Homeहरियाणापानीपतस्थापना दिवस समारोह में विद्यालय के गौरवशाली इतिहास और स्वर्णिम भविष्य के...

स्थापना दिवस समारोह में विद्यालय के गौरवशाली इतिहास और स्वर्णिम भविष्य के सपने की दिखी झलक

आज समाज डिजिटल, Panipat News :
पानीपत। ‘यहाँ शिक्षा को मिला नया आयाम है और गुरू को मिला यहाँ सच्चा सम्मान’ डॉ. एमकेके आर्य मॉडल स्कूल के प्रांगण में रविवार  को विद्यालय के निदेशक की अध्यक्षता में विद्यालय का स्थापना दिवस बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर विद्यालय के प्रधान संजीव कपूर, उपप्रबंधक रितु कपूर, प्रबंधक कमेटी के सदस्य ज्योति कपूर, प्रणव कपूर, शैक्षिक सलाहकार मंजू सेतिया, विद्यालय की भाषा व गतिविधि प्रभारी मीरा मारवाह, प्रधानाचार्य मधुप परासर, विद्यालय के प्रशासनिक अधिकारी दीपक गिरधर, अध्यापकगण व छात्र-छात्राएँ और अभिभावक उपस्थित रहे।

कार्यक्रम का आरंभ यज्ञ हवन से हुआ

कार्यक्रम का आरंभ यज्ञ हवन से हुआ। हवन की प्रज्वलित अग्नि व सामग्री ने वातावरण को पावन बना दिया  ‘ओम’ की ध्वनि से विद्यालय का संपूर्ण प्रांगण गुंजायमान हो गया। हवन यज्ञ के मुख्य यजमान विद्यालय के चेयरमैन संजीव कपूर उपप्रधान रितु कपूर व ज्योति कपूर, प्रणव कपूर, थे। इस हवन यज्ञ में यजमान पक्ष ने उपस्थित सर्वजनो के परिवार के सुख, स्वास्थ्य, आयु, ऐश्वर्य की संपन्नता की कामना की गई। हवन के पश्चात निदेशक ने विद्यालय के प्रधान संजीव कपूर, प्रबंधक कमेटी के प्रत्येक सदस्य तथा अन्य गणमान्य जनों का स्वागत किया।

शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में उनके योगदान की विस्तृत जानकारी दी

इसके उपरांत विद्यालय की छात्रा गरिमा ने सभी गणमान्य व्यक्तियों के स्वागत हेतु मधुर वचन कहे। इस अवसर पर विद्यालय के विद्यार्थियों द्वारा ‘महाराज कृष्ण कपूर के चरणों में है सौ- सौ बार नमन’ श्रद्धांजलि गीत गाया। विद्यालय के हेड गर्ल ओझल ने अपने भाषण द्वारा विद्यालय के संस्थापक डॉ. महाराज कृष्ण कपूर के व्यक्तित्व उनके संदेश एवं शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में उनके योगदान की विस्तृत जानकारी दी।

भारतीय संस्कृति को विशेष महत्व दिया

बताया कि डॉ रायबहादुर महाराज कृष्ण कपूर का जन्म पंजाब के हाफिजाबाद में एक संपन्न व शिक्षित परिवार में हुआ, जो कि अब पाकिस्तान में हैं। 1901 में लाहौर मेडिकल कॉलेज से उन्होंने शिक्षा प्राप्त की और उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए इंग्लैंड गए। अप्रतिम प्रतिभा के बल पर  पंजाब के प्रसिद्ध चिकित्सकों में अपनी जगह बनाई। वह पंजाब के प्रमुख चिकित्सकों में उनकी गणना की जाती है साथ ही भारत के मेडिकल काउंसिल के सदस्य व , विभिन्न शिक्षण संस्थाओं के सदस्य रहे। उन्होंने भारतीय संस्कृति को विशेष महत्व दिया। उन्हें अंग्रेजी सरकार द्वारा रायबहादुर के किताब से सुशोभित किया गया। डॉ .एम.के.के आर्य मॉडल स्कूल को विकसित करने में उन्होंने महान भूमिका निभाई है। विद्यालय कृष्ण जी के योगदान को सदा सर्वदा याद करता रहेगा।

 

Panipat News/Dr.MKK Arya Model School Foundation Day Celebrations
Panipat News/Dr.MKK Arya Model School Foundation Day Celebrations

बच्चों ने दी विभिन्न सांस्कृतिक प्रस्तुतियां

इस विद्यालय में बच्चों का चौमुखी विकास होता है। विद्यालय के छात्रों ने न केवल अपने देश में बल्कि विदेशों में भी इसका नाम रोशन किया है। इसके उपरांत सांस्कृतिक कार्यक्रम का प्रारंभ हुआ। बच्चों द्वारा एक सुंदर भजन जिसके बोल ‘हरि तोसे लागा जो मन, मैं तो हो गई हूँ मगन’ ने वातावरण को भक्ति मय कर दिया। शबद ‘सिमर -सिमर कर  नाम जीवा तन मन होए निहाला ‘ का  उच्चारण किया गया  जिसने सब को भावविभोर कर दिया। विद्यालय के नन्हें कलाकारों ने भगवान रामकी स्तुति करते हुए एक मनमोहक नृत्य प्रस्तुत कर सभी का मनमोह लिया।

भगवान राम और भगवान गणेश के लीलाओं का दर्शन कराया

साथ ही सुखकर्ता और दुखहर्ता मंगल दायक, सर्वमंगलकर्ता श्री गणेश भगवान की वंदना करते हुए नृत्य प्रस्तुत किया गया, जिसने सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया इस अवसर पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का मुख्य आकर्षण भगवान राम और भगवान गणेश की स्तुति जिसमें भगवान राम और भगवान गणेश के लीलाओं का दर्शन कराया गया तथा सभी पर उनकी कृपा दृष्टि बनाए रखने की प्रार्थना की गई। इसके द्वारा बताया गया कि आत्मा में ही परमात्मा का वास है, प्रेम परमात्मा का प्रतीक है जिसका लेन-देन और तोल- मोल से कोई संबंध नहीं है। यह एक सच्चे प्रेम की महत्ता है।

विद्यालय की टॉपर गरिमा को पन्द्रह हजार नगद राशि से किया सम्मानित

विद्यालय के प्रधान संजीव कपूर द्वारा विद्यालय के छात्रों को अनेक क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए पुरस्कृत किया गया। दसवीं की वार्षिक परीक्षा में विद्यालय की टॉपर गरिमा को पन्द्रह हजार नगद राशि तथा कला के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए अरमान को ग्यारह सौ नगद राशि और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। विद्यालय प्रधान संजीव कपूर ने कार्यक्रमों की प्रशंसा की  और कहा कि वास्तव में शिक्षा जीवन का आधार है। बच्चे देश का भविष्य होते हैं। उनको शिक्षित कर ही समाज और देश के विकास के बारे में सोचा जा सकता है।
पठन-पाठन के साथ-साथ अनुशासन का पाठ पढ़ाया जाता है
उन्होंने कहा कि यहाँ बच्चों को पठन-पाठन के साथ-साथ अनुशासन का पाठ पढ़ाया जाता है। सभी विद्यार्थी अनुशासन में रहते हुए परिश्रमी बने, देश समाज और मानवता के हित के लिए कार्य करें यही उनका सपना है। विद्यालय के डिप्टी हेड ब्वॉय शुभम ने प्रबंधक कमेटी के सदस्यों और गणमान्य व्यक्तियों के आगमन हेतु धन्यवाद प्रकट किया। अंत में विद्यालय के निदेशक रोशन लाल सैनी ने कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए प्रबंधक कमेटी के सदस्यों का आभार प्रकट किया व अतिथियों, शिक्षकों, छात्रों एवं अभिभावकों का धन्यवाद किया तथा विद्यार्थियों एवं विद्यालय के सुनहरे भविष्य की कामना की।

ये भी पढ़ें : विज्ञान प्रदर्शनी में नन्हें वैज्ञानिकों ने प्रस्तुत किए मॉडल

ये भी पढ़ें : मच्छरों के आतंक से छुटकारे के लिए गांव बुचोली में करवाई फॉगिंग

ये भी पढ़ें : रोहतक में भजन गायक की गला रेतकर हत्या, कमरे में पड़ा मिला शव

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular