Homeहरियाणारेवाड़ीएटीएम उखाडऩे के प्रयास की वारदात के 2 आरोपी गिरफ्तार

एटीएम उखाडऩे के प्रयास की वारदात के 2 आरोपी गिरफ्तार

महज एक सप्ताह में सुलझाई गुत्थी, मुख्य आरोपियों का रिकार्ड भी क्रिमिनल
 

आज समाज डिडिटल,रेवाड़ी:

मॉडल टाउन थाना पुलिस ने 19 अप्रैल की रात को शहर के ब्रास मार्केट स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा के एटीएम को उखाडऩे की प्रयास की वारदात में शामिल दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने तकनीकी मदद और सीसीटीवी फुटेज से गहन अनुसंधान करते हुए महज एक सप्ताह में ही इस वारदात का पर्दाफाश कर दिया है। एटीएम लूट के प्रयास को वारदात देने में चार आरोपी शामिल थे। जिनमे से दो को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की पहचान जिला महेंद्रगढ़ के थाना अटेली के गांव गणियार निवासी रोहित और चंदपुरा निवासी प्रवेश के रूप में हुई है। मामले में दो मुख्य आरोपियों की भी पहचान हो गई है जो कि जिला महेंद्रगढ़ के ही रहने वाले हैं।

दो मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास जारी

पुलिस उपाधीक्षक अमित भाटिया ने इस संबंध में पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि पुलिस अधीक्षक राजेश कुमार ने इस वारदात को गंभीरता से लेते हुए मॉडल टाउन थाना प्रभारी इंस्पेक्टर रतनलाल की अगुवाई में टीम गठित की। पुलिस टीम ने गहनता से जांच करते हुए सीसीटीवी फुटेज की जांच तथा गुप्त सुत्रों की मदद से एक सप्ताह के अन्दर सुलझाते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की। वारदात में शामिल जिला महेंद्रगढ़ के थाना अटेली के गांव गणियार निवासी रोहित और चंदपुरा निवासी प्रवेश की पहचान होने के बाद दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उन्होंने इस वारदात में शामिल होना स्वीकार कर लिया। आरोपियों ने बताया कि नारनौल निवासी राकेश अपने साथियों के साथ उनके पास आया था और एटीएम मशीन उखाडऩे का प्लान बनाया। इसके बाद दोनों आरोपियों ने इस वारदात में शामिल होना स्वीकार कर लिया और बताया कि 19 अप्रैल की रात को वह सीधे रेवाड़ी पहुंचे।

बगैर गार्ड का एटीएम चुना

आरोपियों ने बताया कि वारदात से पहले उन्होंने एटीएम की रेकी की थी। जिसमें पाया कि ब्रास मार्केट स्थित र्बैक आफ बड़ौदा के एटीएम पर कोई गार्ड नहीं है। इसके बाद उन्होंने आसपास देखकर सबसे पहले अक्षय नाम का युवक नकाब लगाकर उतरा और एटीएम के सीसीटीवी कैमरों, सायरन की केबल काटकर अंदर मशीन को काटने का प्रयास शुरू कर दिया। इसी दौरान पुलिस का सायरन सुनने के बाद वह सभी वहां से सामान सहित निकल लिए थे। आरोपियों ने बताया कि यदि पुलिस 5-10 मिनट नहीं आती तो जब तक वह अपना काम कर चुके होते। पुलिस उपाधीक्षक ने बताया कि वारदात में शामिल अन्य आरोपियों की भी पहचान हो चुकी है और उनकी भी गिरफ्तारी के प्रयास चल रहे हैं। उन आरोपियों पर पहले दर्ज किए मामलों की भी जांच चल रही है। वहीं रोहित और प्रवेश को आगामी पूछताछ के लिए दो दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है।

अभी तक की पुलिस जांच में आरोपियों का जो अपराधिक रिकार्ड सामने आया है। उसमें गणियार निवासी आरोपी रोहित के खिलाफ थाना सदर महेंद्रगढ़ में चोरी, धोखाधड़ी के 3 और थाना खोल में भी लूट, चोरी, धोखाधड़ी के 6 मामलों सहित कुल 9 मामले दर्ज है। इसी तरह आरोपी प्रवेश के खिलाफ भी जिला महेंद्रगढ़ के साथ खोल इलाके में चोरी, धोखाधड़ी और लूट के 7 मामले दर्ज हैं।

 

अनियंत्रित बाइक पेड से टकराई, एक की मौत, दूसरा गंभीर

गृहमंत्री से की मुख्यमंत्री ने सिरमौर जिले के भाजपा नेताओं के साथ मुलाकात, हाटी समुदाय को जनजातीय दर्जा देने का उठाया मुद्दा 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular