Homeहरियाणानूंहडीएचबीवीएन करेगा उपभोक्ताओं की शिकायतों का निवारण

डीएचबीवीएन करेगा उपभोक्ताओं की शिकायतों का निवारण

सुरेन्द्र दुआ,नूंह:

दक्षिण हरियाणा बिजली वितरण निगम उपभोक्ताओं को विश्वसनीय, अच्छी वोल्टेज और निर्बाध बिजली की आपूर्ति के लिए प्रतिबद्ध है। श्पूर्ण उपभोक्ता संतुष्टिश् के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए बिजली निगम द्वारा अनेक महत्वाकांक्षी कार्यक्रम प्रारंभ किये गए हैं ताकि उपभोक्ताओं की समस्याओं को त्वरित रूप में सुलझाया जा सके। इस संबंध में जानकारी देते हुए निगम के कार्यकारी अभियंता कुलदीप अत्री  ने बताया कि दक्षिणी हरियाणा बिजली वितरण निगम के नूंह डिविजन में बिजली उपभोक्ताओं की समस्याओं के संदर्भ में आगामी 29 सितंबर को सुबह 11 बजे ओल्ड रैस्ट हाउस के नजदीक बिजली कार्यालय, नूंह में अधीक्षक अभियंता जोगेन्द्र हुड्डड्ढा बिजली विभाग पलवल की अध्यक्षता में डिविजन उपभोक्ता शिकायत निवारण न्यायाधीकरण का आयोजन किया जाएगा।

बैठक में शिकायतों पर की जाएगी सुनवाई

कुलदीप अत्री ने बताया कि इस बैठक में जिनमें मुख्यत: गलत बिलिंग, वोल्टेज सरचार्ज, मीटरिंग से सम्बंधित शिकायतें, कनैक्शन काटने और जोडऩे, बिजली आपूर्ति में बाधाएं, सिक्योरिटी भुगतान, कार्यकुशलता, विश्वसनीयता में कमी आदि शामिल हैं से संबंधित शिकायतों पर सुनवाई की जाएगी। उपभोक्ताओं को शिकायत का विस्तृत विवरण सत्यापित फोर्म के साथ देना होगा ताकि उनकी समस्या का समाधान शीघ्र किया जा सके। वहीं, बीते दिनों हुई बरसात के दौरान जलभराव की समस्या से निपटने की त्वरित कार्यवाही के लिए राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं वित्तायुक्त वीएस कुंडू ने जिला प्रशासन की सराहना की है।  जिला में जिस तेजी से रिहायशी व कृषि क्षेत्रों में जल निकासी के पुख्ता प्रबंध किए गए। प्रभावित क्षेत्रों का अधिकारियो  द्वारा दौरा किया और फील्ड पर जिला प्रशासन की टीम का एक्शन नजर आया। राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं वित्तायुक्त वीएस कुंडू ने यह बात मंगलवार को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से नूह सहित राज्य के सभी जिलों में बरसात के प्रभावों की समीक्षा करते हुए कही।

बरसात से रिहायशी क्षेत्रों में हुए जलभराव की तुरंत निकासी की जाए

डीसी अजय कुमार ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से अतिरिक्त मुख्य सचिव को  जिला की स्थिति से अवगत कराया। उन्होंने  बताया कि  जिला में 200 एम एम बरसात हुई है साढ़े पांच से 6 हजार एकड़  प्रभावित  हुईं हैं 32 गाँवों  में  पानी  है  22 पम्प  पानी  निकालने  के  लिये  लगाए  गए हैं । अतिरिक्त मुख्य सचिव ने निर्देश देते हुए कहा कि बरसात से रिहायशी क्षेत्रों में हुए जलभराव की तुरंत निकासी की जाए व कृषि क्षेत्र में आगामी 15 अक्टूबर तक निकासी का कार्य पूरा कर लिया जाए। जिससे किसानों को रबी सीजन की फसलों की बुवाई में किसी प्रकार की परेशानी न आए। वहीं, अक्टूबर माह में होने वाले जिला स्तरीय सांस्कृतिक उत्सव के लिए जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी मुकेश कुमार यादव व कार्यक्रम की संयोजिका कुसुम मलिक ने अध्यापकों को लेकर एक बैठक आयोजित की ।

जिला स्तरीय सांस्कृतिक उत्सव 11 व 12 अक्टूबर को

बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी ने कार्यक्रम स्थल का दौरा किया और सांस्कृतिक उत्सव को सफल बनाने हेतु दिशा निर्देश दिए । बैठक में जिला संयोजिका कुसुम मलिक ने बताया कि जिला स्तरीय सांस्कृतिक उत्सव 11 व 12 अक्टूबर 2022 को राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय नूंह -2 में आयोजित किया जाएगा । कार्यक्रम में प्रत्येक खंड से प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान पर आने वाली समूह नृत्य,  एकल नृत्य,  हरियाणवी रागनी और स्किट की टीमें भाग लेंगी । सभी अध्यापकों को उनकी जिम्मेदारियां दी गई ताकि  कार्यक्रम सफलतापूर्वक संपन्न हो सके। बैठक में राजकीय मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय के प्राचार्य रविंद्र जैन पूरे कार्यकर्म की तैयारी को अपनी देख रेख में देखेंगे।

ये भी पढ़ें: जाम की स्थिति को लेकर उठाये जाएंगे उचित कदम: संजय भाटिया

ये भी पढ़ें: शिक्षामंत्री कंवरपाल का राजेंद्र धीमान को एचपीएससी का सदस्य बनाने पर धन्यवाद

ये भी पढ़ें: नव दुर्गा युवा मंडल का 19वां महाविशाल मां भगवती जागरण सम्पन्न

 Connect With Us: Twitter Facebook

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular