Homeहरियाणापानीपतपूर्व पार्षद विनय गुप्ता ने किया रणदीप कवि का किया समर्थन

पूर्व पार्षद विनय गुप्ता ने किया रणदीप कवि का किया समर्थन

आज समाज डिजिटल, पानीपत :
पानीपत। जिला परिषद वार्ड 2 में पंचायती चुनाव की चहल-पहल अपने शबाब पर है। सुबह से लेकर शाम तक प्रत्याशी लगातार जनसंपर्क अभियान, डोर टू डोर कैंपेन, रोड शो व जन सभाएं कर अपना दमखम दिखा रहे हैं । चुनाव प्रचार का आखिरी दौर चल रहा है ऐसे में सभी प्रत्याशी अपना पूरा जोर लगा रहे हैं। आज वार्ड 2 में जिला परिषद चुनाव के प्रत्याशी रणदीप कवि द्वारा रोड शो का आयोजन किया गया।  रोड शो की शुरुआत गांव के मंदिर में पूजा पाठ से की गई। मंदिर में सभी ग्रामीणों ने प्रत्याशी रणदीप कवि की जीत की कामना की।

रोड शो में एक हजार गाड़ियों का काफिला निकला

उसके बाद रोड शो शुरू हुआ और धीरे-धीरे लोगों का काफिला इसमें जुड़ता चला गया। रोड शो में एक हजार गाड़ियों का काफिला निकला। समर्थक अपनी अपनी गाड़ियों से रणदीप कवि को समर्थन देने के उद्देश्य से रोड शो में आए थे। बुजुर्गों का कहना है कि उन्होंने अपने जीवन में इलेक्शन तो कई देखे मगर इस तरह का रोड शो पहली बार देखा है। रोड शो में उपस्थित समर्थकों को देखकर हर किसी की जुबान पर एक ही बात थी कि रणदीप कवि भारी मतों से जीतकर आएगा। रोड शो के चलते 15 किलोमीटर तक लंबा जाम लगा रहा, परंतु रणदीप कवि के समर्थकों के समर्थकों के उत्साह में कोई कमी नहीं आई वे लगातार रोड शो में डटे रहे।

राजनीति के पुराने खिलाड़ी भी उन्हें समर्थन दे रहे हैं

रणदीप कवि का यह पहला चुनाव है। वे समाजसेवा करने वाले किसान परिवार से हैं और परिवार में दूर-दूर तक किसी ने भी आज तक चुनाव नहीं लड़ा। हालांकि रणदीप पहली बार चुनाव लड़ रहे हैं परंतु राजनीति के धुरंधर भी उनके प्रचार अभियान को देखकर अचंभित हैं। राजनीति के पुराने खिलाड़ी भी उन्हें समर्थन दे रहे हैं। गांव की चौपालों में रणदीप कवि के प्रचार अभियान पर भी चर्चा होती है। राजनीति की समझ रखने वाले ग्रामीण मानते हैं कि जनसम्पर्क व प्रचार में रणदीप अन्य प्रत्याशियों से कोसों आगे निकल गए हैं। रणदीप कवि की मेहनत को देखते हुए पूर्व पार्षद विनय गुप्ता ने भी उनका समर्थन किया है।

समाज सेवा करने के लिए राजनीति में आए

वही रणदीप कवि का कहना है कि वह सिर्फ मेहनत करने में विश्वास रखते हैं। वह मेहनत कर रहे हैं। वह कोई राजनेता या राजनीतिक घराने से नहीं है वह गांव के बेटे हैं और समाज सेवा करने के लिए राजनीति में आए हैं। यदि बुजुर्गों, माताओं, बहनों व भाइयों ने उन्हें राजनीति के माध्यम से समाज सेवा करने का मौका दिया तो वह सरकार से ग्रांट लाकर हल्के की सभी समस्याओं का समाधान करेंगे और अच्छे तरीके से समाज सेवा कर सकेंगे। उनका कहना है कि यदि वह चुनाव जीत गए तो तमाम उम्र हलके के लोगों के एहसानमंद रहेंगे व उनकी सेवा में अपना पूरा जीवन लगा देंगे।  रोड शो के अंत में उन्होंने ग्रामीणों से अपील की कि सभी अपने बेटे को अपना कीमती वोट देकर कामयाब बनाएं। रोड शो के दौरान उन्होंने कहा उनका चुनाव चिन्ह स्कूटर है और यह स्कूटर अब रुकने वाला नहीं इसकी रफ्तार हवाई जहाज को भी पीछे छोड़ देगी।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular