Homeहरियाणारोहतकवार्डो में गंदे पानी का जमावड़ा, नगरपालिका व प्रशासन नहीं कर रहा...

वार्डो में गंदे पानी का जमावड़ा, नगरपालिका व प्रशासन नहीं कर रहा कोई समाधान

प्रवीन दतौड़, सांपला:

कस्बे के वार्ड 8 व 9 के निवासियों का जीना दुभर हो गया है। करीब ढ़ाई माह से वार्डो में गंदे पानी का जमावड़ा बना हुआ है। कस्बेवासी समस्या को लेकर जनप्रतिनिधियों से लेकर प्रशासनिक अधिकारियों तक गुहार लगा चूके हैं। लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है। हर तरफ सें कोरे आश्वासनों के अलावा कुछ नहीं मिल रहा है। आलम यहां तक पहुुच गया है कि सीएमओ ऑफिस भी मुकदशर््ाक बना दिखाई दे रहा हैं। वार्डवासी डा.जगमोहन,अमित,सुरेंद्र ,बाला,बिमला,निहाल,काला,संजय सहित अन्यों का कहना है कि वे लगातार गंदे पानी की निकासी के लिए प्रशासन व नगरपालिका से गुहार लगा रहे हैं। लेकिन समस्या के समाधान की तरफ कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। अब अलाम ये हो गया है कि कई लोग वार्ड से पलायन करने की तैयारी कर रहे है। कस्बेवासियों का कहना है कि सांप व अन्य जहरीले जीव – जन्तू गलियों व घरों में भरे पानी पर तैरते सरेआम देखे जा सकते हैं। वार्ड में पानी निकासी नहीं होने के चलते बीमारियां भी पैर पसार रही हैं। वहीं बच्चों की पढ़ाई पर भी इसका विपरित असर पड़ रहा है। महिलाओं को रोजमर्रा के कार्य करने में परेशानी हो रही है। वहीं दुध,पानी जैसी आवश्यक जरूरत की सप्लाई भी वार्ड में नहीं हो पा रही है। इस बात को लेकर वार्ड म्में सरकार व प्रशासन के खिलाफ लगातार रोष पनप रहा है। जनप्रयास सेवा समिति के अध्यक्ष सुंदर ओहल्याण का कहना है कि उन्होने समस्या को लेकर ट्विटर के माध्यम से सीएमओ हरियाणा,अनिल विज, एमपी रोहतक ,डीसी रोहतक सहित अन्यों को अवगत किया । लेकिन समाधान नहीं हो पा रहा। समाजसेवी इंजिनियर नवीन सांपला का कहना है कि लेागों के घरों में पानी घुस चूका है। लेकिन सांपला की सरकार व प्रशासन अब भी अपनी कुंभकरणी नींद से जागने को तैयार नहीं दिखाई दे रहा । अब भी प्रशासन नहीं जागा तो मजबूरन उनको धरने पर बैठना पड़ेगा । वहीं वार्ड ८ से पार्षद रूपेश कुमार का कहना है वार्ड नंबर 8 व 9 में सीवर ओवर फ्लो होने के चलते समस्या ज्यादा विकराल हो रही है। पानी निकासी के लिए नगरपालिका व जनस्वास्थ्य विभाग द्वारा एक – एक पंप सैट लगाया गया है। जिसकों भी सही से ऑपरेट नहीं किया जा रहा । वार्डो में बीमारी लगातार अपना प्रकोप दिखा रही है।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular