Homeहरियाणापानीपतत्योहारी सीजन पर सतर्क होकर करें ऑनलाइन खरीदारी

त्योहारी सीजन पर सतर्क होकर करें ऑनलाइन खरीदारी

  • साइबर ठग दे सकते है ठगी की वारदात को अंजाम
  • साइबर फ्राड से बचने के लिए जिला पुलिस ने जारी की एडवाइजरी
आज समाज डिजिटल, पानीपत :
पानीपत। एसपी शशांक कुमार सावन ने एक बार फिर साइबर क्राइम के विरूध एडवाइजरी जारी करवा आमजन को सचेत करते हुए कहा कि त्योहारी सीजन में ऑनलाइन शॉपिग सोच समझकर करें। इस समय भारी भरकम डिस्काउंट के ऑफर दिए जा रहे हैं । जिसका फायदा साइबर फ्राड करने वाले ठग उठा सकते हैं। साइबर ठग फर्जी वेबसाइट बना कर लोगों को ठगने का प्रयास कर रहे हैं। ऐसे में ऑनलाइन सामान की बुकिंग करते समय ज्यादा सावधान रहने की जरुरत है। क्योंकि थोड़ी सी भी असावधानी बरतने पर आप भी साइबर ठगी का शिकार हो सकते है। खरीदारी करते समय सही कंपनी और अधिकृत वेबसाइट का ही चुनाव करें। अपनी निजी जानकारी देने से बचें साथ ही सर्च इंजन पर कस्टमर केयर नंबर ढूंढने से बचें।

साइबर अपराध के प्रति सावधान रहना अति आवश्यक

एसपी ने कहा कि साइबर ठगी से बचने का सबसे बेहतर उपाय तरीकों की जानकारी होना है, ऐसी किसी धोखाधड़ी से बचने के लिए आमजन का साइबर अपराध के प्रति सावधान रहना अति आवश्यक है। पानीपत पुलिस की ओर से साइबर क्राइम से बचाने के लिए जागरूकता माह चलाया गया है। इसी तहत जिला पुलिस की विभिन्न टीमों द्वारा आमजन को साइबर क्राइम के विरूध ज्यादा से ज्यादा जानकारी देकर जागरूक करने का प्रयास किया जा रहा है। जागरूकता ही साइबर क्राइम से बचने का बेहतर उपाय है।

साइबर फ्राड से बचने के लिए निम्न बातों का रखे ध्यान 

1.  ऑनलाइन खरीदारी करते समय चैक करें वैबसाइट के यूआरएल मे एचटीटीपीएस हो न की खाली एचटीटीपी।
2. अगर कोई अपरिचित व्यक्ति किसी एप्लीकेशन को डाउनलोड करने के लिए कहता है तो एप्लीकेशन डाउनलोड ना करें। केवाईसी करने के नाम पर आपसे 1 या 10 रुपये आपके ही बैंक अकाउंट में ट्रांसफर करने के लिए कहते हैं। तो ऐसा नहीं करें।
3. एटीएम बूथ पर पैसे निकालते वक्त सावधान रहे, सजग रहें ताकि आपका पैसा सुरक्षित रहे। कोई भी व्यक्ति कभी भी किसी एटीएम बूथ से कार्ड के द्वारा ट्रांजैक्शन करें तो अपना पिन किसी को ना बताए ना दिखाएं।
4. ट्रांजैक्शन करने में असमर्थ होने पर किसी भी अपरिचित व्यक्ति की सहायता ना लें।
5. एटीएम से पैसे निकालने में कभी मदद लेनी पड़े तो केवल बैंक के कर्मचारियों या एटीएम बूथ में मौजूद गार्ड की सहायता लें।
6. किसी भी व्यक्ति के साथ अपने बैंक डिटेल, एटीएम कार्ड नंबर, कार्ड की एक्सपायरी एवं कार्ड पर पीछे लिखे 3 डिजिट के सीवीवी नंबर को किसी के साथ शेयर ना करें।
7.  धोखाधड़ी होने की स्थिति में बैंक के कस्टमर केयर नंबर पर कॉल कर अपने बैंक को सूचित करें।
8. ऑनलाइन नेट बैकिंग इस्तेमाल करते समय ध्यान रखें कि ट्रांजेक्शन हमेशा अपने पर्सनल कम्प्यूटर/लेपटाप या फोन पर करें।
9. किसी अपरिचित नंबर से आपके पास फोन मैसेज या व्हाट्सएप मैसेज पर कोई लिंक या फोटो आए तो उस पर क्लिक ना करें।

साइबर हेल्प डेस्क या साइबर क्राइम थाना पर भी शिकायत कर सकते हैं

साइबर अपराध का शिकार होने पर तुरंत 1930 या 112 पर तत्काल कॉल कर अपनी शिकायत दर्ज कराएं या भारत सरकार के साइबर क्राइम पोर्टल के माध्यम से जिसका URL- https://cybercrime.gov.in है पर शिकायत करें। इसके अतिरिक्त मैनुअल रूप में नजदीकी थाने में जाकर थाने पर स्थापित साइबर हेल्प डेस्क या साइबर क्राइम थाना पर भी शिकायत कर सकते हैं।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular