Homeहरियाणारेवाड़ीशहर के हृदय में बसा मां चामुंडा देवी मंदिर Maa Chamunda Devi...

शहर के हृदय में बसा मां चामुंडा देवी मंदिर Maa Chamunda Devi Mandir

आज समाज डिजिटल, नारनौल
Maa Chamunda Devi Mandir : शहर के आजाद चौक के समीप पहाड़ी की तलहटी पर बने भव्य मां चामुंडा देवी मंदिर में चहल-पहल हो रही हैं। शहर के प्राचीन मंदिरों में से एक मां चामुंडा देवी मंदिर इलाके के सुप्रसिद्ध मंदिर है। नवरात्र के शुरू होते ही मंदिर की भव्य सजावट देखने की है। मेले को लेकर मां चामुंडा देवी मंदिर में श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। बताते हैं कि नारनौल शहर को भी महाराज नूणकर्ण ने बसाया था।

Read Also : 52 शक्तिपीठों में से एक भद्रकाली शक्तिपीठ Bhadrakali Shaktipeeth

मंदिर का इतिहास Maa Chamunda Devi Mandir

Maa Chamunda Devi Mandir

शहर के हृदय में बसा मां चामुंडा देवी का मंदिर का इतिहास काफी प्राचीन है। दंत कथाओं के अनुसार इस मंदिर को महाराज नूणकर्ण ने बनवाया था। मां चामुंडा देवी राजा नूणकर्ण के कुल की इष्ट देवी थी। कुलदेवी की वे पूजा-अर्चना करते थे तथा सारी प्रजा की सुरक्षा एवं सुख की कामना करते थे। बताते हैं कि नारनौल शहर को भी उन्हीं ने बसाया था।

Read More : कैसे बने हारे का सहारा खाटू श्याम How To Become A Loser’s Sahara Khatu Shyam

महाराज नूणकर्ण की कुलदेवी है मां चामुंडा देवी

Maa Chamunda Devi Mandir

अंग्रेजों के शासनकाल के बाद इस मंदिर का दुबारा से जीर्णोद्धार किया गया। वर्तमान में इसका कई बार नवीनीकरण किया जा चुका है तथा मंदिर को आधुनिक एवं भव्य आकार दिया जा चुका है। मंदिर में मां चामुंडा के अलावा अन्य देवी-देवताओं की मूर्तियां स्थापित हैं। माता के मंदिर के श्रद्धालुओं ने चांदी से बनवाएं हैं तथा माता की मूर्ति पर रंग-बिरंगी रोशनी अलग ही छटा बिखेरती है।

Read Also : भगवान शंकर की अश्रु धारा से बना सरोवर Jalandhar Shri Devi Talab Mandir

ऐसे पहुंचे मंदिर  Maa Chamunda Devi Mandir

नारनौल के बस स्टैंड से सीधे किला रोड तक ऑटो जाते हैं। किला रोड उतरने के बाद कुछ दूरी पर ही मंदिर स्थित हैं, जहां श्रद्धालुओं को कुछ दूरी पैदल तय करनी पड़ती है। रेलवे से आने वाले श्रद्धालुओं को भी ऑटो के जरिए किला रोड तक जाना पड़ता है। उसके आगे का सफर पैदल या रिक्शा से तय कर सकते हैं।

दो समय होती है आरती Maa Chamunda Devi Mandir

नवरात्र के समय श्रद्धालुओं के लिए मंदिर 24 घंटे खुला रहता है। सामान्य दिनों में मंदिर में दो बार सुबह एवं शाम को पूजा-अर्चना होती है। प्रात:काल को 5 बजे से 11 बजे तथा शाम को 5 बजे से रात 11 बजे तक पूजा होती है।

लोकल टीवी पर होता है सीधा प्रसारण Maa Chamunda Devi Mandir 

नवरात्र मेले के सीधे प्रसारण की व्यवस्था की गई है। यह प्रशासन लोकल केबल पर प्रसारित किया जाएगा ताकि मंदिर न आ पाने वाले श्रद्धालु भी घर बैठे माता के दर्शन कर सकें और मेले का आनंद ले सकें।
-सत्यनाराण, पुजारी, मां चामुंडा देवी मंदिर, नारनौल।

Read Also : मां मंदिर में धागा बांधने से होती है मनोकामना पूर्ण 

Read Also : घर में होगा सुख-समृद्धि का वास 

Read Also : पूर्वजो की आत्मा की शांति के लिए फल्गू तीर्थ 

Read Also : हरिद्वार पर माता मनसा देवी के दर्शन न किए तो यात्रा अधूरी  

Connect With Us : Twitter Facebook

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular