Homeराज्यहरियाणाशहजादपुर: नौ तारीख को गर्भवती की जांच के लिए लगता है शिविर

शहजादपुर: नौ तारीख को गर्भवती की जांच के लिए लगता है शिविर

नवीन मित्तल, शहजादपुर:
ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाएं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र (पीएचसी) ग्रामीणों को बेहत्तर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवा रहे है। कोविड-19 के संकट काल में भी यह पीएचसी स्वस्थ हरियाणा-सशक्त हरियाणा के लक्ष्य को साकार कर रहे है। सीएचसी शहजादपुर के अन्तर्गत आने वाली पीएचसी कुराली लोगों को बेहत्तर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए कृत संकल्प है। इस पीएचसी के डॉक्टरों व स्वास्थ्य कमीर्यों ने कोविड-19 महामारी से बचाव व लोगों को जागरूक करने में महत्वपूर्ण में भूमिका निभाई है।
पीएचसी कुराली की इंचार्ज डॉ. नीतिका ने बताया कि पीएचसी के अन्तर्गत पांच सब-सैंटर खानपुर, बड़ागांव, पंजलासा, कुराली तथा बधौली आते है। जिसके अन्तर्गत लगभग 26 हजार 600 की जनसंख्या को स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाती है। उन्होंने बताया कि 17 हजार 336 लोगों को कोविड-19 रोधी टीका लगाया जा चुका है तथा शेष लोगों को भी वैक्सीन लगाने तथा सैम्पलिंग का कार्य जारी है। जो भी वैैैक्सीन और सैम्पलिंग का कार्य किया जाता है उसे प्रतिदिन आॅन लाइन किया जाता है। लोगों को ज्यादा से ज्यादा सैंपलिंग और वैक्सीन के लिए जागरूक किया जाता है।
पीएचसी एवं सब-सैंटर के स्वास्थ्य कमीर्यों  द्वारा लोगों को कोविड-19 के बारे में जागरूक भी किया जाता है कि वे वैक्सीन लगवाने के बाद भी मास्क लगाएं, हाथों को नियमित रूप से साबुन पानी से धोएं या सैनिटाइजर का प्रयोग करें, सोशल डिस्टेंसिंग रखें तथा भीड-भाड़ से बचें। जिन लोगों ने अब तक वैक्सीन की डोज नहीं ली है, वे वैक्सीन अवश्य लगवाएं तथा वैक्सीन की दूसरी डोज निर्धारित अवधि पर अवश्य लगवाएं। कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिये वैक्सीन लगवाना बेहद आवश्यक है। लोगों को खान-पान सम्बंधी भी जानकारी दी जाती है।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular