Homeत्योहारगुरुपर्व के लिए शुरू हुई लंगर की तैयारी.संस्थाओं के साथ जुटी सैकड़ों...

गुरुपर्व के लिए शुरू हुई लंगर की तैयारी.संस्थाओं के साथ जुटी सैकड़ों संगतें

आज समाज डिजिटल, पानीपत:

पानीपत(Preparation of langar started for Guruparb)हिंद की चादर श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाश पर्व के अवसर हरियाणा के पानीपत में आयोजित राज्य स्तरीय कार्यक्रम की तैयारियां जहां अंतिम चरण में हैं, वहीं गुरु के लंगर में सेवा देने वाली सामाजिक व धार्मिक संस्थाओं ने लंगर की तैयारियां शुरू भी कर दी हैं। लंगर के साथ ठंडी लस्सी भी अटूट मिलेगी। करनाल महज एक संस्था निर्मल कुटिया द्वारा ही 15 हजार लीटर लस्सी पहुंचाई जाएगी। इसे लेकर उन्होंने तैयारियां शुरू कर दी हैं। इसे बनाने में सैकड़ों की संख्या में संगत जुट गई है। इसके अलावा तीन अन्य संस्थाएं भी डेढ़ से 2 लाख संगत के लिए नमकीन लस्सी की व्यवस्था करने में जुटी हुई हैं।

 

 

गुरुपर्व के लिए शुरू हुई लंगर की तैयारी.संस्थाओं के साथ जुटी सैकड़ों संगतें
गुरुपर्व के लिए शुरू हुई लंगर की तैयारी.संस्थाओं के साथ जुटी सैकड़ों संगतें

 नेक काम में कभी किसी चीज की कमी नहीं रहती

इस संबंध में जानकारी देते हुए निर्मल कुटिया से पलविंद सिंह ने बताया कि श्री गुरु तेग बहादुर जी के 400वें प्रकाश पर्व पर उन्हें लंगर सेवा का मौका मिल रहा है। यह उनके लिए सौभाग्य की बात है। गुरु की कृपा से ऐसे नेक काम में कभी किसी चीज की कमी नहीं रहती। उनके द्वारा लंगर के साथ-साथ लस्सी की सेवा भी दी जाएगी। इसके लिए शुक्रवार को लगभग 80 क्विंटल दूध लाया गया है। इसे गर्म करके 200-200 लीटर के ड्रमों में दही के लिए जमाया जाएगा। इसके बाद बड़ी-बड़ी मधानियों से इससे नमकीन लस्सी तैयार की जाएगी। इसे टैंकर में भरकर करनाल से पानीपत आयोजन स्थल पर लाया जाएगा। इसी तरह लंगर सेवा देने वाली दूसरी संस्थाओं ने भी लड्डु-बर्फी, गुलाब-जामुन आदि बनाने शुरू कर दिए हैं।

लंगर सेवा के लिए सामाजिक संस्थाओं में लगी होड़

आयोजन स्थल पर प्रवेश द्वार के दोनों ओर धार्मिक व सामाजिक संस्थाओं द्वारा दी जा रही लंगर सेवा की व्यवस्था की गई है। इसके लिए 40 से अधिक स्टॉल दोनों तरफ लगे हुए हैं लेकिन फिर भी संस्थाओं में होड़ लगी हुई है कि उन्हें भी सेवा का मौका दिया जाए। लगातार संस्थाएं स्टॉल बढ़ाने की डिमांड कर रही हैं। वहीं कुछ संस्थाओं ने इच्छा जताई है कि उनकी लंगर सेवा की स्टॉल दोनों ओर लगे। जिला प्रशासन, आयोजन समिति के संयोजक व सांसद श्री संजय भाटिया ने आश्वासन दिया है कि सभी संस्थाओं को सेवा का मौका दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह लोगों की गुरुओं के प्रति श्रद्धा व भक्तिभाव को दर्शाता है, जो उनमें इस तरह की होड़ लगी हुई है।

 

 

Read Also : गर्मी से बरती जाने वाली सावधानियां – उपायुक्त रंधावा Deputy Commissioner Randhawa

Read Also : लखनऊ से अग्रोहा धाम जा रहे अग्रवाल समाज के 31 परिवारों का महाराजा अग्रसेन विकास ट्रस्ट ने रोहतक रेलवे स्टेशन पर किया भव्य स्वागत Maharaja Agrasen Development Trust

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular