Homeराज्यहरियाणाशहजादपुर: अंग्रेजी और भूगोल विषयों का महत्व बढ़ा

शहजादपुर: अंग्रेजी और भूगोल विषयों का महत्व बढ़ा

नवीन मित्तल, शहजादपुर:  
राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय नारायणगढ़ में हरियाणा सरकार द्वारा एम ए अंग्रेजी, एम एस सी भूगोल एवं बी सी ए विषयों की शुरूआत इस समेस्टर से कर दी गयी है। कालेज के प्रिंसीपल संजीव कुमार ने बताया कि आनलाइन दाखिला 16 अगस्त से 26 अगस्त 2021 तक होगें और आनलाइन फार्म ही भरे जाएगें।
नारायणगढ़ कालेज के लिए बीसीए में 71 आनलाइन फार्म भरे गये है। बीएससी नॉन मेडिकल में 100, बीकॉम के लिए 223 तथा बीए 628 फार्म भरे गये है।
राजकीय महाविद्यालय के प्रिंसीपल संजीव कुमार ने बताया कि बी एस सी, बी कॉम आदि स्नातक संकाय भी उपलब्ध है एवं एम ए इतिहास, पीजीडीसीए तथा एम कॉम आदि स्नातकोत्तर विषय पहले ही सुचारु रूप से चल रहे है। वर्तमान सत्र 2021-2022 में उंच्चतर शिक्षा विभाग हरियाणा ने इलाके की कई दशकों की मांग को पूरा करते हुए तीन नए विषयों एम ए अंग्रेजी, एमएससी भूगोल एवं बी सी ए नये विषयों की शुरूआत कर दी है। उन्होंने बताया कि 1992 -1993  सत्र के दौरान संस्थान में विज्ञान संकाय को भी जोड़ा गया। वर्तमान में महाविद्यालय में बी ए में हिंदी, अंग्रेजी, अर्थशास्त्र, भूगोल, इतिहास, गणित, राजीनीतिक शास्त्र, संगीत, पंजाबी, संस्कृत, आदि विषय उपलब्ध है। गौरतलब है कि ग्रामीण क्षेत्र में राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय नारायणगढ़ के निर्माण की आधारशिला 17 अगस्त 1981  को तत्कालीन गवर्नर महामहिम श्री गणपत राव देवजी तपासे द्वारा रखी गयी थी।  इस वर्ष महाविद्यालय ने शिक्षा क्षेत्र में अग्रणी उत्कृष्ता के 39 वर्ष पूरे कर लिए है। प्रारम्भ में महाविद्यालय की शुरूआत दो संकायों कला एवं वाणिज्य के साथ हुई थी।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments