Homeराज्यहरियाणारोहतक: विश्व विजेता को चौंका निवेदिता ने जीता स्वर्ण

रोहतक: विश्व विजेता को चौंका निवेदिता ने जीता स्वर्ण

संजीव कुमार, रोहतक:
उत्तराखंड की निवेदिता कार्की ने शानदार प्रदर्शन करते हुए शुक्रवार को सोनीपत के दिल्ली पब्लिक स्कूल (डीपीएस) में आयोजित चौथी युवा पुरुष और महिला राष्ट्रीय मुक्केबाजी चैंपियनशिप में विश्व युवा चैंपियन गीतिका को हराकर स्वर्ण पदक हासिल किया।
पिछले साल फरवरी में स्वीडन में गोल्डन गर्ल बॉक्स कप में देश के लिए स्वर्ण पदक जीतने के बाद सुर्खियां बटोरने वाली निवेदिता ने हरियाणा की मुक्केबाज गीतिका के खिलाफ महिलाओं के 48 किग्रा भार वर्ग फाइनल में साहसिक प्रदर्शन करते हुए मैच के परिणाम को अपने पक्ष में 3- 2 से झुका दिया।
कोविड -19 महामारी के बाद घरेलू मुक्केबाजी की सफल वापसी को चिह्नित करने वाली इस युवा चैंपियनशिप के चौथे संस्करण में हरियाणा और सर्विसेज खेल नियंत्रण बोर्ड (एसएससीबी) का वर्चस्व देखा गया।
हरियाणा की महिलाओं में अपनी टीम चैंपियनशिप खिताब को बरकरार रखने में सफलता हासिल की जबकि एसएससीबी ने पुरुषों की श्रेणी का चैम्पियन बनने का गौरव हासिल किया। हरियाणा ने महिला वर्ग में 7 स्वर्ण और 5 रजत सहित 12 पदकों के साथ अपने सफल अभियान का समापन किया, जबकि एसएससीबी ने पुरुषों की स्पर्धा में 10 पदक (7 स्वर्ण और 3 रजत) के साथ शीर्ष स्थान हासिल किया।
दिन के पहले मुकाबले में गीतिका की हार के बाद, तमन्ना ने गत चैंपियन हरियाणा को महिला वर्ग में अपना पहला स्वर्ण दिलाया। टूनार्मेंट में लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहीं तमन्ना ने 50 किग्रा भार वर्ग के फाइनल में राजस्थान की अंजलि चौधरी को एकतरफा अंदाज में 5-0 से मात दी।
नेहा (54 किग्रा), प्रीति (57 किग्रा), प्रीति दहिया (60 किग्रा), लशु यादव (70 किग्रा), खुशी (63 किग्रा) और दीपिका (+81) महिला वर्ग में हरियाणा की अन्य स्वर्ण पदक विजेता रहीं। हरियाणा के पुरुषों मुक्केबाजों ने भी इस टूनार्मेंट में प्रभावित किया और कुल नौ पदकों, जिनमें 4 स्वर्ण और 5 रजत शामिल हैं, के साथ दूसरे स्थान पर रहे। 2021 विश्व युवा चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता विश्वामित्र चोंगथम ने पुरुषों की स्पर्धा में एसएससीबी के लिए शानदार सफर का नेतृत्व किया। लगातार अच्छा खेल रहे चोंगथम ने 51 किलोग्राम भार वर्ग में स्वर्ण पदक हासिल करने के लिए हिमाचल प्रदेश के अभिनव कटोच को एकतरफा अंदाज में 5-0 से हरा दिया। विश्वनाथ सुरेश (48 किग्रा), विक्टर सिंह शैकोम (54 किग्रा), विजय सिंह (57 किग्रा), रविचंद्र सिंह (60 किग्रा), जयदीप रावत (71 किग्रा) और दीपक (75 किग्रा) एसएससीबी के लिए स्वर्ण पदक जीतने वाले अन्य खिलाड़ी रहे।
इस युवा चैंपियनशिप में देश भर से 479 मुक्केबाजों ने भाग लिया। इसके बाद जूनियर बॉयज नेशनल चैंपियनशिप का तीसरा संस्करण और जूनियर गर्ल्स नेशनल चैंपियनशिप का चौथा संस्करण आयोजित किया जाएगा, 26 से 31 जुलाई तक निर्धारित है।
यूथ और जूनियर नेशनल चैंपियनशिप मुक्केबाजों को अपने कौशल का प्रदर्शन करने का एक अच्छा अवसर किया। इसमें सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले मुक्केबाजों को 2021 एएसबीसी (अरइउ) यूथ एंड जूनियर बॉक्सिंग चैंपियनशिप के लिए चुना जाएगा, जो 17-31 अगस्त तक दुबई में होने वाली है।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular