Homeहरियाणापानीपतअंत्योदय उत्थान योजना में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी

अंत्योदय उत्थान योजना में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी

आज समाज डिजिटल, पानीपत:

पानीपत। मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना के मिशन निदेशक मंदीप सिंह बराड़ ने शुक्रवार को लघु सचिवालय के द्वितीय तल स्थित हाल में बैंक अधिकारियों व सम्बंधित विभागों के अधिकारियों को दो टूक शब्दों में चेतावनी देते हुए कहा कि सभी सुनिश्चित कर लें कि वे 3 जून तक सम्बंधित पात्र व्यक्तियों को उक्त योजना का लाभ हर हाल में प्रदान कर देंगे। प्रदेश सरकार की उक्त योजना के प्रति गम्भीरता देखते हुए इसे कोई भी बैंक व विभागीय अधिकारी हल्के में ना ले क्योंकि मुख्यमंत्री ने स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि 6 जून से मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना का दूसरा चरण शुरु किया जाएगा। अब तक की समीक्षा में स्पष्ट तौर पर यही झलक रहा है कि बैंकों ने धरातल पर काम नही किया है।

 

अंत्योदय उत्थान योजना में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी
अंत्योदय उत्थान योजना में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी

योजना को लेकर किसी भी स्तर पर लापरवाही सहन नहीं की जाएगी

उन्होंने स्पष्ट तौर पर कहा कि बैंक अपना रवैया सुधारना चाहते हैं या इसी तरह काम करना चाहते हैं ये वे स्वयं तय कर लें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अंत्योदय परिवार उत्थान योजना प्रदेश सरकार की एक महत्वकांक्षी योजना है। इस योजना को लेकर प्रदेश में जीरो टालरेंस पॉलिसी पर काम किया जा रहा है। इस योजना के तहत प्रदेश के गरीब से गरीब एक-एक परिवार पर फोकस रखा जा रहा है। इतना ही नही मुख्यमंत्री मनोहरलाल स्वयं इस योजना की समीक्षा करते हैं और गरीब से गरीब परिवारों को योजना का लाभ देने की चिंता करते हैं। उन्होंने सभी अधिकारियों को कड़े रूप से निर्देश देते हुए कहा कि इस योजना को लेकर किसी भी स्तर पर लापरवाही सहन नहीं की जाएगी। अगर किसी भी स्तर पर कोई कमी मिली तो कार्यवाही करने में देरी नहीं की जाएगी।

लाभार्थियों से संवाद किया

उन्होंने कहा कि इस योजना को लेकर प्रदेश सरकार का लक्ष्य है कि जल्द से जल्द परिवार पहचान पत्र के डाटा के अनुसार गरीब से गरीब परिवार की आय को सालाना एक लाख 80 हजार रुपये तक पहुंचाने का है। उन्होंने अतिरिक्त उपायुक्त कार्यालय में स्वयं योजना के लाभार्थियों से संवाद किया और उनसे योजना के लाभ मिलने के बारे जानकारी हासिल की। इस फीडबैक से जो भी तथ्य सामने आए उन सभी तथ्यों को प्रशासनिक अधिकारियों, बैंक अधिकरियों के साथ सांझा किया। बैठक में जिला उपायुक्त सुशील सारवान, अतिरिक्त उपायुक्त वीना हुड्डा, सीटीएम राजेश सोनी, सीईओ जिला परिषद विवेक चौधरी, अतिरिक्त सीईओ जिला परिषद रविन्द्र मलिक, सीएमजीजीए पराग जसवाल व बैंक अधिकारियों के साथ अन्य सम्बंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

 

 

अंत्योदय उत्थान योजना में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी
अंत्योदय उत्थान योजना में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी

49 योजनाओं का दिया जा रहा है लाभ

मुख्यमंत्री परिवार उत्थान योजना के मिशन निदेशक मंदीप बराड़ ने जानकारी देते हुए बताया कि 18 विभागों की 49 योजनाओं का लाभ गरीब परिवारों को दिया जा रहा है। इस योजना के तहत सभी विभागों की योजनाओं को एकीकृत किया गया है। प्रदेश सरकार इस योजना के तहत एक-एक आवेदक पर फोकस कर रही है और विभिन्न विभागों के माध्यम से गरीब व्यक्तियों को लाभ पंहुचाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि इन सांझे प्रयासों से ही सरकार के इस मिशन को सफलता मिलेगी और एक-एक परिवार को योजना का लाभ मिलेगा।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular