Homeहरियाणामहेंद्रगढ़बिजली के अघोषित कटों ने बढ़ाई मुसीबत, गांवों में बिजली-पानी संकट गहराया

बिजली के अघोषित कटों ने बढ़ाई मुसीबत, गांवों में बिजली-पानी संकट गहराया

आज समाज डिजिटल,सतनाली:
एक ओर तापमान वृद्धि के चलते गर्मी जहां दिनों दिन अपने तेवर दिखा रही है वहीं गर्मी के बीच सतनाली व क्षेत्र के गांवों में लग रहे बिजली के अघोषित कटों ने ग्रामीणों व आमजन के पसीने छुड़ा दिए है। क्षेत्र के गांवों में रोजाना बार-बार कम समय के अंतराल में ही बिजली के अघोषित लंबे लंबे कट लग रहे है जिस कारण गर्मी से लोगों का बुरा हाल है। आलम यह है कि लोग गांवों में अपने खेतों में घने पेडो की छाव में आराम पर गर्मी से राहत पाने का प्रयास कर रहे है लेकिन गर्म हवाओं व लू के कारण उन्हें राहत नहीं मिल पा रही है। ग्रामीणों की माने तो उन्हें अघोषित कटों के कारण लगातार एक घंटे भी नहीं मिल पा रही।

घटिया क्वालिटी की बिजली की केबलों में आए दिन हो रहे फॅाल्ट

एक पखवाड़े से क्षेत्र में लगातार बिजली के अघोषित कट जारी हैं। यहां लगाई गई घटिया क्वालिटी की बिजली की केबलों में आए दिन फॅाल्ट रहने के कारण तो संकट ओर भी गंभीर हो गया है। ग्रामीणों ने बताया कि गर्मी से पहले विभाग द्वारा पर्याप्त मात्रा में बिजली आपूर्ति सुनिश्चित करने के दावे किए गए थे लेकिन गर्मी में ज्यों ज्यों तापमान बढ़ता गया वैसे वैसे विभाग के दावे भी हवा हवाई होते नजर आ रहे है।
इन दिनों पारा 40 से 44 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है तथा दिनभर मेहनत से थके हारे लोगों को रात में चैन की नींद भी नसीब नहीं हो पा रही है। गर्मी में बिजली संकट के चलते पेयजल आपूर्ति भी चरमरा गई है तथा बिजली के साथ-साथ पेयजल संकट भी गहरा गया है। वहीं गर्मी में सबसे अधिक बुरा हाल तो बच्चों व बुजूर्गो का है, उन्हें गर्मी का सामना करने में भारी परेशानी उठानी पड रही है। ग्रामीणों ने सरकार व प्रशासन से मांग की है कि उन्हें पर्याप्त मात्रा में निर्बाध रूप से बिजली आपूर्ति की जाए ताकि गर्मी के मौसम में उन्हें परेशानी का सामना न करना पडे।
SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular