Thursday, December 2, 2021
Homeराज्यहरियाणारोहतक: नई पीढ़ी को सौंपनी होगी परंपरागत त्योहारों की विरासत

रोहतक: नई पीढ़ी को सौंपनी होगी परंपरागत त्योहारों की विरासत

संजीव कुमार, रोहतक:
लीला कला मंच द्वारा तीज के अवसर पर स्थानीय आर्य नगर में पारंपरिक झूले का कार्यक्रम आयोजित किया गया। पीपल के पेड़ पर झूला डाला गया। इस कार्यक्रम में आसपास की महिलाओं ने बढ़-चढकर भाग लिया और झूले का आनंद उठाया। झूला झूलने के साथ-साथ महिलाओं ने जमकर हरियाणवी लोकगीत जो विशेषकर तीज के अवसर पर गाए जाते हैं, का जमकर गायन किया। लीला कला मंच की अध्यक्ष एवं हरियाणवी फिल्मों की डांस डायरेक्टर लीला सैनी ने इस अवसर पर कहा कि मनोरंजन के साधनों में लगातार हो रही वृद्धि की वजह से नई पीढ़ी अपने परंपरागत त्योहारों को नजर अंदाज अथवा भूलती जा रही है। मंच का मुख्य उद्देश्य हरियाणवी कला संस्कृति को न केवल जीवित रखना है बल्कि इसका विकास करना है। इसी उद्देश्य से मंच द्वारा तीज के अवसर पर झूले का कार्यक्रम आयोजित किया गया है। उन्होंने कहा कि मंच द्वारा हर वर्ष इस तरह के कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments