Homeहरियाणापानीपतअपहरण कर जानलेवा हमला व लूट करने के मामले में चार आरोपी...

अपहरण कर जानलेवा हमला व लूट करने के मामले में चार आरोपी गिरफ्तार 

आज समाज डिजिटल, Panipat News :
पानीपत। सीआईए टू प्रभारी इंस्पेक्टर वीरेंद्र ने बताया एकता विहार कालोनी से जसविंद्र निवासी उग्राखेड़ी का अपहरण कर जानलेवा हमला करने व पैसे लूटने की वारदात में शामिल चार आरोपियों को सीआईए टू पुलिस की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की पहचान सुनील पुत्र बलिंदर व नरेंद्र पुत्र रामरत्न निवासी बिजावा पानीपत, श्रीकांत पुत्र शिवकुमार निवासी भैसवान खुर्द सोनीपत व शोएब पुत्र इजाज अली निवासी पसोंडा गाजियाबाद यूपी के रूप में हुई है। चारों आरोपियों को सीआईए टू पुलिस की टीम ने  गुप्त सूचना पर दबिश देकर बिजावा मोड़ से गिरफ्तार कर पूछताछ की तो आरोपियों ने शराब ठेकेदार सुरेंद्र उर्फ सांडू व अजीत उर्फ जीता निवासी खलीला के कहने पर अन्य साथियों के साथ मिलकर वारदात को अंजाम देने बारे स्वीकार किया है।

आरोपियों को 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया

इंस्पेक्टर वीरेंद्र ने बताया पुछताछ में आरोपियों से खुलासा हुआ कि चारों आरोपी शराब ठेकेदार सुरेंद्र उर्फ सांडू व अजीत उर्फ जीता निवासी खलीला के शराब के ठेको पर काम करते है। आरोपी शराब ठेकेदार सुरेंद्र उर्फ सांडू व अजीत उर्फ जीता उग्राखेड़ी निवासी जसविंद्र पर एकता विहार कालोनी में अवैध शराब बेचने का शक करते थे। आरोपी शराब ठेकेदार सुरेंद्र उर्फ सांडू व अजीत उर्फ जीता के कहने पर चारों आरोपियों ने अपने अन्य साथियों के साथ मिलकर 17 जुलाई को जसविंद्र को एकता विहार कालोनी से अपहरण कर जानलेवा हमला व पैसे लूटने की वारदात को अंजाम दिया। गहनता से पुछताछ करने, वारदात में संलिप्त फरार अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने व वारदात में प्रयोग की बलैरो गाड़ी, डंडे व बर्फ तोड़ने का सूआ बरामद करने के लिए गिरफ्तार चारों आरोपियों को न्यायालय में पेश कर 3 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है।

ये है पूरा मामला

थाना चांदनी बाग में गांव उग्राखेड़ी निवासी रविंद्र पुत्र जगदेव ने शिकायत देकर बताया था कि उन्होंने एकता विहार कालोनी में किराए पर कमरे ले रखे है। वह और उसका बड़ा भाई जसविंद्र ज्यादातर वहीं पर रहते है। 17 जुलाई को वह कमरे के अंदर और भाई जसविंद्र कमरे के बाहर पेड़ के नीचे बैठा हुआ था। इसी दौरान शराब ठेकेदार सुरेंद्र उर्फ सांडू व अजीत उर्फ जीता निवासी खलीला अपने साथ सुनील व नरेंद्र निवासी बजैवा, जोनी निवासी खांडा व साहिल और दो अन्य लड़कों के साथ बलैरो गाड़ी में सवार होकर वहा पर आए और जसविंद्र को जबरदस्ती गाड़ी में डाल अपहरण करके शहर की तरफ ले गए। थोड़ी देर में आरोपी वापिस आए और जसविंद्र को गाड़ी से नीचे गिराकर उसके उपर लकड़ी के बिट्टे व बर्फ तोड़ने वाले लोहे के सुए से ताबड़तोड़ वार किए आरोपी जोनी ने हाथ में ली गंडासी से जसविंद्र के पेट व सिर में वार कर चोट मारी।

मरा हुआ समझकर मौके से फरार हो गए थे आरोपी

जसविंद्र की जेब में रखे 1700 रुपए निकालकर सभी आरोपी जसविंद्र को धमकी देते हुए की तेरे को जान से मार दिया है अगर बच गया तो फिर नही छोड़ेगे और मरा हुआ समझकर मौके से फरार हो गए। जसविंद्र को इलाज के लिए पानीपत सिविल अस्पताल लेकर गए डॉक्टरों ने जसंविद्र की गंभीर हालत को देखते हुए उसे पीजीआई रोहतक रेफर कर दिया। जसविंद्र का जिला के एक निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है। रविंद्र की शिकायत पर नामजद आरोपियों के खिलाफ थाना चांदनी बाग में आईपीसी की धारा 148,149, 307, 323, 365, 379बी, 120बी, 506 के तहत मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्रवाही अमल में लाते हुए थाना चांदनी बाग पुलिस टीम ने आरोपियों की धरपकड़ के प्रयास शुरू कर दिए थे।

ये भी पढ़ें : यादव धर्मशाला में आयोजित शिविर में 182 मरीजों के नेत्रों की हुई जांच

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular