Homeराज्यहरियाणारोहतक: विवेकानंद पुस्तकालय में विश्वस्तरीय मुद्रित संसाधनों में होगी अभिवृद्धि, बैठक में...

रोहतक: विवेकानंद पुस्तकालय में विश्वस्तरीय मुद्रित संसाधनों में होगी अभिवृद्धि, बैठक में लिया गया फैसला

संजीव कुमार, रोहतक:

महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय विद्यार्थियों, शोधार्थियों तथा प्राध्यापकों के शैक्षणिक क्षमता संवर्धन के लिए विवेकानंद पुस्तकालय में विश्वस्तरीय ई-संसाधन, शोध पत्रिकाओं तथा अन्य मुद्रित संसाधनों में अभिवृद्धि करेगा। इस आशय का निर्णय मदवि कुलपति प्रो राजबीर सिंह की अध्यक्षता में आयोजित पुस्तकालय समिति की बैठक में बीती शाम लिया गया। मदवि कुलपति प्रो राजबीर सिंह ने कहा कि गुणवत्तापरक, स्तरीय प्रिंट जर्नल्स तथा ई जर्नल्स विवेकानंद पुस्तकालय में मुहैया करवाने के लिए प्रशासन प्रतिबद्ध है।

उन्होंने कहा कि ई जर्नल्स तथा ई संसाधनों के बेहतरीन उपयोग के लिए कार्यशालाओं का आयोजन भी किया जाए। कुलपति का कहना था कि वैश्विक शोध जर्नल्स के अध्ययन से न केवल ज्ञान विस्तारण होगा, बल्कि वैश्विक शोध दृष्टिकोण तथा नए रूझानों की भी जानकारी प्रापत होगी। विश्वविद्यालय के लाइब्रेरियन डा सतीश मलिक ने शैक्षणिक सत्र 2021-2022 के लिए विवेकानंद पुस्तकलय की योजनाओं की विस्तृत जानकारी प्रदान की। डा सतीश मलिक ने कहा कि प्रतिष्ठित एल्सेलिविर जर्नल की बैक फाइल्स भी विवेकानंद पुस्तकालय सबस्क्राइव करेगी। साथ ही, ग्रामरली तथा रेफरेड की सुविधा भी पुस्तकालय में उपलब्ध करवाई जाएगी।

शोध में चोरी को पकडने के लिए टर्निटन साफ्टवेयर भी पुस्तकालय में उपलब्ध रहेगी। इस बैठक में कुलसचिव प्रो गुलशन लाल तनेजा, डीन एकेडमिक एफेयरस प्रो नवरतन शर्मा, डीन (सीडीसी) प्रो ए एस मान, विभिन्न संकायो के अधिष्ठाता, आदि शामिल हुए। विश्वविद्यालय शैक्षणिक विभागों के अध्यक्षगण आनलाइन माध्यम से इस बैठक में शामिल हुए।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular