Homeहरियाणारोहतकबस स्टैंड परिसर में हुआ कर्मचारियों का टकराव, माहौल तनावग्रस्त

बस स्टैंड परिसर में हुआ कर्मचारियों का टकराव, माहौल तनावग्रस्त

  • रोडवेज महाप्रबंधक कर रहे रोडवेज एस.सी. एंप्लाइज संघर्ष समिति ऑफ हरियाणा के साथ भेदभाव, राज्य कार्यालय से यूनियन का नाम मिटवाया : मनोज चहल
आज समाज डिजिटल, Rohtak News: रोडवेज एस.सी. एंप्लॉइज संघर्ष समिति ऑफ हरियाणा की राज्य कार्यकारिणी की आपात बैठक आज स्थानीय बस स्टैंड, यूनियन कार्यालय में हुई। मीटिंग के बाद महाप्रबंधक विकास नरवाल को प्रधान सचिव परिवहन विभाग के नाम ज्ञापन सौंपा जाना था।

संगठन द्वारा ज्ञापन

यूनियन के राज्य प्रधान मनोज चहल, राज्य चैयरमैन बलवंत सिंह व राज्य महासचिव संदीप बौद्ध ने संयुक्त बयान में बताया कि रोहतक डिपो महाप्रबंधक विकास नरवाल के द्वारा संगठन द्वारा ज्ञापन दिए जाने की पूर्व सूचना दिए जाने के बावजूद जातिवादी मानसिकता के चलते यूनियन का ज्ञापन नहीं लिया गया और अन्य यूनियनों के पदाधिकारियों को भडक़ाकर आपसी टकराव करवाया गया। दूसरी यूनियन के सदस्यों ने रोडवेज एस.सी. एंप्लॉइज संघर्ष समिति ऑफ हरियाणा के पदाधिकारियों के साथ हाथापाई की गई और यूनियन के मुर्दाबाद और जातिवादी नारे लगाए और विभाग का माहौल खराब किया गया।

बदले की भावना और जातीय दुर्भावना

महाप्रबंधक विकास नरवाल ने संगठन के प्रति जातिगत भेदभाव की नीति अपनाते हुए संगठन के पदाधिकारियों को परिवहन निदेशक वीरेंद्र दहिया की घोर जातिवादी मानसिकता के आदेश पर संगठन के पदाधिकारियों के साथ बदले की भावना और जातीय दुर्भावना से कार्य किया जा रहा है। जिसके चलते महाप्रबंधक विकास नरवाल सोची-समझी साजिश के तहत रोडवेज एस.सी एंप्लॉइज संघर्ष समिति ऑफ हरियाणा के यूनियन कार्यालय पर लिखे यूनियन के नाम को भी पेंट करवाकर मिटवा दिया। जबकि किसी अन्य यूनियन के विरूद्ध ऐसी कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिसके कारण अनुसूचित जाति के कर्मचारियों में गहरा रोष व्याप्त है।

पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों को प्रताडि़त

Employees Clash in Bus Stand Premises
Employees Clash in Bus Stand Premises

उन्होंने कहा कि इसकी शिकायत माननीय मुख्यमंत्री हरियाणा और राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग और पुलिस अधीक्षक को भी शिकायत की गई। उन्होंने बताया कि महाप्रबंधक यूनियन के पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों को प्रताडि़त करने का कार्य कर रहे हैं। मनोज चहल ने आशंका जताई है कि परिवहन निदेशक वीरेन्द्र दहिया और महाप्रबंधक विकास नरवाल यूनियन के पदाधिकारियों के विरूद्ध नौकरी खराब करने एवं तबादले जैसी कोई अन्य कार्यवाही का षडयंत्र भी कर सकते हैं।

जातीय भेदभाव की नीति अपनाकर जाति भेदभाव विरोध

गौरतलब है कि निदेशक महोदय के द्वारा काफी लंबे समय से संगठन और संगठन प्रतिनिधिमंडल के प्रति जातीय भेदभाव की नीति अपनाई जा रही है जिसका संगठन विरोध करता आ रहा है। परिवहन निदेशक और महाप्रबंधक रोहतक मिलकर अनुसूचित जाति के कर्मचारियों के साथ बदले की भावना से कार्य कर रहे हैं। बलवंत सिंह ने कहा कि संगठन महाप्रबंधक और परिवहन निदेशक की इस कर्मचारी विरोधी और कुंठित जातिवादी कार्यशैली का संगठन कड़ा विरोध करेगा और इसकी शिकायत माननीय मुख्यमंत्री महोदय एवं राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग में भी की जाएगी।

बैठक में मौजूद 

बैठक में राज्य महासचिव संदीप बौद्ध राज्य चैयरमैन बलवंत सिंह कर्मबीर रंगा अजमेर सिंह सतीश कुमार सुनील कुमार आनंद कुमार मेहर सिंह राजपाल सुरेश कुमार सुरेन्द्र कुमार सतपाल सिंह समेत अनेक कर्मचारी मौजूद रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular