Homeराज्यहरियाणारोहतक: युवाओं को संबोधित करते हुए एआईडीवाईओ के प्रांतीय सलाहकार: राजेंद्र सिंह एडवोकेट

रोहतक: युवाओं को संबोधित करते हुए एआईडीवाईओ के प्रांतीय सलाहकार: राजेंद्र सिंह एडवोकेट

संजीव कुमार, रोहतक: 

छात्र संगठन एआईडीएसओ व युवा संगठन एआईडीवाईओ ने पेपर लीक व हरियाणा पुलिस भर्ती को रद्द करने के विरोध में मानसरोवर पार्क, रोहतक से लघु सचिवालय तक जोरदार प्रदर्शन किया। जिसकी अगुवाई एआईडीएसओ के प्रदेश अध्यक्ष हरीश कुमार व एआईडीवाईओ के प्रदेश सचिव बलवान सिंह ने की। संगठन ने उपायुक्त रोहतक के मार्फ़त मुख्यमंत्री हरियाणा को ज्ञापन दिया। युवाओं को संबोधित करते हुए एआईडीवाईओ के प्रांतीय सलाहकार राजेंद्र सिंह एडवोकेट ने कहा कि बार-बार पेपर लीक होना सरकारी सिस्टम के फेल होने का सबूत है। भर्ती रद्द करके हरियाणा सरकार बेरोजगार नौजवानों के साथ अन्याय एवं खिलवाड़ कर रही है। युवक और युवतियां नौकरी के लिए कड़ी मेहनत करते है। कोचिंग लेते है, काफी पैसे खर्च करते है, इन सबके बावजूद नौकरी की कोई गारंटी नहीं है। सरकार उनकी कठोर मेहनत और सपनों पर पानी फेर देती है। पुलिस पर अपार बजट खर्च करने के बावजूद भी इस तरह के अपराधों पर कोई रोक नही है। नतीजतन सरकार व प्रशासन  की आपराधिक  लापरवाही व भ्रष्टाचार का खामियाजा परीक्षार्थियों को भुगतना पड़ रहा  है।

बलवान सिंह, प्रदेश सचिव, एआईडीवाईओ ने कहा कि हरियाणा सरकार पहले भी कई भर्तियां रद्द कर चुकी है। प्रदेश में हज़ारों पद खली पड़े हैं जिन पर लंबे समय से कोई भर्ती नहीं की गई है। भाजपा सरकार की नीति रोजगार देने की नहीं बल्कि रोजगार को समाप्त करने की है। भाजपा के पिछले सात साल के रिपोर्ट कार्ड में भर्तियां करने की बजाय भर्तियां रद्द करना ज्यादा है। एआईडीएसओ के प्रदेश अध्यक्ष हरीश कुमार ने कहा कि सरकार ने सरकारी भर्तियों के नाम से करोड़ों रुपये लूटकर भर्ती को रद्द कर देने का गोरखधंधा चालू कर रखा है। बार बार नौजवानों को ठगा जा रहा है। प्रदेश के नौजवानों के साथ इस तरह का अन्याय संगठन किसी भी हालत में सहन नहीं करेगा। छात्रों और युवाओं का सच्चा संगठन होने के नाते एआईडीएसओ व एआईडीवाईओ प्रदेश के युवाओं के साथ कंधा से कंधा मिलाकर खड़ा है। संगठन ने युवाओं से रोजगार की मांग पर एकजुट होकर सतत आंदोलन की अपील भी की।

एआईडीएसओ व एआईडीवाईओ ने ज्ञापन के माध्यम से सरकार से मांग की है कि हरियाणा पुलिस परीक्षा पेपर लीक की सीबीआई जांच की जाए एवं अपराधी साजिशकर्ताओं को सार्वजनिक कर कड़ी सजा दी जाए, प्रत्येक आवेदक को 25000 रूपये क्षति पूर्ति के रूप में मुआवजा दिया जाए, सभी नौकरियों की तमाम प्रक्रियाएं आखिर तक निशुल्क हो, सभी बेरोजगारों को योग्यता अनुसार स्थाई रोजगार दिया जाए, हरियाणा में तमाम रिक्त पदों को तुरंत भरा जाए,  हरियाणा पुलिस सिपाही भर्ती की प्रक्रिया को पुनः चालू किया जाए, ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति ना हो इसके लिए ठोस कदम उठाए जाएं, पुलिस भर्ती को तुरंत बहाल किया जाए। प्रदर्शन में उमेश मौर्य, अजय सिंह, मंगल सिंह, राजेश गोस्वामी, राजेश, रोहित, अजित, मनीषा, विनीता, नरेश, विनोद, वजीर सिंह आदि शामिल हुए।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular