शनिवार तड़के छुड़वाया। बंगाल पुलिस ने नाबालिग को चौपटा लेकर आए युवक को भी गिरफ्तार कर लिया है। इसके बाद बाल कल्याण समिति सिरसा ने कागजी कार्रवाई पूरी करके नाबालिग को पश्चिम बंगाल पुलिस को सौंप दिया। पुलिस के साथ नाबालिग का चाचा भी आया हुआ था। अब बंगाल पुलिस नाबालिग को अपने यहां की साउथ 24 बाल कल्याण समिति समक्ष पेश करेगी। आरोपी युवक को भी पश्चिम बंगाल पुलिस गिरफ्तार करके अपने साथ ले गई है। जानकारी के अनुसार नाथूसरी चौपटा निवासी एक युवक ऑनलाइन लूडो खेलता था। इसी दौरान पश्चिम बंगाल के साउथ 24 निवासी युवती ऑनलाइन उसके साथ लूडो खेलने के लिए जुड़ गई। लुड्डो खेलते-खेलते दोनों चैटिंग करने लगे। इसके बाद युवक ने अपनी फोटो युवती के पास भेज दी। युवक का कहना है कि युवती ने उसे पश्चिम बंगाल बुलाया। एक महिला पहले युवक वहां गया और युवती को अपने साथ नाथूसरी चौपटा ले आया। युवती के परिजनों ने उसके लापता होने पर साउथ 24 पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवाई। शिकायत में बताया गया कि अज्ञात शख्स उनकी नाबालिग बेटी का अपहरण करके ले गया है।

डीजीपी ने एसपी को दिए थे निर्देश

इसके बाद पश्चिम बंगाल पुलिस ने नाबालिग के मोबाइल की लोकेशन जांचनी शुरू कर दी। पुलिस ने मिशन मुक्ति फाउंडेशन के निदेशक वीरेंद्र कुमार सिंह व एंटी ट्रैफिकिंग एनजीओ नई दिल्ली से संपर्क किया। नाबालिग की मोबाइल लोकेशन सिरसा के नाथूसरी चौपटा में मिली तो मिशन मुक्ति फाउंडेशन ने हरियाणा के डीजीपी से संपर्क किया। इसके बाद डीजीपी ने सिरसा एसपी को तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

नाबालिग का चाचा साथ आया था

शुक्रवार रात को पश्चिम बंगाल पुलिस नाबालिग के चाचा को लेकर सिरसा पहुंची। इसके बाद नाबालिग के मोबाइल की सटीक लोकेशन का पता लगाकर बंगाल पुलिस नाथूसरी चौपटा थाना पहुंची। यहां से चौपटा पुलिस ने तड़के 4 बजे नाथूसरी चौपटा स्थित एक घर में छापेमारी करके नाबालिग को युवक के चंगुल से आजाद करवाया और आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया।

सीडब्ल्यूसी सिरसा ने निभाई अहम भूमिका

इसके बाद बाल कल्याण समिति अध्यक्ष अनीता वर्मा व अन्य सदस्यों ने सारी कागजी कार्रवाई करके नाबालिग को पश्चिम बंगाल पुलिस को सौंप दिया। पश्चिम बंगाल पुलिस का कहना है कि बाल कल्याण समिति सिरसा ने पीड़िता की हिरासत प्रदान करने में अहम भूमिका निभाई है। एंटी ट्रैफिकिंग एनजीओ का मानना है कि ये मामला मानव तस्करी का लग रहा है। आरोपी युवक इस मामले में अकेला नहीं है। उसके साथ मानव तस्करी करने वाले लोग जुड़े होने की संभावना है।

पीड़िता को बंगाल पुलिस के हवाले किया

बाल कल्याण समिति अध्यक्ष अनीता वर्मा का कहना है कि उनके संज्ञान में शनिवार सुबह यह मामला आया था। पश्चिम बंगाल पुलिस आज सुबह नाथूसरी चौपटा पहुंची। इसके बाद चौपटा थाना पुलिस के सहयोग से पीडि़त नाबालिग को आरोपी युवक के चंगुल से छुड़ाया गया। पश्चिम बंगाल पुलिस ने बताया है कि  नाबालिग का यौन शोषण किया गया है। उसे आरोपी द्वारा मानसिक और शारीरिक रूप से प्रताड़ित किया गया है। नाबालिग को बंगाल पुलिस के हवाले कर दिया गया है।

-अनीता वर्मा, चेयरपर्सन सीडब्ल्यूसी सिरसा।

 

 

ये भी पढ़ें : मामूली कहासुनी को लेकर हत्या करने के मामले में 4 आरोपी गिरफ्तार, ब्लाईंड मर्डर की गुत्थी को सुलझाते हुए पुलिस ने काबू किए 4 आरोपी

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular