Homeराज्यहरियाणाअजीत की मौत के मामले में आया नया मोड़, चाचा की शिकायत...

अजीत की मौत के मामले में आया नया मोड़, चाचा की शिकायत पर चार के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज

आज समाज डिजिटल, Sampla News: नयाबांस से लुहारहेड़ी मार्ग पर मंगलवार सुबह कमरे में मृत अवस्था में मिले प्रवासी युवक की मौत के मामले में बुधवार को नया मोड़ आ गया है। मृतक के चाचा ने दो नामजद सहित चार लोगो पर डंडो से पीटपीट कर हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को शिकायत दी है।

अजीत मृत अवस्था में मिला 

पुलिस ने मृतक के चाचा की शिकायत पर हत्या का मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। गौरतलब है कि मंगलवार सुबह नयाबांस से लोहारहेड़ी मार्ग पर एक कमरे में बिहार के जिला सारन के गांव नवादा निवासी अजीत मृत अवस्था में मिला था। पुलिस ने आवश्यक कार्यवाही पूरी करते हुए शव को पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया था। इसी बीच मौत के दूसरे दिन बुधवार को मृतक का रिश्ते में चाचा नवादा निवासी रमोद कुमार पुलिस स्टेशन पहुंच गया तथा अजीत की हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस को शिकायत दी।

अजीत प्लाईवुड फैक्टरी में काम करता है

मृतक के चाचा रमोद का कहना था कि वह रोहद बाईपास पर प्लाईवुड फैक्टरी में काम करता है। वह अजीत लोहरहेड़ी मार्ग पर दिल्ली के नजफगढ़ जिले के गुमनहेड़ी गांव निवासी संजय यादव की दुकानद पर पिछले करीब नौ वर्षो से काम कर रहा है। वह एक जुलाई की शाम को अपने भतीजे से मिलने दुकान पर आ रहा था कि उसने देखा कि दुकानदार संजय यादव तथा उसका नौकर विकास सहित चार लोग डंडो से बुरी तरह से पीट रहे थे। वह हमलावरों के डर के मारे वहां से वापिस भाग आया। मंगलवार को वह कहीं अपने काम से चला गया।

शव को ले परिजनों को सौपा

रमोद कुमार का कहना था कि बुधवार को उसे पता चला कि उसके भतीजे की मौत हो गई है तथा पुलिस ने पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौप दिया। शव को लेकर जा रहे उसके भतीजे ब्रिजेश से पूरी जानकारी लेने के बाद रमोद कुमार पुलिस स्टेशन पहुंचा तथा दुकानदार संजय यादव व नौकर विकास सहित चार के खिलाफ डंडो से पीटकर हत्या करने का आरोप लगाया। पुलिस ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

पुलिस की कार्यवाही पूरी तरह से संदेह के घेरे में

अजीत हत्याकांड में सांपला पुलिस की कार्यवाही पूरी तरह से हत्या का मामला दर्ज होने के बाद संदेह के घेरे में है। पुलिस ने अजीत की मौत के बाद कमरे पर पहुंचकर बारीकी से छानबीन की थी। इसके बाद शव का पोस्टमार्टम करवाकर इत्तफाकिया मौत मानकर कार्यवाही पूरी करके कर्तव्य की इतिश्री कर ली थी। मृतक के चाचा ने अजीत की हत्या डंडो से पीटाई से होने का आरोप लगाते हुए शिकायत दी है। अहम सवाल यह है कि अगर डंडो से पिटाई की गई है तो जांच अधिकारी को कहीं चोट के निशान दिखाई नही दिये।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular