Homeहरियाणापलवलहीट स्ट्रोक के दौरान आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकलें...

हीट स्ट्रोक के दौरान आवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकलें : उपायुक्त कृष्ण कुमार Do not leave House in Heat

गर्मी के मौसम में स्वयं को सुरक्षित रखने के लिए सावधानी बरतना बेहद जरूरी Do not leave House in Heat

लू से बचाव के लिए उपायुक्त ने बताए उपाय Do not leave House in Heat

लव कुमार धींगड़ा,पलवल:

Do not leave House in Heat: गर्मी में स्वयं को सुरक्षित रखने के लिए सावधानी रखना बेहद जरूरी है। अधिक आवश्यकता होने पर ही घर से बाहर निकलें। गर्म हवाएं व लू से शारीरिक तनाव की स्थिति उत्पन्न हो सकती है, जिससे मृत्यु भी हो सकती है। उपायुक्त कृष्ण कुमार ने कहा कि आमजन गर्मी एवं लू से बचाव के लिए थोड़ी सावधानी का ध्यान रखकर हीट स्ट्रोक से बच सकते हैं। उपायुक्त ने गर्मी एवं लू (हीट स्ट्रोक) से बचने के लिए लोगों को कुछ उपाय एवं सावधानियां बरतने की सलाह दी है।

मौसम की जानकारी के लिए रेडियो सुने, टी.वी. देखें और अखबार पढ़ें

उन्होंने कहा है कि मौसम की जानकारी के लिए रेडियो सुने, टी.वी. देखें और अखबार पढ़ें, जिससे गर्म हवाएं-लू के आने के बारें में सूचना मिल सके। गर्मी से बचने के लिए प्यास न होने पर भी पर्याप्त मात्रा में पानी पीएं। घर से बाहर जाते समय हल्के रंग और ढीली फिटिंग के सूती कपड़े, आंखो पर सुरक्षात्मक चश्में, सिर पर टोपी, पगड़ी, दुपट्टा या छतरी तथा सूती कपड़ों को प्रयोग में लाएं, पैरों में जूते व चप्पल का प्रयोग करें। यात्रा करते समय पानी साथ में रखें। अपने सिर, गर्दन और चेहरे पर नम कपड़ा रखें।(Do not leave House in Heat) तपती धूप से बचने के लिए ओ आर एस का घोल एवं घर का बना हुआ पेय पदार्थ जैसे- लस्सी, नींबू पानी, छाछ आदि अपने पास रखें और समय-समय पर पीते रहें, जोकि शरीर को फिर से हाईडेट्र करने में मदद करते हैं। हीट स्ट्रोक, गर्मी से ऐठन जैसे कमजोरी, चक्कर आना, सिरदर्द, मितली (उल्टी) और दौरे के लक्षणों को पहचाने तथा यदि आप बेहोश या बीमार महसूस कर रहे हैं तो तत्काल चिकित्सक से संपर्क करें।

पशुओं एवं जानवरों को छाया में रखें Do not leave House in Heat

इसी प्रकार पशुओं एवं जानवरों को छाया में रखें और उन्हें पीने का पर्याप्त पानी दें। उन्हें छप्परों या फिर छायादार वृक्षों या फिर छायादार स्थानों पर बांधने की व्यवस्था करें। अपना घर ठंडा रखें, दिन के दौरान पर्दे, शटर का प्रयोग करें। रात में खिड़कियां खुली रखें। पंखों, नम कपड़ों का प्रयोग करें।(Do not leave House in Heat) ठंडे पानी से स्नान करें। कार्यस्थल के पास ठंडा पेयजल उपलब्ध करवाएं।

श्रमिकों को प्रत्यक्ष सूर्य के समक्ष होने वाले कार्यो से बचाएं। श्रमयुक्त कार्यो को दिन के ठंडे समय के दौरान करें। बाहरी गतिविधियों के दौरान आराम के समय को बढाएं। गर्भवती, मजदूरों का चिकित्सकीय परामर्श की स्थिति में अतिरिक्त ध्यान देना चाहिए। गर्भवती महिलाओं को चाहिए कि वे छाया वाले स्थानों में रहें, यदि कोई परेशानी आती हैं तो वे तुरन्त डॉक्टरों से सम्पर्क करें।

इन बातों का रखें विशेषकर ध्यान Do not leave House in Heat

उपायुक्त कृष्ण कुमार ने लोगों को सावधान करते हुए कहा कि अपने बच्चों व पालतू जानवरों को पार्किंग की गई गाड़ियों में न छोड़ें। दोपहर 12 बजे से 3 बजे के बीच बाहर जाने से बचें। भारी काले व तंग कपड़ें न पहनें। तापमान अधिक होने की स्थिति में श्रमयुक्त कार्य करने से बचें।(Do not leave House in Heat) दिन के गर्म समय में खाना पकाने से बचें। खाना बनाते समय दरवाजे, खिड़कियां और रोशनदान खुले रखें। शराब, चाय, कॉफी और कार्बोनेटेड शीतल पेय से बचें, जो शरीर में पानी की कमी करते हैं। उच्च प्रोटीनयुक्त व बासी भोजन का सेवन न करें।

Read Also : डीएवी पीजी कॉलेज करनाल के प्रिसिंपल डॉ रामपाल सैनी चुने गए कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय कुरुक्षेत्र की सांस्कृतिक परिषद के अध्यक्ष: President Of The Cultural Council Of Kurukshetra

Read Also : आजादी के अमृत महोत्सव के तहत सरकार ने शुरू किया नगर दर्शन पोर्टल, डिजिटलाइजेशन की तरफ बढ़ाया एक ओर कदम: Nagar Darshan Portal

Connect With Us : Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular