Homeहरियाणारेवाड़ीनियम 134ए के तहत शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चों को स्कूल ने...

नियम 134ए के तहत शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चों को स्कूल ने दिखाया बाहर का रास्ता

आज समाज डिजिटल,रेवाड़ी:
नियम 134-ए के तहत शिक्षा ग्रहण कर रहे करीब 25 बच्चों को एक निजी स्कूल ने फीस नहीं जमा कराने पर बाहर का रास्ता दिखा दिया। बच्चों के अभिभावकों ने उपायुक्त व जिला शिक्षा अधिकारी को शिकायत देकर स्कूल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की।

पीडि़त अभिभावकों ने जिला शिक्षा अधिकारी व उपायुक्त से की मुलाकात

नियम 134ए के तहत शिक्षा ग्रहण कर रहे बच्चों को स्कूल ने दिखाया बाहर का रास्ता
जानकारी के अनुसार दिल्ली रोड़ स्थित सूरज स्कूल में अनेक बच्चे नियम 134ए के तहत निशुल्क शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। इन बच्चों तथा इनके अभिभावकों पर लगातार फीस जमा कराने का दबाव बनाया जा रहा था। जब अभिभावकों ने फीस जमा नहीं कराई तो स्कूल के दरवाजे इन 25 बच्चों के लिए बंद कर दिए गए। स्कूल की मनमानी के विरोध में बुधवार को बच्चों के अभिभावक जिला शिक्षा अधिकारी से मिलने पहुंचे। पीडि़त अभिभावक भगवान दास, कृष्ण कुमार, प्रमिला, अजय कुमार, रंजना, सुमन, परमजीत, खुशीराम, सतीश कुमार, अंजू, किरण देवी, संतोष रेखा, पूनम, अमित, ब्रह्मप्रकाश व सपना आदि ने बताया कि उनके बच्चों का वर्ष 2017-18 में दिल्ली रोड़ स्थित सूरज स्कूल में नियम 134ए के तहत एडमिशन हुआ था।

मंथली फीस के लिए भी दबाव बना रहे स्कूल संचालक

सरकार की ओर से नियम 12वीं तक की पढ़ाई निशुल्क की हुई है। स्कूल की ओर से उनसे लगातार ट्रांसपोर्ट फीस ली जा रही है। अब स्कूल संचालक ने मंथली फीस के लिए भी दबाव बनाना शुरु कर दिया। इतना ही नहीं जब अभिभावकों ने फीस भरने में असमर्थता जताई तो स्कूल ने 25 से अधिक बच्चों के स्कूल में प्रवेश पर रोक लगा दी।
स्कूल की ओर से लगातार फोन कर अभिभावकों से फीस जमा कराने के दबाव बनाया जा रहा है।  जिला शिक्षा अधिकारी ने अभिभावकों की बात सुनने के उपरांत डिप्टी बीईओ के पास भेज दिया। जब अभिभावकों को यहां भी कोई ठोस आश्वासन नहीं मिला तो पीडि़त माता-पिता उपायुक्त यशेंद्र सिंह से मिलने पहुंचे। अभिभावकों ने उपायुक्त से मांग की कि स्कूल की मनमानी के खिलाफ कार्रवाई कर उनके बच्चों की पढ़ाई को नियमित जारी रखा जाए|
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular