Homeहरियाणापानीपतश्री श्री तत्व की एनएओक्यू 19 दवा को आयुष मंत्रालय से एक...

श्री श्री तत्व की एनएओक्यू 19 दवा को आयुष मंत्रालय से एक सहायक दवा के रूप में हुई मान्यता प्राप्त 

आज समाज डिजिटल, Panipat News :
पानीपत। आयुष मंत्रालय, भारत सरकार के द इंटर डिसिप्लिनरी टेक्निकल रिव्यू कमेटी ( आई टी आर सी ) ने सावधानीपूर्वक समीक्षा करने एवं बेतरतीब नियंत्रित ट्रायल के बाद श्री श्री तत्व की  एनएओक्यू 19 दवा को कोविड 19  के मध्यम से औसत स्तर के संक्रमण का उपचार करने में एक सहायक दवा के रूप से मान्यता प्रदान कर दी है। ये ट्रायल प्रतिष्ठित संस्थानों, जैसे – एम्स जोधपुर, एम्स ऋषिकेश और जी आई एम एस नोएडा में किए गए। उक्त जानकारी देते हुए मीडिया स्टेट कोडिनेटर हरियाणा कुसुमु धीमान ने बताया कि श्री श्री तत्व को आयुर्वेदिक दवाईयों में शोध एवं इनके विकास के क्षेत्र में दशकों का अनुभव है।

श्वसन तंत्र के रोगों और जलन की समस्या को दूर करने में भी मदद करती है

कुसुमु धीमान ने बताया कि जब 2020 में कोविड 19 महामारी फैलने लगी थी, तभी से श्री श्री तत्व के विशेषज्ञ डॉक्टरों की टीम ने कोविड 19 संक्रमण को दूर करने के हर्बल फॉर्मूलों की प्रभावशीलता पर शोध आरंभ कर दिया था। इसी शोध के द्वारा एनएओक्यू 19 दवा का निर्माण हुआ। एनएओक्यू 19 एक पॉली हर्बल फॉर्मूला है,जो 19 शक्तिशाली जड़ी बूटियों का मिश्रण है और इनका सत प्रतिरोधक तंत्र की क्षमता बढ़ाने में मदद करता है। यह दवा बुखार, सर्दी जुकाम, श्वसन तंत्र के रोगों और जलन की समस्या को दूर करने में भी मदद करती है।

 

 

Panipat News/Sri Sri Tattva's NAOQ 19 drug recognized as an auxiliary drug from the Ministry of AYUSH
Media State Coordinator Haryana Kusumu Dhiman

इस शोध के परिणाम बहुत अधिक प्रोत्साहित करने वाले थे

मीडिया स्टेट कोडिनेटर हरियाणा कुसुमु धीमान ने बताया कि श्री श्री तत्व ने श्री श्री इंस्टीट्यूट ऑफ एडवांसड रिसर्च( एस एस आई ए आर ) के साथ मिलकर, मध्यम से औसत स्तर के कोविड 19 संक्रमण के उपचार के लिए, एनएओक्यू 19 की प्रभावशीलता जानने के लिए सावधानीपूर्वक ट्रायल किए।फाउंडेशन ऑफ नेगलेक्टेड डिजीजेज, बेंगलुरु (एफ एन डी आर) में भी इस दवा को लेकर शोध किया गया। इस शोध के परिणाम बहुत अधिक प्रोत्साहित करने वाले थे, जिसके कारण देश के प्रतिष्ठित संस्थानों में बहुत बड़े स्तर पर इस दवा के क्लीनिकल ट्रायल शुरू किए गए। कुसुमु धीमान ने बताया कि इन परिणामों को द इंटरडिसिप्लिनरी टेक्निकल रिव्यू कमेटी (आई टी आर सी), जिसकी स्थापना आयुष मंत्रालय के द्वारा समीक्षा करने के लिए की गई है, के समक्ष प्रस्तुत किया गया।और इस कमेटी ने कोविड 19 से सबंधित ट्रायल के डाटा को मान्यता प्रदान कर दी।

यह विश्व के लाखों लोगों को लाभान्वित करेगी : अरविन्द वर्चस्वी

इस अवसर पर अरविन्द वर्चस्वी, प्रबंध निदेशक ने कहा,” श्री श्री तत्व में हम हर्बल, सुरक्षित एवं प्रभावशाली दवाईयों की खोज एवं उन्हें विकसित करने के लिए उन्नत विज्ञान एवं शोध कार्यप्रणाली का प्रयोग करते हैं। जिससे लोगों के जीवन में परिवर्तन आता है और उन्हें स्वास्थ्य लाभ होता है।हमारे उत्पादों का निर्माण अत्याधुनिक डब्ल्यूएचओ – जीएमपी द्वारा मान्यता प्राप्त सुविधाओं के अन्तर्गत किया जाता है और इनकी प्रभावशीलता और इनसे प्राप्त सुरक्षा को बनाए रखने के लिए, राष्ट्रीय एवम् अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर इनका अध्ययन एवम् परीक्षण किया जाता है। मानवता के स्वास्थ्य कल्याण के प्रति मैं अपनी टीम की अटूट प्रतिबद्धता के लिए बहुत गौरवान्वित महसूस करता हूं। एनएओक्यू 19 एक प्रतिबद्धता का परिणाम है और मेरा यह विश्वास है कि यह विश्व के लाखों लोगों को लाभान्वित करेगी।

श्री श्री तत्व के बारे में

मीडिया स्टेट कोडिनेटर हरियाणा कुसुमु धीमान ने बताया कि श्री श्री तत्व, जिसकी स्थापना गुरुदेव श्री श्री रविशंकर की प्रेरणा द्वारा की गई है,का लक्ष्य विश्वभर के लोगों के स्वास्थ्य कल्याण को प्रोत्साहित करना है। यह एक वैश्विक संगठन है,जिसमें विभिन्न श्रेणियों के उत्पाद एवम् सेवाएं उपलब्ध हैं। इनमें आयुर्वेदिक दवाएं, सप्लीमेंट्स, खाद्य पदार्थ, व्यक्तिगत देखभाल, स्वच्छता, एरोमा थेरेप्टिक धूप एवम् सुगंधित पदार्थ शामिल हैं।

श्री श्री तत्व के उत्पादों को बहुत प्रतिष्ठित सर्टिफिकेट प्राप्त हैं

मीडिया स्टेट कोडिनेटर हरियाणा कुसुमु धीमान ने बताया कि प्रतिबद्ध लोगों के द्वारा स्थापित और लगभग चार दशक से भी अधिक अनुभव के साथ, श्री श्री तत्व का स्वास्थ्य एवं कल्याण के क्षेत्र में समग्र दृष्टिकोण है। इसमें कॉलेज ऑफ आयुर्वेद साइंस एंड रिसर्च, अत्याधुनिक अस्पताल, डॉक्टर एवं थेरेपिस्ट, पंचकर्म स्वास्थ्य कल्याण केंद्र, स्पा एवं क्लीनिक, तकनीक एवं दृढ़ नियंत्रित तंत्र के द्वारा संचालित उत्पादन सुविधाएं और व्यापक स्तर पर राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय उपस्थिति के साथ इस ब्रांड का स्वास्थ्य एवं कल्याण के लिए एक समग्र दृष्टिकोण है। श्री श्री तत्व के उत्पादों को बहुत प्रतिष्ठित सर्टिफिकेट प्राप्त हैं, जिनमें डब्ल्यूएचओ – जीएमपी, आयुष प्रीमियम मार्क, आईएसओ 22000:2018, एचएसीसीपी, ईयू ऑर्गेनिक और अन्मत जीएमपी शामिल हैं।

ये भी पढ़ें : यादव धर्मशाला में आयोजित शिविर में 182 मरीजों के नेत्रों की हुई जांच

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular