Homeहरियाणापानीपतदेश में पहली बार मनाया जेवलिन थ्रो दिवस  - नीरज चोपड़ा के...

देश में पहली बार मनाया जेवलिन थ्रो दिवस  – नीरज चोपड़ा के गांव खंडरा से जेवलिन थ्रो दिवस मनाने की शुरुआत

आज समाज डिजिटल, Panipat News :
पानीपत। नीरज चोपड़ा के गांव खंडरा से जेवलिन थ्रो दिवस मनाने की शुरुआत हो चुकी है। देश में पहली बार जेवलिन थ्रो दिवस मनाया गया है। इस पहल को गांव खंडरा वासी, एथलेटिक कोच व युवाओं ने शुरू कर दिया है। इस चैंपियनशिप में युवाओं ने भाला फेंक कर प्रतियोगिता में भाग लिया। ज्यादातर युवा ऐसे थे जिन्होंने पहली बार भाला पकड़ा है। वहीं इसी बीच नीरज के पिता सतीश चोपड़ा से भी भाला फेंकवाकर युवाओं को प्रोत्साहित करने का काम किया है।

अंतरराष्ट्रीय हाइ जंपर 80 वर्ष के इंद्र सिंह ने भी भाला फेंका

वहीं अंतरराष्ट्रीय हाइ जंपर 80 वर्ष के इंद्र सिंह ने भी भाला फेंका। चैंपियनशिप में आए हुए अतिथियों से पहले भाला फेंकवाया गया। जिसके बाद युवाओं ने फेंका। प्रतियोगिता में 11 साल के विवेक से लेकर 18 वर्षीय सागर ने भाग लिया।इस प्रतियोगिता में पानीपत व करनाल के खिलाड़ियों ने भाग लिया। इस चैंपियनशिप में मुख्य रूप से नीरज चोपड़ा के पिता सतीश चोपड़ा मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहे। इसी के साथ अंतरराष्ट्रीय हाइ जंपर इंद्र सिंह कादयान, एशियन जेवलिन थ्रो मेडलिस्ट गुलशन शर्मा, नेशनल जेवलिन थ्रो विजेेता कृष्ण मिटान, आयोजन के मुख्य सहयोगी जितेंद्र जागलान व कर्मवीर चोपड़ा व स्टेट चैंपियन पत्रकार विजय गाहल्यान मौजूद रहे।

हर साल खंडरा वासी मनाएंगे इसी तरह जेवलिन थ्रो दिवस

खंडरा वासियों ने निर्णय लिया कि वह हर साल 5 अगस्त को ही जेवलिन थ्रो दिवस मनाएंगे। गांव वासियों का कहना है कि वह अपने क्षेत्र के युवाओं को खेल में डालना चाहते है। वहीं नीरज के पिता सतीश ने कहा कि गांव के युवाओं में काफी बदलाव आ रहा है अधिकतर खिलाड़ी जेवलिन थ्रो कर रहे है। वहीं शाम को संस्कृति स्कूल में सैंकड़ों खिलाड़ी जेवलिन थ्रो का अभ्यास करते है।
अंडर-14 पुरूषः
रियांश स्वर्ण
दक्ष रजत
विवेक कांस्य
अंडर-16
नीतिन स्वर्ण
सागर रजत
शुभम कांस्य
अंडर- 18
युवराज स्वर्ण
आर्यन रजत
यश कांस्य
अंडर-20
रोमित स्वर्ण
मनिंद्र रजत
———————–
अंडर-14 गर्ल्सः
दिव्या स्वर्ण
पलक रजत
दीपांशु कांस्य
अंडर- 16 गर्ल्स
अंशिका स्वर्ण
सलोनी रजत
नैंसी कांस्य
अंडर-20
दीपिका स्वर्ण
रिंकु रजत
अंडर- 18
गुंजन स्वर्ण
नैंसी रजत
निलम कांस्य

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular