Homeहरियाणापानीपतकश्मीरी हिंदुओ को AK47 दे सरकार : नवीन जयहिंद

कश्मीरी हिंदुओ को AK47 दे सरकार : नवीन जयहिंद

आज समाज डिजिटल, Panipat News :

पानीपत। नवीन जयहिन्द ने 26 जून को दिल्ली जंतर-मंतर पर पंहुचने का ललकारा देने के विषय को लेकर पानीपत में एक प्रेसवार्ता की। नवीन जयहिन्द ने सभी 37 बिरादरियों को मीडिया के माध्यम से उनकी ताकत का अहसास कराया और कहा कि समाज की 37 बिरादरी कमजोर नही हैं इसके लिए 26 जून को दिल्ली जंतर मंतर पर पहुँचकर अपनी ताकत का अहसास सरकार को करवाए।

मोदी सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी हुई है

हर रोज कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा किसी न किसी हिन्दू ओर कश्मीरी पंडितों की हत्या की जा रही हैं और केंद्र की मोदी सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी हुई हैं। कश्मीरी पंडितों ओर वहां रह रहे हिन्दुओ के लिए कुछ नही कर रही हैं जिससे कश्मीरी पंडित कश्मीर से पलायन करने को मजबूर हैं। गत दिनों कई कश्मीरी हिन्दुओ को टारगेट करके मारा जा चुका हैं, जबकि सरकार कश्मीरियों के लिए अनेक कार्य करने का दम भर रही हैं। सरकार कश्मीरी हिन्दुओ के नाम पर वोट तो ले लेती हैं लेकिन उन्हें उनकी सुरक्षा के साधन उपलब्ध कराने में असमर्थ हैं।

अलग अलग जिलों में सभी बिरादरियों को जागरूक भी कर रहे

गौर करने योग्य बात हैं जयहिंद कश्मीरी पंडितों के समर्थन के लिए हरियाणा में भ्रमण पर निकले हुए हैं और गाँव गॉव  में सभी बिरादरियों को जागरूक भी कर रहे हैं और जयहिंद को हर जिले में समर्थन भी मिल रहा हैं जयहिंद का कहना है कि 26 जून पर कश्मीरी हिन्दुओं के लिए दिल्ली के जंतर मंतर पर होने वाले ललकारे को पूरा देश देखेगा ओर देश के नेताओं की असलियत जनता के सामने आएगी।

 

Panipat News/Government should give AK47 to Kashmiri Hindus: Naveen Jaihind
Panipat News/Government should give AK47 to Kashmiri Hindus: Naveen Jaihind

ठेके पर गुलाम होते हैं जवान नही होते : नवीन जयहिन्द

जयहिन्द ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर जवानों को अग्निपथ के तहत चार साल नौकरी करने बाद उन्हें वापिस आने पर सरकारी नौकरी देने की बात कह रहे है। हम मुख्यमंत्री से यह जानना चाहते है कि जवानों को फौज में ही पक्की अथवा सरकारी नौकरी क्यों नही दी जा सकती। जयहिन्द बताते है कि मनोहरलाल हमेशा के लिए मुख्यमंत्री नही रहेंगे जो वे चार साल बाद जवानों को नौकरी का वादा कर रहे है। साथ जी जयहिन्द ने कहा जो मुख्यमंत्री ने पहले वादे किए है उन्हें पूरा करके दिखाए। उन्होंने कहा कि अग्निपथ योजना इतनी ही अच्छी है तो सभी नेता व मंत्री अपने-अपने बच्चो को फ़ौज में भर्ती करवाए

युवाओं के भविष्य के साथ भद्दा मजाक

जयहिन्द ने बताया कि सरकार ने अग्निपथ योजना लाकर युवाओं के भविष्य के साथ भद्दा मजाक किया हैं। युवा केवल पैसों के लिए फ़ौज में नही जाते, बल्कि युवाओ में देश सेवा का जुनून होता हैं। एक युवा फौज में जाने के लिए सुबह 3-4 बजे उठता हैं और सालों साल भर्ती की तैयारी करता हैं और भर्ती होने के लिए खूब पसीना बहाते हैं। युवा फौज में नाम नमक और निशान के लिए युद्ध मे लड़ते हैं और अपने प्राणों की आहुति देश के लिए दे देते हैं। जबकि सरकार बेरोजगारों को 4 साल के लिए ठेके पर फौज में लगाना चाहती हैं जिसके बाद उन्हें फौज से निकाल दिया जाएगा।

एक्स सर्विस मैन कोटा भी खत्म हो जाएगा

अग्निपथ योजना के तहत ना तो उन्हें वो सरकारी सेवाओं का लाभ मिलेगा और ना ही पेंशन मिलेगी ओर ना ही वो सुविधाएं मिलेंगी जो वर्तमान में मिल रही हैं। इसके साथ ही एक्स सर्विस मैन कोटा भी खत्म हो जाएगा, इसलिए केंद्र की भाजपा सरकार को अपने इस फैसले पर पुर्नविचार करना चाहिए, क्योंकि भारतीय सेना की सदियों से चली आ रही मजबूत और सदृढ़ कार्य प्रणाली भी खत्म हो जाएगी।  4 साल के लिए भर्ती हुए युवा मोर्चे पर जाने से पहले ही अपने भविष्य को लेकर चिंतित हो जाएगा, जिससे उसमें मोर्चे पर जाने से पहले ही नौकरी के प्रति मन मे शंकाएं हो जाएगी।

कश्मीर के लाल चौक से फेसबुक लाइव करने वाले सांसद, विधायक को 1 लाख रुपये का इनाम
कश्मीर के लाल चौक से फेसबुक लाइव करने वाले सांसद, विधायक को जयहिन्द देगे 1 लाख रुपये का इनाम
जयहिन्द ने बताया कि कश्मीर में लोगो को टारगेट करके मार जा रहा है। देश के सांसद विधायक या मंत्री घर बैठकर कश्मीर के हिन्दुओ के पलायन पर ट्वीट कर देते हैं। यह बहुत बड़ी शर्मनाक बात हैं। अगर वास्तव में सांसद, विधायक कश्मीरी हिन्दुओ का भला चाहते हैं तो कश्मीर के लाल चौक पर जाकर 1 घण्टा फेसबुक लाइव करे तब वास्तव में देश को अहसास होगा कि देश के सांसद विधायक कश्मीरी हिन्दुओ के प्रति जवाबदेह हैं साथ ही जयहिन्द ने कहा फेसबुक लाइव करने वाले सांसद विधायको 1 लाख रुपये इनाम देने के साथ-साथ उन्हें लाल चौक पर होटल में ही ठहरने ओर खाने पीने का सब खर्चा देंगे। इस अवसर पर जिला प्रधान रामरतन शर्मा, जयदेव शर्मा, मोहित शर्मा, धर्मवीर शर्मा सिंक, नरेंद्र शर्मा, पंडित डी के शर्मा, एडवोकेट राजेश शर्मा, बलराज कारद, रामचंद्र आलूपुर, नवीन उटला, रामनिवास परदाना, राजू शर्मा व अन्य मौजूद रहे।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular