Homeराज्यहरियाणादिल्ली - रोहतक के बीच रेलवे ट्रैक नहीं हो सका सुचारू

दिल्ली – रोहतक के बीच रेलवे ट्रैक नहीं हो सका सुचारू

  • रेल ट्रैक को सुचारू करने के लिए जींद, सोनीपत, गोहाना, झज्जर, बहादुरगढ़ से बुलाई टीम
  • आठ में से पांच डिब्बों उठा पाई टीम, तीन अभी बाकि
परवीन दत्तौड़। सांपला
दस घंटे बीत जाने के बाद में रोहतक दिल्ली रेल मार्ग सुचारू नही हो सका। हालांकि डीआरएम डिंपी गर्ग के नेतृत्व में करीब 200 से ज्यादा मैन पवार , दो बड़ी हैड्ररा, चार छोटी हैड्रारा,चार जेसीबी मशीन लगातार काम कर रही हैं। अभी तक करीब 40 से ज्यादा ट्रेनों का या तो रूट बदलना पड़ा या कैंसिल करना पड़ रहा हैं। रविवार सुबह करीब साढ़े दस बजे दिल्ली से सूरत जा रही मॉल गाड़ी 33156 खरावड़ यार्ड में हादसे का शिकार हो गई। हादसे में ट्रेन की आठ बॉगी पलट गई। शाम करीब आठ बजे तक पांच बॉगी को रेल ट्रैक से हटाया जा सका। अभी भी तीन बॉगी रेल ट्रैक पर पड़ी हुई हैं।

अन्य जिलों से बुलाई मैन पॉवर

मामले की गंभीरता को देखते हुए रेलवे ने रोहतक के अलावा जींद ,सोनीपत, गोहाना, झज्जर, बहादुरगढ़ से मैन पॉवर को बुलाना पड़ा। वहीं प्राइवेट कॉन्ट्रेक्ट से भी कुछ मशीनों को हायर किया गया। दस घंटे बीत जाने के बाद भी यातायात सुचारू नही हो सका। सोमवार तक यातायात सुचारू होने का अनुमान लगाया जा रहा हैं।

एक किलोमीटर दूर जाकर अन्य बॉगी हटाई

लोको पायलट सुरेश कुमार मीणा इंजन के साथ जुड़े करीब 46 बोगी को घटना स्थल से करीब एक किलोमीटर दूर अलग करके ले गया। पीछे गार्ड की बोगी के साथ तीन बोगी सुरक्षित हैं। गार्ड के रूप में सतपाल तैनात थे।फिलहाल डीआरएम डिंपी गर्ग के नेतृत्व में विभाग के अधिकारी व लेबर सहित सहायक पुलिस अधीक्षक कृष्ण लोहचाब भी मौके पर हैं। मौके पर पांच जेसीबी व पांच हैदरा सैंकड़ों मजदूरों के साथ काम में जुटी है।

 

 

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular