Homeराज्यहरियाणाशहजादपुर: कक्कड़ माजरा के तीखे स्पीड ब्रेकरों से ग्रामीण परेशान

शहजादपुर: कक्कड़ माजरा के तीखे स्पीड ब्रेकरों से ग्रामीण परेशान

नवीन मित्तल, शहजादपुर:
क्षेत्र के गांव कक्कड़माजरा के ग्रामीणों को इन दिनों गांव की फिरनी में बने तीखे स्पीड ब्रेकरों की समस्या के अलावा अन्य कई समस्याओं से दो चार होना पड़ रहा है। जिसके चलते ग्रामीणों में सरकार व प्रशासन के प्रति रोष व्याप्त है। ग्रामीण समस्या को लेकर पीएम विंडो पर भी शिकायत कर चुके हैं लेकिन समस्या ज्यों की त्यों बरकरार है।
ग्रामीण हरबंस सिंह, सुरमुख सिंह, भूपेन्द्र सिंह, अनिल कुमार, दयाल सिंह, ओमप्रकाश, भूषण धीमान, जगतार सिंह, कुलविंदर सिंह, सुखबीर सिंह, काला राम, रिंकू शर्मा, गुरजंट सिंह, आशू, विक्रम सिंह, मेहर चंद, सुभाष धीमान, गौरव, संजीव कुमार, कृष्ण धीमान, बेबीनाथ कश्यप आदि का कहना है कि गांव फिरनी बने तीखें स्पीड़ ब्रेकर दुर्घटनाओं का कारण बन रहे हैं। आये दिन कोई न कोई इन ब्रेकरों के कारण चोटिल हो रहा है। ग्रामीणों ने यह ब्रेकर हटवाने और ब्रेकर बनाने वाले के खिलाफ कार्यवाही किये जाने की मांग की है। ग्रामीणों के अनुसार उनके गांव की पंंचायती, शामलात भूमि पर लोगों ने नाजायज कब्जे किये हुए है। यहां तक की रास्तों पर कब्जे होने के कारण रास्ते भी तंग हो गये। उन्होने प्रशासन से मांग की कि पंचायती, शामलात भूमि की निशानदेही करवाकर नाजायज कब्जे हटवाये जायें। ग्रामीणों के अनुसार लोगों ने गलियों में ट्रेक्टर ट्राली, रेहडे, बुगी खडी करके रास्तों को तंग कर रखा है। ग्रामीणों ने बताया कि उनके गांव में बने शमशान घाट की हालत खस्ता है। उसमें जंगली बूटी व झाडियां खडी हैं। शमशान घाट में केवल एक टीन का शैड बना हुआ है जोकि जर्जर हालत में है। उन्होने कहा कि शमशानघाट में बरसात के मौसम में पैर रखना भी मुश्किल है। ग्रामीणों ने सरकार व प्रशासन से मांग की है कि उन्हे समस्याओं से निजात दिलाई जाये।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular