Homeहरियाणापानीपतपानीपत : दहेज के लिए बहू पर अत्याचार

पानीपत : दहेज के लिए बहू पर अत्याचार

आज समाज डिजिटल, Panipat News :

 

पानीपत। दहेज के लिए बहू पर अत्याचार का बड़ा मामला सामने आया है। जहां उससे लाखों रुपए लेने के बाद भी पीलिए की रीत में बुलेट बाइक की मांग को लेकर उस पर कहर ढाया गया। ससुरालियों ने महिला से दो बार मारपीट करते हुए दो बार गर्भपात की गोलियां भी खिला दी। पांच साल दहेज प्रताड़ना सहन कर महिला ने मामले की शिकायत मायका पक्ष को दी। मामले की शिकायत पुलिस को भी दी गई। पुलिस ने शिकायत के आधार पर ASI ससुर समेत पति, देवर और सास पर आईपीसी की की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर मामले की आगामी कार्रवाई शुरु कर दी है।

पीलिए में की बुलेट की मांग

सेक्टर 29 थाना पुलिस को दी शिकायत में एक महिला ने बताया कि वह वार्ड 16 की रहने वाली है। वह बचपन से ही अपने मामा रामचंद्र के पास रहती है। उसकी पढ़ाई-लिखाई आदि भी मामा के यहां ही हुई है। 25 नवंबर 2016 को उसकी शादी हुई थी। ससुर हरियाणा पुलिस में एएसआई है। ससुरालियों की मांग के मुताबिक शादी में 16 लाख रुपए खर्च भी किए। शादी के कुछ दिन बाद ही ससुर, सास, पति व देवर ने उसके साथ छोटी-छोटी बात पर मारपीट करनी शुरु कर दी। 2 नवंबर 2017 को महिला को एक बेटा पैदा हुआ। मामा ने पीलिए की रीत में लाखों रुपए के आभूषण व नकदी दी। मगर ससुरालियों की बुलेट की मांग थी।

 

दूसरी बार गर्भवती हुई तो खिलाई गर्भपात की गोलियां

इस बात को लेकर करीब दो-तीन माह झगड़ा चलता रहा। इस बात का पंचायती तौर पर फैसला भी हुआ। ससुर ने दोबारा ऐसा न होने का आश्वसन भी दिया। मगर कुछ दिनों के बाद ही ससुरालियों ने उसे फिर से प्रताड़ित करना शुरु कर दिया। 15 सितंबर 2018 को महिला फिर से गर्भवती हो गई। यह बात पति समेत ससुरालियों को पता लगी तो उन्होंने कहा कि हमें पहले भी बुलेट नहीं दी है, अगर दे सकते हो तो बच्चा रख सकती है। महिला ने बुलेट देने से असथर्मता जताई तो उसके साथ मारपीट की गई। ससुर ने गर्भपात की गोलियां लाकर दी। पति और सास ने कमरे में बंधक बनाकर मारपीट करते हुए गोलियां खिला दी। जिससे गर्भपात हो गया। जब इस बारे में महिला ने अपने मायका पक्ष को बताना चाहा तो आरोपियों ने उसके बेटे को भी जान से मारने की धमकी दी।

 

एएसआई ससुर ने दी जान से मरवाने की धमकियां

ससुर ने धमकी दी की वह हरियाणा पुलिस में है। उसके पुलिस अधिकारियों के साथ अच्छे संबंध हैं। वह बहू, पौते समेत मामा, माता-पिता व भाईयों को जान से मरवा देगा और कुछ नहीं बिगड़ेगा। 17 सितंबर को वह पुन: गर्भवती हुई। ससुरालियों को पता लगने पर उन्होंने फिर से उसके साथ जबरदस्त मारपीट की। ससुरालियों की फिर से बुलेट की मांग। बुलेट नहीं देने पर वह बच्चा नहीं रख सकती है। महिला को फिर पति, देवर और सास ने उसके साथ मारपीट की। उसे फांसी पर लटकाने की कोशिश की। महिला तब भी नहीं मानी तो बेटे की पिटाई की। जिसके बाद पति और देवर ने उसके हाथ पकड़ लिए और सास ने मुंह में गोलियां डाल दी। दो दिन तक महिला को बंधक बना कर रखा। महिला ने किसी तरह आपबीती मायका पक्ष को बताई। जब महिला मायका जाने लगी तो उससे अलमारी की चाबी, जेवर, एजूकेशन सर्टिफिकेट समेत अन्य आभूषण भी छीन लिए।

 

 

 

ये भी पढ़ें :  डीईटीसी आफिस में रेड, एक्साइज इंस्पेक्टर 20 हजार की रिश्वत लेते गिरफ्तार

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular