Homeराज्यहरियाणारोहतक : मां-बाप के सपनों को समझें युवा : डॉ. श्योराण  

रोहतक : मां-बाप के सपनों को समझें युवा : डॉ. श्योराण  

संजीव कुमार, रोहतक :
अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर जाट कालेज की यूथ रेडक्रास इकाई द्वारा आनलाइन विशेष व्याख्यान का आयोजन किया गया। मुख्य वक्ता पंडित नेकीराम शर्मा गवर्नमेंट कालेज से सेवानिवृत प्राचार्य डॉ. वेदप्रकाश श्योराण रहे। इस विशेष व्याख्यान में जाट कालेज के प्राचार्य डॉ. महेश ख्यालिया ने मुख्य वक्ता का परिचय करवाते हुए सभी युवाओं को इस दिवस की बधाई देते हुए भविष्य में पढ़ाई और खेलों में ज्यादा जोर लगाने का संकल्प लेने का आह्वान किया। डॉ. ख्यालिया ने कहा कि जाट शिक्षा समिति के प्रशासक पंकज यादव (आईएएस) के मार्ग निर्देशन में युवाओं को प्रोत्साहन के लिए कई कार्यक्रम आयोजित करवाएं जाएंगे। मुख्य वक्ता डॉ. वेदप्रकाश श्योराण ने कहा कि युवा अपने मां-बाप के आंखों के सपनों को समझें तो उनकी पढ़ाई पूर्ण समपर्ण के साथ पूरी होगी और मनचाही मंजिल उन्हें हर हाल में मिलेगी। सभी युवा किसी भी कार्य को करने से पहले उसकी संपूर्ण योजना तैयार कर लें तो उनको जीवन में आगे बढने से कोई नहीं रोक सकता। उन्होंने सफलता पाने के लिए शार्टकट न अपनाकर आत्म विश्वास के साथ तैयारी करने का मूलमंत्र दिया। डा. श्योराण ने यह भी कहा कि अगर हम अपने बेकार के विचारों पर काबू करना सीख लेते हंै तो जीवन की बहुत से कठिनाईयां स्वत: ही समाप्त हो जाती हैं। डॉ. श्योराण ने कई सफल व सेवाभाव से ओतप्रोत जीवन के लिए कुछ सीखदायी कहानियां व संस्मरण सुनाकर सभी शिक्षकों व विद्यार्थियों का मन मोह लिया। डा. महेश ख्यालिया ने अंतरराष्ट्रीय युवा दिवस पर युवाओं से कहा कि वे संस्कारों के साथ-साथ मूल्यपरक शिक्षा पर ध्यान दें और एक बेहतर समाज के निर्माण में अपना योगदान दें तभी हम इस दिवस को सार्थक मना पाएंगे। कार्यक्रम का मंच संचालन डा. कांता राठी और धन्यवाद डा. प्रियंका ने किया। इस मौके पर आनलाईन व्याख्यान के को-आर्डिनेटर डॉ. विवेक दांगी, कन्वीनर डॉ. कांता राठी, आयोजक सचिव डॉ. प्रियंका के अलावा यूथ रेडक्रॉस के सभी काउंसलर्स, को- काउंसलर्स और विद्यार्थी भी जुड़े हुए थे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular