Homeहरियाणापानीपततिरंगे झंडे की पाइप लगाने के दौरान करंट लगने से स्कूल बस...

तिरंगे झंडे की पाइप लगाने के दौरान करंट लगने से स्कूल बस ड्राइवर की मौत

आज समाज डिजिटल, Panipat News :
पानीपत। शहर के अंसल स्थित किडजी स्कूल में करंट लगने से ड्राइवर की मौत हो गई, जबकि सिक्योरिटी गार्ड झुलस गया। हादसा तिरंगे झंडे की पाइप लगाने के दौरान हुआ। झंडे की पाइप लगाते समय ड्राइवर प्रिंस 11 हजार हाईवोल्टेज की तार से टकरा गया, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। मृतक प्रिंस पिछले छह महीने से स्कूल में बस ड्राइवर था। मृतक के परिजनों ने बताया कि स्कूल संचालक ने प्रिंस को स्कूल के आंगन में तिरंगा झंडा लगाने के लिए कहा था। इस पर प्रिंस ने अपने साथी के साथ मिलकर लोहे की पाइप में तिरंगा लगाया। उसने जैसे ही पाइप को खड़ा किया तो वह ऊपर से गुजर रही हाईवोल्टेज तार की चपेट में आ गया।

माँ के बाद अब पिता का साया भी उठा

पाइप में करंट आने की वजह से प्रिंस और उसका साथी बुरी तरह से झुलस गए। स्टाफ ने मिलकर झुलसे हुए दोनों व्यक्तियों को सामान्य अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने प्रिंस को मृत घोषित कर दिया, जबकि दूसरे घायल का इलाज चल रहा है। वहीं प्रिंस की पत्नी प्रीति ने करीब आठ माह पहले फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी। तब प्रीति के मायके वालों ने प्रिंस पर आरोप लगाया था कि बेटी ने उनसे तंग आकर आत्महत्या की है। वहीं प्रिंस के दो बच्चे हैं, जिनके सिर से आठ माह पहले मां और अब पिता का साया उठ गया है।

पाइप लगाने के दौरान स्कूल के ऊपर से गुजर रही 11000 हाई वोल्टेज के तार से टकरा गया

वहीं हादसे में झुलसे सिक्योरिटी गार्ड प्रकाश ने बताया कि वह ड्राइवर के साथ मिलकर तिरंगा झंडे का पाइप लगा रहा था और जैसे ही पाइप लगाने लगे तो इस दौरान स्कूल के ऊपर से गुजर रही 11000 हाई वोल्टेज के तार से टकरा गया, जिसमें वह दोनों झुलस गए। फिलहाल पुलिस ने मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए पानीपत के सामान्य अस्पताल के शवगृह में रखवा कर आगामी कार्यवाही शुरू कर दी है।

ये भी पढ़ें : जन कल्याण मंच व सनातन धर्म संगठन द्वारा 14 अगस्त को शहर में निकाली जाएगी तिरंगा यात्रा

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular