Homeहरियाणापानीपतहाईकोर्ट के आदेश के बावजूद भी हुडा अधिकारियों की मिलीभगत से करोड़ों...

हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद भी हुडा अधिकारियों की मिलीभगत से करोड़ों की भूमि पर हो रहा है अवैध कब्जा : स्वामी

आज समाज डिजिटल, पानीपत :
पानीपत। हाईकोर्ट के आदेश के बावजूद भी हुडा अधिकारियों की मिलीभगत से करोड़ों की भूमि पर अवैध कब्जा हो रहा है। यह आरोप जोगिंदर स्वामी पूर्व जिला पार्षद ने मुख्य प्रशासक हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण और संपदा अधिकारी पानीपत को लिखें पत्र में लगाए। उन्होंने कहा कि पानीपत शहर के सेक्टर 8 टोल प्लाजा के साथ हुडा अधिकारियों की मिलीभगत से उच्च न्यायालय के आदेशों के बावजूद भी विभाग द्वारा अपनी जमीन पर कब्जा नहीं लिया गया और कार एजेंसियों के मालिकों से सांठगांठ कर लाखों रुपए विभाग के अधिकारी वसूल कर रहे हैं।

कर्मचारी लालच वश आज तक भी कब्जा लेने नहीं गए

उन्होंने कहा कि उच्च न्यायालय कि सीडब्ल्यूपी नंबर 5216/2018 के 31 अगस्त 2020 के आदेशों के अनुसार इन फैक्ट्री मालिकों की अपील को खारिज किया गया था और हुडा विभाग को जमीन का कब्जा लेने के आदेश दे दिए गए थे, लेकिन उसके बावजूद भी हुडा विभाग के कुछ कर्मचारी लालच वश आज तक भी कब्जा लेने नहीं गए। उन्होंने कहा कि यह जगह नेशनल हाईवे पर होने के कारण बहुत कीमती है और इस पर फैक्ट्री मालिकों द्वारा कार एजेंसियों को किराए पर देकर हर महीने लाखों रुपया किराया लिया जा रहा है, जबकि यह जमीन हुडा विभाग की है।

हुडा विभाग कार्यालय पानीपत में प्रदर्शन किया जाएगा

इसी प्रकार से नेशनल हाईवे पर सेक्टर 6 तक लोगों द्वारा अवैध कब्जे किए गए हैं, लेकिन विभाग अपने सैकड़ों करोड़ की इस प्रॉपर्टी को अपने स्वार्थ पूर्ति के लिए खाली कराने के नाम पर आंख बंद किए हुए है। उन्होंने मुख्य प्रशासक से मांग करते हुए कहा कि इसमें शामिल भ्रष्ट अधिकारियों पर अपराधिक मामला दर्ज हो और इन गोदामों को तत्काल प्रभाव से ध्वस्त करके हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण अपने कब्जे में ले। उन्होंने कहा कि इस पर अगर 1 महीने में कार्रवाई नहीं होती तो हुडा विभाग कार्यालय पानीपत में प्रदर्शन किया जाएगा।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular