Homeराज्यहरियाणाकैथल : पालिका कर्मचारियों का प्रदर्शन 24 सितंबर को

कैथल : पालिका कर्मचारियों का प्रदर्शन 24 सितंबर को

मनोज वर्मा, कैथल :
नगरपालिका कर्मचारी संघ सम्बद्ध सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा ने हटाये गए पालिका कर्मचारियों को अतिशीघ्र ड्यूटी पर लेने,एससी गुडगांव को गलत तरीके से निलंबित करने के विरोध में व अन्य लम्बित माँगो को लेकर नगरपरिषद कार्यालय पर गेट मीटिंग की। जिसकी अध्यक्षता ब्लॉक प्रधान महेन्द्र बिड़लान ने व संचालन ब्लॉक सचिव विक्की टाँक ने किया। नगरपालिका कर्मचारी संघ हरिषयाणा के राज्य उपमहासचिव शिवचरण,राज्य उपप्रधान राजेन्द्र सिन्नद,राज्य कमेटी सदस्य जयप्रकाश टीक व सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के जिला सचिव रामपाल शर्मा ने कहा कि, राज्य सरकार पालिका कर्मचारियों के साथ वादाखिलाफी करके विश्वासघात कर रही है और 25 अपैल व 17 अगस्त 2020 को हुए समझोते के परिपत्र जारी नही कर रही है। जिसको लेकर संगठन को बार बार आंदोलन करना पड़ रहा है। उन्होंने बताया कि सर्व कर्मचारी संघ के आह्वान पर 27 सितंबर को निजीकरण विरोधी दिवस की तैयारी को लेकर कल जवाहर पार्क में होने वाली जिला विस्तारित मीटिंग में पालिका कर्मचारी बड़ी संख्या में भाग लेंगे। उन्होंने आगे कहा कि, राज्य सरकार फायर विभाग को राजस्व विभाग में शामिल करके हमारी एकता तोडकर रोजगार छीनना चाहती है। जिसे बिल्कुल भी सहन नहीं किया जायेगा।

लम्बित मुख्य मांगो में कोरोना से मृत्य हुए कर्मचारियों को 50 लाख रुपए मुआवजा, परिवार के सदस्य को स्थाई नौकरी, सफाई, फायर, दफ्तर के सभी कर्मचारियों को 4000,रुपए जोखिम भता , फायर के 1366 कर्मचारियों को 2268 फयार आपरेटर के पदों पर मर्ज करना, ठेकेदारी प्रथा समाप्त करके 2, साल के सभी कर्मचारियों को पक्का करना ,नगरपालिकाओ, नगरपरिषदों व नगरनिगमो में आबादी क्षेत्रफल के अनुसार सफाई ,दफ्तर व फायर के कर्मचारीओं की स्थाई भर्ती करना,खाली पड़े पदो पर स्थाई भर्ती की जाए, पे रोल के कर्मचारियों को स्वीकृत पदों पर करके समान काम समान वेतन व बकाया एरियर दिया जाए ,डोर टू डोर के सफाई कर्मचारियों को डी सी रेट के अनुसार वेतन जारी करवाने, पिछला बकाया एरियर देने व ईएसआई व ईपीएफ समय पर जमा करवाने, पुरे सुरक्षा उपकरण देने ,सभी दारोगाओं की बीट पर महिला कर्मचारियों के लिए शौचालय व स्टोर का प्रबंध करना, 30 मार्च के विभागीय पत्र के अनुसार कच्चे कर्मचारियों को समान काम, समान वेतन लागू करवाने, फायर व दफ्तर के सभी कर्मचारीओं को हर महीने 4 डेटॉल साबुन व 1 लिटर सरसों का तेल देना व सभी कर्मचारियों को महीने की 7 तारीख तक वेतन का भुगतान करना , सफाई कर्मचारियों को दप्तरों व स्थानीय स्तर पर जनप्रतिनिधियों के घरों की सफाई करवाने की बेगार को बंद करते हुए उनसे फील्ड में सफाई का काम लेना, ताकि शहर की सफाई व्यवस्था को दुरुस्त किया जाए। उन्होंने बताया कि एससी गुडगांव के गलत तरीके से निलंबन के विरोध में व हटाये गए सभी पालिका कर्मचारियों को वापिस ड्यूटी पर लेने की माँग को लेकर 24 सितंबर को काले झंडे व उल्टे झाड़ू लेकर सभी शहरों व कस्बों में जोरदार प्रदर्शन किए जाएंगे। इस अवसर पर ब्लॉक कैशियर जगदीश कुमार, मुख्य संगठन कर्ता,अनिल टाँक, विजय गिल,लकी पुहाल, अमित क्योडक, रामदेव, अमित कुमार, सीमा, रेखा,दीपक चंडालिया, गौरव टाँक, दप्तर से बलवान,अजय बुरा, जोबन सिंह, सतपाल फौजी, विक्की शर्मा,फायर से ब्लॉक प्रधान मनोज कुमार व सुल्तान सहित सैंकड़ो कर्मचारी उपस्थित रहे।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular