Homeदेशसीनियर एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप : भारत ने जीते 17 पदक, इनमें से...

सीनियर एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप : भारत ने जीते 17 पदक, इनमें से 13 म्हारे

आज समाज डिजिटल, अंबाला:
देश के पहलवानों ने एक बार फिर सीनियर एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में अच्छा प्रदर्शन किया। इस प्रतियोगिता में देश ने कुल 17 पदक जीते जबकि इनमें से 13 पदक अकेले (म्हारा देस) हरियाणा के पहलवानों ने देश की झोली में डाले। प्रतियोगिता में हरियाणा के पहलवानों ने प्रदर्शन बेहतर रहा।

भारत को मिला पांचवां स्थान

वर्ष 2021 के मुकाबले पदकों की संख्या में इजाफा हुआ है, लेकिन पदक तालिका में दो स्थान नीचे लुढ़क गया है। इस बार भारत को पांचवां स्थान मिला है। वर्ष 2021 में भारत 14 पदक के साथ तीसरे स्थान पर रहा था। तब भारतीय पहलवानों ने पांच स्वर्ण पदक जीते थे। वर्ष 2022 की सीनियर एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप का आयोजन 19 से 24 अप्रैल तक मंगोलिया के उलानबटोर शहर में हुआ। यह आयोजन एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप का 35 वां संस्करण था। भारत ने 17 पदक जीतकर पदक तालिका में पांचवां स्थान प्राप्त किया है। पदकों में एक स्वर्ण, पांच रजत और 11 कांस्य पदक शामिल है।

जापान पहले और ईरान दूसरे स्थान पर

जापान 10 स्वर्ण सहित 21 पदक के साथ पहले और ईरान 10 स्वर्ण के साथ 15 पदक जीतकर पदक तालिका में दूसरे स्थान पर रहा। प्रतियोगिता में हरियाणा के पहलवानों ने बेहतर प्रदर्शन कर देश को 13 पदक दिलाए। प्रतियोगिता का एकमात्र स्वर्ण पदक जहां सोनीपत के गांव नाहरी के लाडले रवि दहिया ने जीता, वहीं सोनीपत के बजरंग पूनिया, झज्जर के दीपक पूनिया व अंशु मलिक और पानीपत की राधिका ने रजत पदक जीतकर देश का मान बढ़ाया।

सोनीपत को मिले सबसे अधिक पदक

सीनियर एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप : भारत ने जीते 17 पदक, इनमें से 13 म्हारे
सीनियर एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप : भारत ने जीते 17 पदक, इनमें से 13 म्हारे

इसके साथ ही सोनीपत के नवीन, सरिता, सुनील व नीरज, झज्जर के विक्की व सचिन सहरावत, रोहतक के सत्यव्रत कादियान व मनीषा ने कांस्य पदक दिलाया। वर्ष 2021 में जहां एशियाई कुश्ती चैंपियनशिप में भारत का खाता नहीं खुल सका था, वहीं इस बार पांच पदक मिले हैं। हालांकि पांचों कांस्य पदक है। उसके बावजूद इस वर्ष भारत ग्रीको रोमन वर्ग में पदक जीतने में कामयाब रहा।

साई सेंटर में किया अभ्यास

पहलवानों ने प्रतियोगिता की तैयारी के लिए साई सेंटर सोनीपत व लखनऊ में पसीना बहाया था। जहां पुरुष पहलवानों का फ्री-स्टाइल व ग्रीको रोमन वर्ग का कैंप साई सेंटर सोनीपत में लगा था, वहीं महिलाओं का कैंप लखनऊ में लगा। साई सेंटर सोनीपत की क्षेत्रीय निदेशक ललिता शर्मा ने पदक विजेता पहलवानों को बधाई दी है।

मुख्यमंत्री ने दी पहलवानों को बधाई

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने भी पदक विजेता पहलवानों को बधाई दी। उन्होंने सोशल मीडिया पर संदेश भेजकर सभी पहलवानों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि पहलवानों ने 17 पदक जीतकर अभियान का शानदार समापन किया है। उन्होंने प्रतियोगिता के अंतिम दिन पदक दिलाने वाले दीपक पूनिया और विक्की चाहर को बधाई दी। इससे पहले उन्होंने रवि दहिया व बजरंग पूनिया को भी सोशल मीडिया पर बधाई दी थी।

भारत के पदक विजेता पहलवान

स्वर्ण पदक

रवि कुमार दहिया – 57 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल

रजत पदक

बजरंग पूनिया -65 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
दीपक पूनिया – 86 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
गौरव बालियान-79 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
अंशु मलिक – 57 किलो महिला फ्रीस्टाइल
राधिका – 65 किलो महिला फ्रीस्टाइल

कांस्य पदक

नवीन -70 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
विक्की -92 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
सत्यव्रत कादियान- 97 किलो पुरुष फ्रीस्टाइल
सुषमा -55 किलो महिला फ्रीस्टाइल
सरिता मोर – 59 किलो महिला फ्रीस्टाइल
मनीषा- 62 किलो महिला फ्रीस्टाइल
अर्जुन-55 किलो पुरुष ग्रीको रोमन
नीरज – 63 किलो पुरुष ग्रीको रोमन
सचिन सहरावत-67 किलो पुरुष ग्रीको रोमन
हरप्रीत सिंह संधू- 82 किलो पुरुष ग्रीको रोम0न
सुनील -87 किलो पुरुष ग्रीको रोमन

ये भी पढ़ें : दिव्य ज्योति जागृति संस्थान द्वारा हुडा ग्राउंड सेक्टर 13 करनाल में पांच दिवसीय श्री राम कथा का आयोजन
ये भी पढ़ें : हरियाणा-पंजाब सहित कई राज्यों में क्यों हुई बिजली गुल, गहराएगा संकट, ये हैं कारण
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular