Homeहरियाणारोहतकएमडीयू में राष्ट्रीय ध्वज वंदन कार्यक्रम ने जमाया रंग

एमडीयू में राष्ट्रीय ध्वज वंदन कार्यक्रम ने जमाया रंग

संजीव कौशिक, रोहतक:

भारत की आन-बान-शान इस तिरंगे के मान-सम्मान के लिए असंख्य स्वतंत्रता सेनानियों ने अपनी जान की कुर्बानी दी। भारत की युवा पीढ़ी को अपनी शहीदों को नमन करते हुए राष्ट्रीय ध्वज का गौरव बरकरार रखने का आह्वान महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय में आयोजित राष्ट्रीय ध्वज वंदन कार्यक्रम में किया गया।

राष्ट्रीय ध्वज वंदन में ओमप्रकाश यादव रहे मुख्य अतिथि

आजादी के अमृत महोत्सव के तहत- हर घर तिरंगा अभियान को समर्पित इस विशेष राष्ट्रीय ध्वज वंदन कार्यक्रम में हरियाणा के सामाजिक न्याय और सशक्तीकरण राज्यमंत्री ओम प्रकाश यादव ने बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की। ओम प्रकाश यादव ने अपने संबोधन में भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन में योगदान देने वाले महान विभूतियों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान पर पूरे भारत में हर घर तिरंगा अभियान जन-जन में राष्ट्र प्रेम की भावना को मजबूत कर रहा है।

उन्होंने कहा कि महर्षि दयानंद विश्वविद्यालय ने इस कार्यक्रम के आयोजन से अनूठी पहल की है। हरियाणा के पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष ग्रोवर ने विशिष्ट अतिथि के तौर पर कार्यक्रम में शिरकत की। मनीष ग्रोवर ने कहा कि पूरा भारत आज हर घर तिरंगा पर्व मना रहा है। देश के स्वतंत्रता सेनानियों ने संघर्ष और त्याग के साथ भारत को आजाद कराया है। युवा पीढ़ी तथा विद्यार्थियों को तिरंगा का मान-सम्मान कर स्वतंत्रता सेनानियों को श्रद्धापूर्वक स्मरण करने की जरूरत है।

कुलपति प्रो. राजबीर ने दिया अध्यक्षीय भाषण

एमडीयू कुलपति प्रो. राजबीर सिंह ने कार्यक्रम में अध्यक्षीय भाषण देते हुए कहा कि आजादी का अमृत उत्सव उन अमर शहीदों को नमन करने तथा संकल्प लेने का है कि राष्ट्रीय ध्वज के मान-सम्मान के प्रति कोई आंच नहीं आने देंगे। उन्होंने बताया कि एमडीयू पूरे वर्ष आजादी का अमृत महोत्सव श्रृंखला के तहत अनेक कार्यक्रमों का आयोजन करेगा, जिससे कि युवा वर्ग में राष्ट्र प्रेम की भावना प्रशस्त हो।

कुलपति ने प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी भिखाजी कामा को 13 अगस्त पर उनकी पुण्यतिथि पर याद किया। कुलपति ने बताया कि मैडम भिखाजी कामा ने पहली बारे विदेशी जमीन-स्टटगर्ट, जर्मनी में 22 अगस्त 1907 को भारतीय ध्वज फहराया था। कुलपति ने वर्तमान तिरंगा के सृजक स्वतंत्रता सेनानी पिंगली वैकैंया को भी श्रद्धांजलि दी।

स्लोगन लेखन प्रतियोगिता के विजेता भी सम्मानित

विश्वविद्यालय के खेल स्टेडियम में आयोजित इस कार्यक्रम में- हर घर तिरंगा स्लोगन लेखन प्रतियोगिता के विजयी प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया गया। आज के कार्यक्रम में प्रतिष्ठित कलाकार तथा सहायक प्रोफेसर संगीत विभाग डा. सौरभ वर्मा ने देश प्रेम का दीप प्रज्ज्वलित करते हुए जोशीला गीत- सुनो गौर से दुनिया वालों, सबसे आगे हम हिन्दुस्तानी प्रस्तुत किया।

रसायनशास्त्र विभाग की छात्रा शीतल ने- ऐ मेरे वतन के लोगों की भाव प्रवण प्रस्तुति दी। जीवीएम कन्या महाविद्यालय, सोनीपत की छात्रा ने राष्ट्रभक्ति से पूर्ण कोरियोग्राफी प्रस्तुत की। कार्यक्रम में मंच संचालन निदेशक युवा कल्याण डा. जगबीर राठी ने किया।  इससे पूर्व, सेंटर फॉर योगिक स्टडीज के निदेशक प्रो. सुरेन्द्र कुमार ने स्वागत भाषण दिया। आभार प्रदर्शन कुलसचिव प्रो. गुलशन लाल तनेजा ने किया।

शानदार राष्ट्रीय ध्वज वंदन कार्यक्रम का समापन

जोश-जुनून से संचालित तिरंगा यात्रा से हुआ। विश्वविद्यालय के खेल परिसर से तिरंगा झंडा हाथ में लिए विशिष्ट अतिथियों तथा प्रतिभागी एनएसएस वालंटियर्स, यूथ रेडक्रॉस वालंटियर्स, एनसीसी कैडेट्स, यूनिवर्सिटी कैंपस स्कूल तथा ग्रामीण अंचल से गांव गढ़ी बल्लम, माढौदी रांगडान, माढौदी जाटान, भाली आनंदपुर के विद्यार्थी, एमडीयू के शोधार्थी, विद्यार्थी, प्राध्यापक, गैर शिक्षक कर्मी, रोहतक के नागरिक तिरंगा यात्रा में शामिल हुए। वंद मातरम, भारत माता की जय के नारों से गूंजता विश्वविद्यालय परिसर राष्ट्रीय ध्वज के प्रति मान-सम्मान की भावना का मुखर संदेश दे गया।

SHARE
Mohit Sainihttps://indianews.in/author/mohit-saini/
Sub Editor at Indianews.in | Indianewsharyana.com | IndianewsDelhi.com | Aajsamaj.com | Manage The National and Live section of the website | Complete knowledge of all Indian political issues, crime and accident story. Along with this, I also have some knowledge of business.
RELATED ARTICLES

Most Popular