Homeहरियाणारोहतकप्रो. सुमेधा धनी हुई ग्लोबल टीचर अवार्ड-2022 से सम्मानित

प्रो. सुमेधा धनी हुई ग्लोबल टीचर अवार्ड-2022 से सम्मानित

आज समाज डिजिटल, रोहतक:
महिला सशक्तिकरण संघ द्वारा उत्तर प्रदेश के श्रावस्ती नगर में आयोजित चौथे अन्तर्राष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन में महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय के पत्रकारिता एवं जनसंचार विभाग की प्रोफेसर सुमेधा धनी को ग्लोबल टीचर अवार्ड-2022 से सम्मानित किया गया। आयोजित कार्यक्रम में यह सम्मान म्यानमार मोनास्ट्री के मुख्य भिखू भदन्त ओभाषा ने प्रो. सुमेधा धनी को प्रदान किया। इस अवसर पर प्रो. सुमेधा धनी ने ‘बुद्धिस्ट आर्ट एंड आर्किटेक्चर’ विषय पर अपना पेपर भी प्रस्तुत किया। जिसमें उन्होंने नेपाल, पूर्वी भारत से लेकर अलेक्जेंड्रिया तक फैले बुद्धिस्ट स्मारकों, अशोक स्तंभों व स्तूपों के बारे में विस्तृत जानकारी सांझा की।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि प्रो. सुमेधा धनी महिला सशक्तिकरण संघ की सक्रिय सदस्य होने के नाते व बौद्ध धम्म के कार्यक्रमों में सक्रिय भूमिका निभाती आ रही हैं। वे बौद्ध धम्म की शिक्षाओं का देश-विदेश में प्रचार-प्रसार करती रही हैं। इसलिए उन्हें ‘ग्लोबल टीचर अवार्ड-2022’ से सम्मानित किया जा रहा है।

450 बौद्ध श्रद्धालुओं को ठहरने व खाने-पीने की सुविधाएं

ज्ञातव्य रहे कि म्यांमार से आये भदन्त ओभाषा 50 वर्षों से श्रावस्ती में रहकर बौद्ध धम्म अनुनायियों का मार्गदर्शन व उनकी धम्म यात्राओं को आगे बढ़ाते आ रहे हैं। उन द्वारा संचालित मोनेस्ट्री एक बार में 450 बौद्ध श्रद्धालुओं को ठहरने व खाने-पीने की सुविधाएं उपलब्ध करवाती है। श्रावस्ती से होकर श्रद्धालू कपिलवस्तु जोकि भगवान बुद्ध के माता-पिता का मूल शहर है व भगवान बुद्ध की जन्मभूमि लुम्बिनी (नेपाल) की यात्रा करते हैं व आगे कुशीनगर जोकि भगवान बुद्ध की महापरिनिर्वाण नगरी है का भ्रमण करते हैं। बाद में बौद्धगया होते हुए अपनी धार्मिक यात्रा सम्पन्न करते हैं।

इस अवसर पर प्रो. सुमेधा धनी ने कहा कि भगवान बुद्ध ने श्रावस्ती में 25 वर्षावास जोकि उनके जीवन के सर्वाधिक वर्षावास हैं, यहां गुजारे हैं। बौद्ध ग्रंथों में वर्णित डाकू उंगलीमाल के हृदय परिवर्तन की घटना भी यहीं पर घटित हुई है।

अन्तर्राष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन का आयोजन

भदन्त डॉ. चन्द्रकित्ती जोकि सम्राट अशोक सुभारती स्कूल ऑफ बुद्धिस्ट स्टडीज, सुभारती विश्वविद्यालय, मेरठ के प्राध्यापक हैं, उन्होंने इस चौथे अन्तर्राष्ट्रीय बौद्ध सम्मेलन का सफल आयोजन किया। इस कार्यक्रम में देश भर के अनेक राज्यों से हजारों बौद्ध अनुयायियों, प्रोफेसरों व रिसर्च स्कॉलर्स ने पेपर प्रस्तुत किये। म्यांमार, वियतनाम, लाओस आदि आस-पास के देशों के स्कॉलर्स व प्रोफेसरों ने भी भाग लेकर अपने विचार रखे। इस अवसर पर प्रो. सुमेधा धनी ने मंच का सफल संचालन भी किया।

ये भी पढ़ें :पुलिस ने एमबीबीएस छात्रों को उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के कार्यक्रम में जाने से रोका

ये भी पढ़ें : वाहन चोरी का एक आरोपी गिरफतार, चोरी की 2 मोटर साईकिल बरामद

ये भी पढ़ें : एक महिला ने चुनाव नतीजों में रिकॉर्ड तोड़ मत हासिल कर दिखाया अपनी जीत का दम

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular