Homeहरियाणापानीपतआर्य स्नातकोत्तर महाविद्यालय में कॉमर्स में करियर जागरूकता विषय पर सेमिनार

आर्य स्नातकोत्तर महाविद्यालय में कॉमर्स में करियर जागरूकता विषय पर सेमिनार

आज समाज डिजिटल, पानीपत:
पानीपत। आर्य पीजी कॉलेज में बुधवार को कॉलेज करियर गाइडेंस एवं प्लेसमेंट सेल, ईडी सेल व द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट ऑफ इंडिया, शाखा पानीपत के संयुक्त तत्वावधान में कॉमर्स में करियर जागरूकता विषय पर एक दिवसीय सेमिनार का आयोजन ओ.पी शिंगला सभागार में हुआ। सेमिनार में महाविद्यालय के कॉमर्स के विद्यार्थियों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया। सेमिनार के सफल आयोजन के लिए प्राचार्य डॉ. जगदीश गुप्ता ने करियर गाइडेंस एवं प्लेसमेंट सेल की संयोजक प्रो.आस्था गुप्ता, समन्यवक डॉ.रजनी शर्मा, ई.डी.सी संयोजक डॉ.मनीषा नागपाल, कॉर्पोरेट रिलेशन ऑफिसर प्रो.पंकज चौधरी सहित अन्य स्टाफ सदस्यों को बधाई दी।

पढ़ाई के साथ-साथ कैरियर जागरूकता अत्यंत आवश्यक

कार्यशाला में द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट ऑफ इंडिया, शाखा पानीपत के चेयरमैन सीए अंकुर बंसल, वाइस चेयरमैन सीए मितेश मल्होत्रा, सीए जगदीश धमीजा, सीए ममता प्रजापति, सीए भूपेंद्र दीक्षित व वक्ता आयुश्री खन्ना ने शिरकत की। प्राचार्य डॉ. जगदीश गुप्ता ने बाहर से आए सभी अतिथियों व वक्ताओं का आभार व्यक्त किया, साथ ही सभी विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य की कामना की। उन्होंने कहा पढ़ाई के साथ-साथ कैरियर जागरूकता अत्यंत आवश्यक है, विद्यार्थियों को अपना लक्ष्य निर्धारित करके आगे बढ़ना चाहिए।

 

 

आर्य स्नातकोत्तर महाविद्यालय में कॉमर्स में करियर जागरूकता विषय पर सेमिनार
आर्य स्नातकोत्तर महाविद्यालय में कॉमर्स में करियर जागरूकता विषय पर सेमिनार

कॉमर्स के क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनाएं

सेमिनार के वक्ता सीए आयुश्री खन्ना ने बताया की कॉमर्स के क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं, उन्होंने सीए प्रोफेशन के बारे में विस्तार से बताया, उन्होंने बताया मेहनत व समर्पण की भावना से सीए के लक्ष्य को आसानी से प्राप्त किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि हमें लक्ष्य पर टिके रहना चाहिए व निरंतर आगे बढ़ते रहना चाहिए। कारपोरेट रिलेशन ऑफिसर प्रो.पंकज चौधरी, डॉ.मनीषा नागपाल ने कहा विद्यार्थियों को समय रहते कैरियर के बारे में प्लानिंग कर लेनी चाहिए व करियर प्लानिंग करने के लिए स्किल, व्यवसायिक कौशल व शैक्षणिक नियोजन की आवश्यकता होती है।

टीम मैनेजमेंट व नेतृत्व क्षमता की आवश्यकता

उन्होंने बताया कि आज के युग में क्रिटिकल सोच, डिजाइन सोच, प्रॉब्लम सॉल्विंग स्किल, टीम मैनेजमेंट व नेतृत्व क्षमता की आवश्यकता होती है। उन्होंने बताया की जल्द ही कई विषयों पर आईसीएआई, शाखा पानीपत के साथ एमओयू भी साइन किए जाएंगे। इससे विद्यार्थियों में कौशल विकास होगा। मंच संचालन प्रो. गरिमा मल्होत्रा ने किया। सेमिनार के अंत में प्रो.आस्था गुप्ता ने सभी अतिथियों व वक्ताओं का आभार एवं धन्यवाद व्यक्त किया। इस अवसर पर आईक्यूएसी को-ऑर्डिनेटर प्रो.सतवीर सिंह, करियर गाइडेंस एवं प्लेसमेंट सेल की संयोजक प्रो.आस्था गुप्ता, समन्यवक डॉ. रजनी शर्मा, ई.डी.सी संयोजक डॉ.मनीषा नागपाल, कॉर्पोरेट रिलेशन ऑफिसर प्रो.पंकज चौधरी सहित अन्य स्टाफ सदस्य मौजूद रहे।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular