Homeहरियाणाअंबालाराधिका चीमा नेशनल एक्सीलेंस रिसर्चर अवार्ड इन आयुर्वेदा-2022 से सम्मानित

राधिका चीमा नेशनल एक्सीलेंस रिसर्चर अवार्ड इन आयुर्वेदा-2022 से सम्मानित

  • दिल्ली के न्यू महाराष्ट्र सदन में हुआ नेशनल अवार्ड्स समारोह
  • समाजसेवी-व्यवसायी राधिका चीमा को पहले भी मिल चुके हैं अवार्ड

आज समाज डिजिटल, नई दिल्ली:
न्यू महाराष्ट्र सदन में नेशनल यूथ अवार्डीज फेडरेशन आफ इंडिया की ओर से शुक्रवार को इंटरनेशनल यूथ डे पर नेशनल अवार्ड्स और नेशनल यूथ पार्लियामेंट-2022 समारोह हुआ। इसमें अंबाला स्थित दीघार्युवेर्दा की मैनेजिंग डायरेक्टर राधिका चीमा को आयुर्वेद में अनुसंधान और विकास के क्षेत्र में योगदान और सराहनीय कार्यों के लिए सम्मानित किया गया। ये सम्मान नेशनल एक्सीलेंस रिसर्चर अवार्ड इन आयुर्वेदा 2022 के रूप में हुआ।

radhika-cheema-national-excellence-researcher-award
radhika-cheema-national-excellence-researcher-award

व्यवसायियों के सहयोग के बिना विकास संभव नहीं: पांडेय

समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर कैबिनेट भारी उद्योग मंत्री महिंद्रा नाथ पांडेय ने राष्ट्रीय पुरस्कार प्रदान किए। केंद्रीय सामाजिक न्याय मंत्री रामदास अठावले, भारत में पापुआ न्यू गिनी देश के राजदूत, पाउलियास, कोर्नी आॅबे, मोंटेनेग्रो देश के काउंसलर जनरल, डा. जेनिस दरबारी, मिरजोरम के पूर्व गवर्नर अमोल रतन कोहली और अन्य गणमान्य उपस्थित थे। मंत्री महिंद्रा नाथ पांडेय ने कहा कि किसी भी देश के विकास के लिए वहां उद्योगों का सफल होना नितांत आवश्यक है। इसके अलावा समाज के प्रति निष्ठा भी होनी चाहिए। उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि हमारे भारत की महिलाएं किसी भी क्षेत्र में पीछे नहीं है। समारोह में कई व्यवसायियों को समाज में उनके योगदान और विकास के लिए अवार्ड देकर सम्मानित किया।

स्वच्छ भारत अभियान की ब्रांड एंबेस्डर भी हैं राधिका

radhika-cheema-national-excellence-researcher-award
radhika-cheema-national-excellence-researcher-award

राधिका चीमा ने अवार्ड मिलने पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि वे आगे भी इस प्रकार के कार्य जारी रखेंगी। उल्लेखनीय है कि दीघार्युवेर्दा की मैनेजिंग डायरेक्टर राधिका चीमा जानी-मानी युवा उद्यमी हैं। वे आईकेजे केयर नामक एनजीओ की चेयरपर्सन भी हैं। वह सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़कर भाग लेती हैं। इनकी रूचि और कौशल को देख इन्हें स्वच्छ भारत अभियान (अंबाला) का ब्रांड अंबेस्डर बनाया गया। वे जिला युवा विकास संगठन (महिला ईकाई) की अध्यक्ष भी हैं। अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन (आईएचआरओ) के हरियाणा प्रदेश की अध्यक्ष के पद पर भी अपनी सेवाएं दी हैं। जिसके अंर्तगत उन्होंने लड़कियों और महिलाओं के कौशल को भी बढ़ावा दिया है।

समाज सुधार में चला चुकीं हैं कई अभियान

radhika-cheema-national-excellence-researcher-award
radhika-cheema-national-excellence-researcher-award

पर्यावरण सरंक्षण में भी अपना अहम योगदान देते हुए सघन पौधारोपण, पौधों का वितरण और पालीथिन मुक्त अंबाला मुहिम भी चलाई। कोरोना काल के दौरान जरूरतमंदों को मुफ्त भोजन, दवाएं, मास्क और अन्य आवश्यक चीजें वितरित करने के लिए संस्था ने प्रसाशन के सहयोग के साथ साथ अन्य संस्थाओं को आर्थिक सहयोग किया। राधिका चीमा को महिला सशक्तीकरण के अग्रणी मिसाल के रूप में माना जाता है। बहुत ही प्रतिष्ठित हस्तियों ने इनके द्वारा किए गए सामाजिक कार्यों की सराहाना की है। इसके अतिरिक्त इन्हें विभिन्न समारोहों में विशेष तौर पर सम्मानित किया जा चुका है। दिविसा हर्बल्स केयर की प्रतिनिधि के तौर पर श्रीमति चीमा को वर्ल्ड ग्रेटेस्ट ब्रांड और ह्यएशिया मोस्ट ट्रस्टिड ब्रांडह्ण के अवार्ड भी हासिल हुए हैं।

ये भी पढ़ें : द ग्रेट इंडिया रन पहुंची रूपनगर, धावकों ने पूरा किया 535 KM का सफर

ये भी पढ़ें : तीसरे चरण में पहुंचा द ग्रेट इंडिया रन, मानसर लेक पहुंचे धावक

ये भी पढ़ें : 30वीं जिला बैडमिंटन प्रतियोगिता के तीसरे दिन भी खिलाड़ियों ने बहाया पसीना

Connect With Us: Twitter Facebook

 

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular