Homeहरियाणापानीपतफेसबुक पर ब्लैकमेल करने वाली रेणु को नहीं मिली राहत Blackmail on...

फेसबुक पर ब्लैकमेल करने वाली रेणु को नहीं मिली राहत Blackmail on Facebook

Blackmail on Facebook

आज समाज डिजिटल, पानीपत:
Blackmail on Facebook : फेसबुक जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म का इस्तेमाल कर लोगों को ब्लैकमेल करने वाली महिला रेणु ने हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। इसे खारिज कर दिया गया। पिछले दिनों पंचकूला कोर्ट ने ब्लैकमेलिंग की आरोपी रेणु राणा के अरेस्ट वारंट जारी किए हैं।

रेणु पर ये हैं आरोप

रेणु राणा पर आरोप है कि उसने एफआईआर नंबर 58, धारा आईटी एक्ट 67, 384, 500, 506 आईपीसी, दिनांक 8 फरवरी 2022 पुलिस स्टेशन सेक्टर-14, में साइबर क्राइम टीम को अभी तक जांच में सहयोग नही किया है। सरकार की तरफ से डिप्टी एडवोकेट जरनल ने सभी तथ्य कोर्ट में पेश किए। पुलिस का कहना है कि पिछले दिनों तफ्तीश करने के लिए पंचकूला की साइबर क्राइम सेल पानीपत पहुंची। लेकिन पानीपत के महिला थाना में लंबे कई घंटों के इंतजार के बाद खाली हाथ लौट गई।

आरोपी रेणु राणा 23 मार्च को भी शामिल तफ्तीश होने के लिए पंचकूला साइबर क्राइम थाना में पहुंची थी। लेकिन तबीयत खराब होने का हवाला देकर स्वयं 26 मार्च शामिल तफ्तीश होने के अनुरोध पर लौट आई थी। इंस्पेक्टर मोहिंदर सिंह ढांडा के नेतृत्व में पंचकूला साइबर क्राइम सेल की टीम को रेणु राणा के खिलाफ एफआईआर नंबर 58, धारा आईटी एक्ट 67, 384, 500, 506 आईपीसी, दिनांक 8 फरवरी 2022 पुलिस स्टेशन सेक्टर-14, पंचकूला में मुख्य अभियुक्त रेणु राणा की तलाश पंचकूला पुलिस को है।

पानीपत में कर चुकी एक्ट का दुरुपयोग

जानकारी के मुताबिक कथित तौर पर ब्लैकमेलिंग की आरोपी महिला रेणु राणा ने अतीत में भी  इससे पहले भी वह पानीपत में कई लोगों के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट का गलत प्रयोग करते हुए पानीपत पुलिस को दरखास्त दे चुकी है। फिर उस पर कथित तौर पर मोटी रकम लेकर समझौता लिख चुकी है। साइबर क्राइम पुलिस की टीम इन मामलों की परतें भी अपनी जांच के दौरान खोल सकती हैं। अगर ऐसा हुआ तो संभव है कि आरोपी रेणु राणा के उत्पीड़न के कई लोग सामने आ सकते हैं।

खुद को समाजसेवी बताने का आरोप

ब्लैकमेलिंग की आरोपी रेणु राणा खुद को एक समाजसेवी के रूप में प्रदर्शित करती हैं। जबकि अतीत में वह खुद को आम आदमी पार्टी की नेता के रूप में पेश करती थी। जो कि आजकल यह खुद को इनेलो से संबंधित बताकर प्रचार कर रही है। इस कथित ब्लैकमेलर रेणु राणा के खिलाफ देहरादून के थाना डाकपत्थर में एक दहेज उत्पीड़न मारपीट जान से मारने की धमकी व धोखाधड़ी का मुकदमा नंबर 1510, 12-3-2022 को उत्तराखंड पुलिस ने  शिकायतकर्ता शिवानी की दरखास्त पर दर्ज किया है।

Blackmail on Facebook

Read Also : कांग्रेसी विधायक बोले- आम आदमी पार्टी लालच देकर कर रही संपर्क Anirudh Singh Targeted AAP

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular