Homeहरियाणारेवाड़ीकैनवस के माध्यम से दिया अन्न को बचाने का संदेश

कैनवस के माध्यम से दिया अन्न को बचाने का संदेश

आज समाज डिजिटल,रेवाड़ी:
हरियाणा कला यात्रा के चित्रकार एसके राजोतिया ने विवाह, पार्टी, सामाजिक आयोजनों व किसी दोस्त या अपने घर पर खाना खाते समय थाली के अंदर झूठा खाना छोड़ते हैं, इस विषय पर चिंता करते हुए अपने विचारों को रंगों के माध्यम से कैनवस पर उकेरा हैा। चित्रकार राजोतिया ने अपनी पेंटिंग के माध्यम से  बताया कि अन्न में देवी अन्नपूर्णा का निवास है। इसलिए उनका अपमान मां भगवती का अपमान है।

झूठा खाना कूड़ेदान में डालना अन्न का अपमान

हम विवाह, पार्टियों व सामाजिक आयोजन के दौरान अपनी थाली में आवश्यकता से अधिक खाना डालते हैं और बाद में उसे कूड़ेदान में डाल देते हैं, जो चिंता का विषय है और अन्न का अपमान है। उन्होंने बताया कि  ऐसे आयोजनों में लगभग 25 फीसदी खाने की बर्बादी होती है जो सिर्फ  हमारी गैर जिम्मेदारी व नासमझी के कारण होती है। इसलिए हमारी जिम्मेदारी है कि हम कहीं भी अन्न को झूठा छोडक़र इसे बर्बाद ना करें और बचे हुए खाने को किसी जरूरतमंद तक पहुंचाएं । चित्रकार े  अपनी पेंटिंग के माध्यम से अपील की कि नई सोच और उम्मीद के साथ यह बदलाव जरूरी है।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular