Homeहरियाणामहेंद्रगढ़पेयजल कनेक्शन को परिवार पहचान पत्र से लिंक करने में महेंद्रगढ़ 10वे...

पेयजल कनेक्शन को परिवार पहचान पत्र से लिंक करने में महेंद्रगढ़ 10वे स्थान पर

नीरज कौशिक, महेंद्रगढ़:
जल जीवन मिशन के तहत जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग की ओर से ग्रामीण क्षेत्र के सभी पेयजल कनेक्शन को परिवार पहचान पत्र से मैपिंग किया जा रहा है।

परिवार पहचान पत्र अत्यंत जरूरी

जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के कार्यकारी अभियंता आरएस मलिक ने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत जिन ग्रामीण परिवारों को पेयजल कनेक्शन मिला है। उनको हरियाणा सरकार परिवार पहचान पत्र से लिंक करवा रही है, जिससे कि उपभोक्ताओं को पहले से और अधिक बेहतर सुविधाएं प्रदान की जा सके। उन्होंने कहा अब हरियाणा सरकार की कोई भी सहायता परिवार पहचान पत्र के बिना संभव नहीं है। सभी विभाग नागरिकों को दी जा रही सुविधाओं को परिवार पहचान पत्र से लिंक करने का कार्य शुरू कर चुके हैं। इसी कड़ी में अब ग्रामीण क्षेत्र के सभी पेयजल उपभोक्ताओं के पेयजल कनेक्शन को परिवार पहचान पत्र से लिंक किया जा रहा है।

पेयजल कनेक्शन परिवार पहचान पत्र से लिंक

इसके लिए सिटीजन रिसर्च इंफॉर्मेशन डिपार्टमेंट की वेबसाइट के माध्यम से पेयजल कनेक्शन को परिवार पहचान पत्र से लिंक किया जा रहा है। जल एवं स्वच्छता सहायक संगठन की टीम व सक्षम युवाओं द्वारा जिले के सभी गांवों में जाकर सभी पेयजल कनेक्शन परिवार पहचान पत्र से लिंक किए जा रहे हैं। सभी उपभोक्ता अपने-अपने पेयजल कनेक्शन लिंक अवश्य करवाएं। कार्यकारी अभियंता आरएस मलिक ने बताया कि फील्ड से पेयजल कनेक्शन को परिवार पहचान पत्र से लिंक किए जाने को लेकर महेन्द्रगढ़ जिला 10वें स्थान पर है। महेन्द्रगढ़ में अब तक फील्ड से 1 लाख 6 हजार 853 पेयजल कनेक्शनों को परिवार पहचान पत्र से लिंक किया जा चुका है।

जिले के 31 हजार उपभोक्ता लिंक करने शेष

जिला सलाहकार मंगतुराम सरसवा ने बताया कि जिले के सभी 8 खंडों में सक्षम युवाओं की टीमें गठित करके गांव-गांव भेजी जा रही हैं। अभी तक जिले के 31 हजार 256 कनेक्शन परिवार पहचान पत्र से लिंक करने शेष है। जिन्हें जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। पेयजल संबंधित ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्तओं के पेयजल के बिल भी आॅनलाइन भरने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। साथ ही टीमों द्वारा पेयजल को व्यर्थ बहने से रोकने के लिए नलों पर टूंटी लगाने के लिए भी जागरूक किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि बारिश के इस मौसम में सभी उपभोक्ताओं को जल के सुरक्षित भंडारण पर भी विशेष ध्यान देते रहना चाहिए व समय-समय पर पेयजल का जीवाणु परीक्षण व रसायन जांच भी करवाते रहना जरूरी है। पेयजल संबंधित शिकायत निवारण के लिए विभाग ने टॉल फ्री नंबर 18001805678 भी जारी किया हुआ है।

SHARE
RELATED ARTICLES

Most Popular