Homeहरियाणारोहतकनहीं दी एक करोड़ की चौथ तो अंधाधुंध फायरिंग

नहीं दी एक करोड़ की चौथ तो अंधाधुंध फायरिंग

  • प्रॉपर्टी डीलर ने गाड़ी के पीछे छुपकर बचाई जान

संजीव कौशिक, Rohtak News:
शहर के चमारिया रोड स्थित रामराज नगर में उस समय दहशत फैल गई। जब बाइक सवार दो युवकों ने प्रॉपर्टी डीलर जयपाल पांचाल पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। आरोप है कि दो माह पहले वांछित बदमाश लोकेश उर्फ गोगी ने पांचाल से एक करोड़ की चौथ मांगी थी। हमले के दौरान प्रॉपर्टी डीलर ने गाड़ी के पीछे छिपकर जान बचाई। हमलावर गाड़ी पर चार-पांच राउंड फायरिंग करके फरार हो गए।

दो महीने पहले की थी मांग, कल वारदात

पुलिस के मुताबिक राजराज नगर निवासी जयपाल पांचाल ने दी शिकायत में बताया कि वह प्रॉपर्टी डीलिंग का कार्य करता है। दो माह पहले उससे लोकेश उर्फ गोगी बदमाश ने एक करोड़ की चौथ मांगी थी। न देने पर जान से मारने की धमकी दी गई। इस संबंध में सिटी थाने में केस दर्ज है। शुक्रवार की शाम को वह घर के बाहर बैठा था। थोड़ी दूरी पर उसकी गाड़ी खड़ी थी। करीब पांच बजे बाइक पर दो युवक आए। बाइक चला रहे युवक ने हेलमेट लगा रखा था, जबकि पीछे बैठे युवक ने मॉस्क लगाया हुआ था। थोड़ी दूरी पर युवकों ने बाइक खड़ी कर दी। इसके बाद उसके ऊपर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। गोली उसे न लगकर गाड़ी में लगी। उसने गाड़ी के पीछे छिपकर जान बचाई।

फायरिंग की आवाज सुनकर निकले लोग

गोलियों की आवाज सुनकर घर के साथ वाले निमार्णाधीन मकान से सुरक्षाकर्मी हवलदार सुरेंद्र, पीएसओ मुकंदर और मंजीत और प्रॉपर्टी डीलर का साथी संदीप दांगी व अन्य बाहर निकलकर आए। उनके आते ही बाइक सवार गोहाना बाईपास की तरफ फरार हो गए। उन्होंने गाड़ी से पीछा किया, लेकिन गाड़ी में गोली लगी होने के कारण युवकों को नहीं दबोच सके। उसे पूरा शक है कि एक करोड़ की चौथ न मिलने के कारण लोकेश उर्फ गोगी ने अपने साथियों से हमला करवाया है। गोगी व उसके साथियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

एफएसएल की टीम पहुंची घटनास्थल पर

दिनदहाड़े फायरिंग की सूचना पाकर डीएसपी मुख्यालय डॉ. रवींद्र सिंह मौके पर पहुंचे। साथ में सिटी थाना प्रभारी इंस्पेक्टर देशराज भी रहे। घटनास्थल पर फोरेंसिक एक्सपर्ट डॉ. सरोज दहिया को बुलाया गया। जांच में पता चला कि हमलावरों ने चार-पांच राउंड गोलियां चलाई हैं। हालांकि प्रॉपर्टी डीलर बाल-बाल बच गया।

एक साल से पुलिस को गोगी की है तलाश

पुलिस के रिकॉर्ड में गोगी की एक साल से गहन तलाश चल रही है। पुलिस उससे पिछले साल वैश्य कॉलेज के स्टेडियम में हुई पहलवान की हत्या में भी पूछताछ करना चाहती है। अभी तक आरोपी हाथ नहीं आ सका है। अब प्रॉपर्टी डीलर से एक करोड़ की चौथ मांगने व जानलेवा हमले के बाद पुलिस की टीमें सरगर्मी से गोगी की तलाश में जुट गई हैं। पुलिस ने एक करोड़ की फिरौती मांगने के आरोपी लोकेश उर्फ गोगी व उसके साथियों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया है। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की तलाश की जा रही है।

ये भी पढ़ें : कार्तिकेय शर्मा की जीत को लेकर समस्त ब्राह्मण समाज के लोगों ने मुख्यमंत्री का किया धन्यवाद

ये भी पढ़ें : खुल गया प्रगति मैदान सुरंग, पीएम मोदी ने किया टनल और अंडरपास का उद्घाटन

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular