Homeहरियाणापानीपतलोगों को जागरूक कर रहे हैं ताकि लोग प्लास्टिक का इस्तेमाल न...

लोगों को जागरूक कर रहे हैं ताकि लोग प्लास्टिक का इस्तेमाल न करें : मोहित जग्गा

  • प्लास्टिक की बोतलों को रिसाइकिल कर बना रहे थैले, अब तक 30 हजार बोतलें हुई रिसाइकिल
आज समाज डिजिटल,  पानीपत :
पानीपत। पर्यावरण का सबसे बड़ा दुश्मन प्लास्टिक,
हर जीव को खतरा प्लास्टिक।
करें प्रदूषित जल, थल, आकाश प्लास्टिक,
ढूंढो विकल्प छोड़ो प्लास्टिक।।
छेड़ो अभियान करो बहिष्कार प्लास्टिक,
जीवन तब भी था जब नहीं था प्लास्टिक।
जीवन तभी रहेगा यदि नहीं रहेगा प्लास्टिक,
लेकर प्रण सब त्यागों प्लास्टिक।।
प्लास्टिक के खिलाफ छेड़ी मुहिम को साकार करने की दिशा में प्रतिष्ठा फाउंडेशन प्लास्टिक की बोतलों को रिसाइकिल कर उनसे थैले बना रहा है। अब तक 30 हजार बोतलों को रिसाइकिल कर हजारों थैले बनाकर बांटे जा चुके हैं। इसके साथ ही प्रतिष्ठा फाउंडेशन स्वच्छ भारत की दिशा में ‘आइए भगाएं कचरा डॉन’ के नाम से एक मुहीम चला रहा है। इनका मकसद है कि लोग प्लास्टिक का इस्तेमाल न करें, जिससे पर्यावरण को नुकसान नहीं हो।

पिछले छह वर्ष से इस दिशा में प्रयासरत

संस्था के सदस्य मोहित जग्गा, रश्मि अखोरी, पद्मा शर्मा, संगीता अरोड़ा, वैभव देशवाल, निशांत अरोड़ा, प्रियंका देशवाल, सुमति अरोड़ा और मनीषा धवन इस मुहीम को आगे बढ़ा रहे हैं। मोहित जग्गा का कहना है कि पिछले छह वर्ष से इस दिशा में प्रयासरत हैं।  प्लास्टिक न तो सड़ता है न ही गलता है बल्कि प्रदूषण करता है। जिसे न तो मिट्टी में दबा सकते हैं न ही जला सकते हैं। मिट्टी में दबाने के बाद भी खत्म नहीं होता वहीं जलाने से प्रदूषण होता है। प्रतिष्ठा फ़ाउंडेशन प्लास्टिक की बोतलों को रिसाइकिल कर उससे धागे बनाता है, जिसके बाद इन धागों को कपड़े का रूप दिया जाता है। जिससे थैले बनाए जाते हैं। संस्था की फाउंडर डॉ. कुंजल ने कहा कि धरती से शुद्ध जल लेकर उसे प्लास्टिक की खाली बोतलें दे रहे हैं। ऐसा समय आएगा जब धरती भी पानी के बदले प्लास्टिक ही उगलेगी। सदस्य तृप्ता गाबा ने बताया कि इस अभियान को बॉलीवुड स्टार अर्जन बाजवा की माता निमी बाजवा का भी सहयोग मिला।

जब धरती भी पानी के बदले प्लास्टिक उगलेगी

फाउंडेशन की फाउंडर डॉ. कुंजल ने बताया कि छह साल पहले मुहिम शुरू की थी। अब तक 30 हजार से ज्यादा प्लास्टिक की बोतलें रिसाइकिल कर चुके हैं। लोगों को थैले बांटकर प्लास्टिक का इस्तेमाल न करने के लिए जागरूक कर रहे। उन्होंने कहा कि धरती से शोषित जल के बदले उसे थमा देते हैं हम प्लास्टिक की खाली बोतलें, उस क्षण को सोच कर डर जाती हूँ जब धरती भी पानी के बदले प्लास्टिक उगलेगी। धरती हमारी माँ है,प्लास्टिक से इसे बचाना है।हम सबको पॉलीथीन छोड़ने का संकल्प लेना होगा।प्रतिष्ठा फ़ाउंडेशन ने सभी के अच्छे स्वास्थ्य की कामना के साथ सभी देशवासियों से अपील की कि प्रदूषण का स्तर बड्ने के साथ साँस की तकलीफ़ व डेंगू के प्रकोप से स्वयं को बचा के रखें।

क्या कहते है संस्था के सदस्य

रश्मि अखौरी, प्रोजेक्ट चेयरपर्सन कहती हैं कि भगाओ कचरा डॉन अ‌भियान में लोगों को प्लास्टिक के नुकसान और उसे रिसाइकिल करने की जानकारी दे रहे हैं। रिसाइकिल कर बनाए गए थैले वितरित किए जा रहे हैं। मोहित जग्गा ने कहा कि प्लास्टिक का इस्तेमाल भी जारी है। लोगों को जागरूक कर रहे हैं ताकि लोग प्लास्टिक का इस्तेमाल न करें। डॉ. रेनु मित्तल ने कहा कि प्लास्टिक एक ऐसा जहर है, जो मानव जीवन को लील रहा है। हम लोगों को अभी अहसास नहीं हो रहा है। अभी नहीं चेते तो भविष्य में प्रदूषण के साथ बीमारियां भी फैलेंगी। डॉ. मोना शर्मा ने कहा कि दैनिक जीवन में हर नागरिक को जागरूक होना जरूरी है कि प्लास्टिक से बने उत्पादों का इस्तेमाल न किया जाए। इसमें खाद्य पदार्थ का सेवन भी न करें।

ये रहे मौजूद

इस अवसर पर मोहित जग्गा, रश्मि अखोरी, डॉ कुंजल, पदमा शर्मा, संगीता अरोरा, वैभव देसवाल, निशांत अरोरा, प्रियंका देसवाल, सुमति अरोरा, मनीषा धवन उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें : केन्द्र के सहयोग से प्रदेश के सभी खंडो में खोले जाएगे 238 पीएमश्री स्कूल : शिक्षा मंत्री कवरपाल

ये भी पढ़ें : जंगम जोगी परंपरा को जिंदा रख रहे युवा कलाकार

ये भी पढ़ें : आरपीएस स्कूल में प्रतियोगिताओं के विजेता विद्यार्थियों को किया सम्मानित

ये भी पढ़ें :  जयंती महोत्सव पर श्री राम मंदिर के स्टाल पर लगी है भारी भीड़

Connect With Us: Twitter Facebook
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular